राज्यसभा में विपक्षी सांसदों ने काटा हंगामा, उपसभापति से कल दुर्व्यवहार करने पर आठ सासंद 7 दिनों के लिए निलंबित

0
35
rajyasabha
.

नई दिल्ली। (फर्स्ट आई ब्यूरो) राज्यसभा में आज विपक्षी सांसदों ने जमकर हंगामा काटा। जिसके बाद सभापति ने कहा कि कल ऊपरी सदन के लिए बहुत बुरा दिन था। बता दें कि उन्होंने हंगामा करने वाले आठ विपक्षी सांसदों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए एक हफ्ते के लिए निलंबित कर दिया गया है। यानी वे एक हफ्ते तक सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।

इन निलंबित सांसदों में डेरेक ओ ब्रायन, संजय सिंह, राजू सातव, केके रागेश, रिपुन बोरा, डोला सेन, सैयद नजीर हुसैन और एलमरन करीम हैं। राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित होने के बाद दोबारा शुरू हो गई है। राज्यसभा में आज आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020, भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी कानून संस्थान (संशोधन) विधेयक, 2020 और बैंकिंग विनियमन (संशोधन) विधेयक, 2020 पेश किए जाएंगे।

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र: भिवंडी में इमारत ढहने से 10 लोगों की मौत, 100 लोगों के फंसे होने की आशंका

आपको बता दें कि इसके पहले राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने रविवार को विपक्ष के हंगामे पर कहा, ‘कल राज्यसभा के लिए बुरा दिन था जब कुछ सदस्य सदन के वेल में आए। कुछ सांसदों ने पेपर भी फेंका। इसके साथ माइक भी तोड़ दिया गया।

साथ ही उपसभापति को धमकी दी गई। बता दें कि उन्हें उनका कर्तव्य निभाने से भी रोका गया। उपसभापति ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय है। मैं सांसदों को सुझाव देता हूं, कृपया कुछ आत्मनिरीक्षण करें। उपसभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नियमों के तहत स्वीकार्य नहीं है।’

राज्यसभा की कार्यवाही एक बार फिर शुरू हुई तो निलंबित होने वाले आठ सांसद सदन में मौजूद रहे। सभापति उन्हें बाहर जाने को कहते रहे। वहीं कार्रवाई से नाराज विपक्षी सांसद सदन में हंगामा करत दिखाई दिए।

ये भी पढ़ें: यहां आज से खुलेंगे स्कूल, सिर्फ इन बच्चों को आने की अनुमति होगी, जानें क्या होंगे नए नियम

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here