हाथरस कांड- प्रियंका गांधी पर यूपी सरकार का पलटवार- सियासी वजूद बचाने की कोशिश में कांग्रेस…

0
25
Hathras scandal UP government backlash Priyanka Gandhi
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के हाथरस और बलरामपुर में हुई गैंगरेप की घटनाओं के बाद विपक्ष ने एक साथ योगी सरकार पर हल्ला बोल दिया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और बसपा सुप्रीमो मायावती के तीखे हमलों का जवाब देते हुए प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री व प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि मायावती अपना अत्याचार क्यों भूल गई हैं। एसपी-बीएसपी राज में माफिया राज था। हाथरस केस में एसआईटी जांच कर रही है। वहीं कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि प्रियंका-राहुल राजस्थान पर क्यों चुप हैं। हम हाथरस मामले में एफएसएल रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं जिसके बाद सब सामने आ जाएगा। विपक्ष की सियासी वजूद बचाने की कोशिश कर रही है।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा है कि यूपी में आकर कांग्रेस नेता अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकना चाहते हैं। कानून को हाथ में लेकर वो कानून व्यवस्था खराब न करें इसके लिए सरकार ने जिलाधिकारी और जिला प्रशासन को सख्त से सख्त आदेश दिए हुए हैं। उन्होंने कहा, “राजस्थान के अंदर जाने का शौक उनको (कांग्रेस नेता) नहीं पड़ा है। आप वहां जाइए जहां आपकी सरकार है। क्या हो रहा है वहां पर इसका जवाब देंगे प्रियंका गांधी, सोनिया गांधी या शांत बैठे रहेंगे।”

मायावती की सरकार में 1000 दलितों की हत्या हुई

कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का कहना है कि मायावती की सरकार में 1000 दलितों की हत्या हुई है। हाथरस घटना पर राजनीतिक रोटियां सेक रही है। कांग्रेस नेता हाथरस जा रहे हैं, मगर राजस्थान की घटना इनको नहीं दिखती है। खोई हुई राजनीतिक ज़मीन को विपक्ष तलाश रहा है। यूपी में महिलाओं के प्रति अपराध कम हुए हैं। बलात्कार की घटनाओं में गिरावट आई है। यह नहीं कह रहे हैं यह केंद्र सरकार के एनसीआरबी के आंकड़े बता रहे हैं। योगी सरकार में कानून व्यवस्था अच्छी हुई है।

कहा कि हाथरस की घटना की जांच के लिये एसआईटी बनाई गई है। रिपोर्ट आने के बाद दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। हाथरस मामले में सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने तुरन्त कार्रवाई की किसी भी तरीके की अभी लापरवाही नहीं सामने आई है। पीड़ित परिवार के साथ सरकार खड़ी है पूरा मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा।

मायावती ने योगी सरकार पर बोला था तीखा हमला

हाथरस में दुष्कर्म की घटना को लेकर बसपा प्रमुख मायावती ने नेतृत्व परिवर्तन की मांग करते हुए कहा कि योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर मठ भेज देना चाहिए। बसपा प्रमुख ने कहा कि भाजपा संघ से बात कर यूपी में मुख्यमंत्री को बदलकर उन्हें गोरखपुर मठ भेज दे। वह मठ भी न संभाल पाएं तो राम मंदिर बन रहा है, वहां कोई जिम्मेदारी दे दी जाए। हाथरस की घटना के बाद मुझे ऐसा लग रहा था कि शायद यूपी सरकार कुछ एक्शन लेगी। यूपी के मनचले बहन-बेटियों का उत्पीड़न कर रहे हैं, उन पर अंकुश नहीं लग रहा है।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here