तनाव के बीच नॉर्थ कोरिया के सैनिकों ने साउथ कोरियाई नागरिक को समुद्र में गोली मारकर जलाया शव !

0
155
North Korean soldiers shot dead South Korean civilians into the sea
.

वर्ल्ड डेस्क. पिछले कुछ वक्त नॉर्थ कोरिया और साउथ कोरिया (North Korea-South Korea Tension Escalates) के बीच तनाव काफी बढ़ गया है. अब ऐसी जानकारी आई है कि नॉर्थ कोरिया के सैनिकों ने साउथ कोरिया के संदिग्ध डिफेक्टर (South Korean Defector Killed) को गोली मार दी. सोल के एक सैन्य अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि उत्तरी कोरिया के सैनिकों ने घंटों तक समुद्र में उस शख्स से पूछताछ की, फिर गोली मारकर उसका शव कोरोनावायरस से बचाव के तहत जला दिया.

नॉर्थ कोरिया की ओर से किसी साउथ कोरियाई नागरिक की हत्या की ऐसी घटना पिछले दशक में कभी नहीं हुई है. वो भी यह घटना तब हुई है, जब नॉर्थ कोरिया कोरोनावायरस को लेकर हाई-अलर्ट पर है और दोनों देशों के बीच रिश्तों में तल्खी बढ़ी है. साउथ कोरिया के एक सैन्य अधिकारी ने बताया कि जिस शख्स को नॉर्थ कोरिया के सैनिकों ने गोली मारी है, वो मत्स्य विभाग से था, वो सोमवार को योन्पयोंग द्वीप के पश्चिमी सीमा के पास एक गश्ती जहाज से गायब हो गया था.

24 घंटों बाद उसे नॉर्थ कोरियाई सेनिकों को वो अपने जलक्षेत्र में मिला था, जहां उन्होंने एक गश्ती वाले बोट से उससे घंटों पूछताछ की थी. सैन्य अधिकारी ने बताया कि पूछताछ करने वालों ने पीपीई किट पहन रखा था. उसने बताया कि संदिग्ध के पाए जाने के छह घंटों बाद उसे गोली मार दी गई थी. उसके शव पर तेल डालकर फिर जलाकर पानी में फेंक दिया गया था. अधिकारी ने कहा कि ‘हमें लगता है कि उन्होंने कोरोनावायरस के खिलाफ उठाए जा रहे कदमों के तहत ऐसा किया.

अधिकारी ने बताया कि मृतक ने लाइफजैकेट पहना हुआ था और उसके जूते साउथ कोरियाई जहाज पर पाए गए हैं, जिससे संकेत मिलता है कि वो अपनी मर्जी से पानी में उतरा था.

बता दें कि नॉर्थ कोरिया ने कोरोनावायरस से बचने के लिए अपनी सभी सीमाएं बंद कर दी हैं और आपातकाल की घोषणा कर दी है. अधिकारी ने Yonhap न्यूज़ एजेंसी से बिना सूत्रों का खुलासा किए बिना कहा कि ‘हमें इंटेलीजेंस इनपुट मिला है कि उसने पूछताछ के दौरान उसने डिफेक्ट करने का अपना इरादा जाहिर किया था.’

एजेंसी ने अधिकारी के हवाले से यह भी कहा है कि संदिग्ध की हत्या ‘ऊपर अथॉरिटी के आदेश’ से हुई है. साउथ कोरिया के रक्षा मंत्रालय की ओर से एक एक बयान जारी कर इस घटना को ‘अपमानजनक कृत्य’ बताते हुए इसकी निंदा की गई है. इसमें कहा गया है कि ‘हम नॉर्थ कोरिया को कड़ी चेतावनी देते हैं कि इस घटना के साथ इसके परिणाम भी आएंगे’.

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here