अनिल अंबानी ने बयां किया दर्द- इतने पैसे नहीं कि परिवार का खर्च चला सकूं, घर के गहने तक बेचना पड़ रहा है…

0
279
Anil Ambani said the pain not so much money that I can afford to spend the family
.

चीन के बैंकों का कर्ज नहीं चुका पाने के मामले में यूके की कोर्ट में मुकदमे का सामना कर रहे उद्योगपति अनिल अंबानी ने कोर्ट को अपनी संपत्तियों का ब्योरा देते हुए अपनी बुरी आर्थिक हालत के बारे में बताया है। अनिल अंबानी ने यूके की अदालत में कहा कि उनकी माली हालत इतनी खराब हो गई है कि उनका खर्च परिवार के दूसरे लोग उठा रहे हैं। अनिल अंबानी ने कहा कि उनके बारे में यह अफवाह फैलाई जा रही है कि वे शानो-शौकत की जिंदगी बिता रहे हैं। उन्होंने शुक्रवार को यूके की अदालत से कहा कि उऩकी आर्थिक हालत इतनी खराब हो गई है कि वकीलों की फीस भरने के लिए उन्हें गहने तक बेचने पड़ रहे हैं।

अनिल अंबानी ने कोर्ट को बताया कि जनवरी से जून, 2020 के बीच गहने बेचने से 9.9 करोड़ रुपए मिले और अब उनके पास कोई खास संपत्ति नहीं रह गई है। जब उनसे उनकी लग्जरी कारों के बारे में पूछा गया तो अनिल अंबानी ने कहा कि मीडिया इन बातों को फैला रहा है। उनके पास कभी रॉल्स रॉयस कार नहीं नहीं रही। अनिल अंबानी ने यूके की कोर्ट को बताया कि फिलहाल वे अपने लिए सिर्फ एक कार का इस्तेमाल कर रहे हैं।

Anil Ambani said the pain not so much money that I can afford to spend the family

कोर्ट ने संपत्तियों का ब्योरा देने को कहा था
यूके हाईकोर्ट ने 22 मई, 2020 को अनिल अंबानी से कहा था कि वे चीन के तीन बैंकों को 12 जून, 2020 तक 71,69,17,681 डॉलर (करीब 5,281 करोड़ रुपए) कर्ज की रकम और 50,000 पाउंड (करीब 7 करोड़ रुपए) बतौर कानूनी खर्च के रूप में भुगतान करें। फिर 15 जून को इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ चाइना की अगुआई में चीनी बैंकों ने अनिल अंबानी की संपत्तियों का खुलासा करने की मांग की। 29 जून को मास्टर डेविसन ने अंबानी को एफिडेविट के जरिए पूरी दुनिया में फैली अपनी उन संपत्तियों का खुलासा करने का आदेश दिया, जिनकी कीमत 1,00,000 लाख डॉलर से ज्यादा है।

Anil Ambani said the pain not so much money that I can afford to spend the family

अनिल अंबानी ने बताई अपनी हालत
इस आदेश पर कोर्ट को दिए एफिडेविट में अंबानी ने जानकारी दी कि उन्होंने रिलायंस इनोवेंचर्स को 5 अरब रुपए का लोन दिया है। उन्होंने बताया कि रिलायंस इनोवेंचर्स में 1.20 करोड़ इक्विटी शेयर की कोई कीमत नहीं है। अनिल अंबानी ने कोर्ट को बताया कि अपने पारिवारिक ट्रस्ट समेत दुनिया भर के किसी भी ट्रस्ट में उनका कोई आर्थिक हित नहीं है।

आर्ट कलेक्शन तके बारे में क्या कहा 
अनिल अंबानी ने कोर्ट में यह स्वीकार किया कि वे हाल तक भारत के सबसे धनी लोगों में गिने जाते रहे हैं। उनके पास 1,10,000 डॉलर मूल्य की एक कलाकृति है। जब चीनी बैंकों के वकील ने टीना और अनिल अंबानी कलेक्शन की जानकारी देने को कहा, तब अनिल अंबानी ने कहा कि यह मेरे पत्नी का संग्रह है।

रिलांयस इन्फ्रास्ट्क्चर से कुछ नहीं लिया
अनिल अंबानी ने कहा कि उन्होंने 2019-20 में रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर से कोई प्रोफेशनल फीस नहीं ली है। उन्होंने कहा कि जिस तरह के हालात हैं, उनसे नहीं लगता कि इस वर्ष भी कुछ मिलने वाला है।

बेचनी होगी दूसरी संपत्तियां
अनिल अंबानी ने कहा कि वे बहुत कम खर्च में गुजारा कर रहे हैं और उनके पास आमदनी का कोई जरिया नहीं है। उन्होंने कहा कि दूसरे खर्चों के लिए अपनी संपत्तियां बेचने के लिए उन्हें कोर्ट से अनुमति लेनी होगी। जब उनसे उनके निजी हेलिकॉप्टर के बारे में पूछा गया तो अनिल अंबानी ने कहा कि इसके इस्तेमाल पर मैं इसका भुगतान करता हूं।

लग्जरी याट के बारे में क्या कहा

जब अनिल अंबानी से उनके लग्जरी याट के बारे में पूछा गया, जो उन्होंने पत्नी टीना अंबानी को गिफ्ट किया था, तो अनिल अंबानी ने कहा कि वह याट एक कंपनी के नाम पर है। उन्होंने कहा उसका सिर्फ एक बार इस्तेमाल किया है। अनिल अंबानी ने यह भी कहा कि उन्हें समुद्र से डर लगता है, इसलिए वे याट का इस्तेमाल नहीं करते।

विदेशों में शॉपिंग पर किए गए सवाल

कोर्ट में अनिल अंबानी से विदेशों में शॉपिंग करने को लेकर भी सवाल किए गए। उन्होंने लंदन, कैलिफोर्निया, बीजिंग और दूसरी जगहों पर क्रेडिट कार्ड के जरिए शॉपिंग की थी। इस पर अनिल अंबानी ने कहा कि इनमें ज्यादातर शॉपिंग उनकी मां ने की थी। 8 महीने में उनके घर का 60.6 लाख का बिजली बिल आने पर उन्होंने कहा कि बिजली मुहैया कराने वाली कंपनी बहुत महंगी कीमत पर बिजली दे रही है।

सुनवाई के बाद दोनों पक्षों के आए बयान

यूके की कोर्ट में चली इस सुनवाई के बाद अनिल अंबानी के प्रवक्ता ने कहा कि वे हमेशा से सामान्य जिंदगी जीते हैं, लेकिन उनकी लाइफस्टाइल के बारे में तरह-तरह की अफवाहें उड़ती रहती हैं। वहीं, इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ चाइना, एक्सपोर्ट एंड इम्पोर्ट बैंक ऑफ चाइना और चाइना डेवलपमेंट बैंक ने बयान जारी करके कहा कि वे अनिल अंबानी के खिलाफ सभी कानूनी विकल्पों का इस्तेमाल करेंगे।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here