बलरामपुर गैंगरेप- पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार और अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी…

0
20
.
बलरामपुर. उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड (Hathras Case) की तर्ज पर ही अब बलरामपुर में गैंगरेप की घटना हुई थी. इस मामले में रविवार को उत्तर प्रदेश के एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार और अपर मुख्य सचिव रविवार को बलरामपुर पहुंचे हैं. अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने बलरामपुर पहुंचकर पीड़िता के परिजनों से मुलाकात की है. हाथरस गैंगरेप मामले में सियासी घमासान के बीच बीजेपी और योगी सरकार अब छवि को डैमेज कंट्रोल में जुटी है. मुलाकात के दौरान डीआईजी, डीएम और एसपी मौजूद है.

इससे पहले शनिवार को परिजनों का आक्रोश बढता देख पुलिस ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट पीड़िता परिवार को सौंप दी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि पीड़िता की मौत अत्यधिक रक्तस्राव और सदमें के कारण हुई है.

रिपोर्ट से यह बात भी साबित होती है कि पीड़िता के साथ बड़ी दरिंदगी की गयी. वहीं मृतका के शरीर पर दस चोट के निशान पाये गये है. यह चोट के निशान शरीर के कई संवेदनशील स्थानों पर मिले है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पीड़िता की छाती, जांघ और कोहनी समेत कई संवेदनशील अंगों पर जख्म के निशान है.

बलरामपुर एसपी देवरंजन वर्मा का कहना है कि पुलिस लगातार पीड़ित परिवार के सम्पर्क में है और उनके द्वारा दी जा रही सूचनाओं पर गम्भीरता से काम भी कर रही है.

एसपी ने बताया कि इस घटना के मद्देनजर चार संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है. घटना गैंसडी कोतवाली क्षेत्र के मझौली गांव की है. बीते 29 सितंबर को पचपेड़वा के एक डिग्री कॉलेज की छात्रा दाखिला के लिये फीस जमा करने गयी थी.

कॉलेज से लौटते समय छात्रा का अपहरण 

इसी दिन शाम करीब 7 बजे अचेत अवस्था में छात्रा को एक रिक्शा चालक उनके घर के पास छोड़कर चला गया. छात्रा को लेकर परिजन अस्पताल जाने लगे, तभी रास्ते में उनकी मौत हो गयी. परिजनों का आरोप है कि कॉलेज से लौटते समय छात्रा का अपहरण किया गया और उसके साथ गैंसडी कस्बे के एक कमरे में गैंगरेप किया गया.

इस घटना के बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी है. पुलिस ने छात्रा के भाई की तहरीर पर दो नामजद युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. गैंसडी बाजार के जिस कमरे में छात्रा के साथ गैंगरेप करने का आरोप लगा है, उस कमरे के बाहर छात्रा के चप्पल मिले हैं. जिस रिक्शे से छात्रा को उनके घर पहुंचाया गया, वह रिक्शा भी उसी घर के सामने मिला है.

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here