आयुष्मान खुराना से पहले वरुण धवन को ऑफर हुई थी अंधाधुन, राधिका आप्टे फिल्म का हिस्सा बनने के लिए बैठीं थी धरने पर…

0
11
.

स्पोर्ट्स डेस्क. 5 अक्टूबर 2018 में रिलीज हुई फिल्म अंधाधुन ने लोगों की खूब सराहना बटोरी थी। आयुष्मान खुराना, राधिका आप्टे और तब्बू स्टारर ये फिल्म साल 2018 में ओवरसीज मार्केट में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी। फिल्म के 2 साल पूरे होने के खास मौके पर फिल्म के प्रोड्यूसर संजय राउत्रे ने इससे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें शेयर की हैं।

फिल्म के बारे में प्रोड्यूसर बताते हैं, ‘हमारी फिल्‍म साल 2018 में ओवरसीज मार्केट में सबसे ज्‍यादा कमाई करने वाली फिल्‍म बनी थी। हमने कलाकारों की फीस वगैरह के साथ इसे 20 करोड़ से भी कम के बजट में बना लिया था। इंडिया में बॉक्‍स ऑफिस पर इसने 72 से 74 करोड़ का कलेक्‍शन किया था। यूरोपीय, गल्‍फ और अमरीकी देशों में ओवरसीज सर्किट से इसने 20 करोड़ का बिजनेस किया था। चाइना में अकेले इसने 340 करोड़ से ज्‍यादा का बॉक्‍स ऑफिस कलेक्शन किया था’।

कॉमेडी फिल्म करते हुए तब्बू ने अपना सीरियस किरदार

‘सबसे पहले तब्‍बू ऑनबोर्ड आईं थीं। वह उन दिनों हैदराबाद में रोहित शेट्टी की ‘गोलमाल अगेन’ की शूटिंग कर रही थीं। वह कॉमेडी फिल्‍म थी। यहां उन्‍हें खूनी का साथ देने वाली औरत का रोल प्‍ले करना था। लिहाजा अलग माइंड स्‍टेट में रहने के बावजूद उन्‍होंने इस फिल्‍म को वहीं साइन किया’।

फिल्म के लिए धरने पर बैठी थीं राधिका आप्टे

राधिका आप्‍टे इससे पहले ‘बदलापुर’ में श्रीराम राघवन के साथ काम कर चुकी थीं। तब से ही उन्‍होंने वचन ले लिया था कि राघवन आगे कुछ भी करेंगे, उन्‍हें उस प्रोजेक्‍ट का हिस्‍सा बनना ही है। ‘अंधाधुन’ के बारे में उन्‍हें पता चला तो वो ऑफिस में आकर धरने पर ही बैठ गईं कि उन्‍हें तो फिल्‍म में लिया ही जाए। राधिका टैलेंटेड तो हैं हीं, साथ ही वह पुणे की हैं। फिल्‍म पुणे के जिस प्रभात नगर इलाके में शूट हुई, उसके पास ही उनका भी मोहल्‍ला है।

वरुण धवन को ऑफर हुई थी फिल्म

आयुष्‍मान से पहले यह फिल्‍म वरुण धवन को गई थी पर डेट्स के मसलों के चलते उनके साथ नहीं हो पाई। आयुष्‍मान को पता चला तो उन्‍होंने राघवन को मैसेज किया था कि वो इस फिल्‍म के लिए ऑडिशन तक देने को राजी हैं। स्‍टार हैसियत होने के बावजूद उनका यह जेस्‍चर काफी सराहनीय था। उन्‍होंने इस फिल्‍म पर अपना खून पसीना भी पूरा दिया। छह महीने लगातार 10 से 12 घंटे अपने किरदार की स्किन में जाने की तैयारी उन्‍होंने की।

फिल्म के लिए आयुष्मान ने ली 6 महीने ट्रेनिंग

आयुष्‍मान ने वैसे तो नौ महीने का शेड्यूल बनाया था, मगर छह महीने उन्‍होंने शिद्दत से इस पर दिए। साइन लैंग्‍वेज सीखी। बिना देखे किचन, ड्राइंगरूम में कौन सामान कहां रखा है, उसकी काफी तैयारी की। वो खुद म्‍युजिशन भी हैं तो उन्‍होंने पियानो बजाने पर भी काफी टाइम दिया। अमित त्रिवेदी के नोट्स पहले आ जाते थे। उन पर आयुष्‍मान रियाज करते थे ताकि सुर मिसमैच न हों। ऐसा इसलिए कि यदि जानकार आदमी उन्‍हें स्‍क्रीन पर देखे तो ऐसा न लगे कि नोट्स तो कुछ और है, मगर यह बंदा बजा कुछ और रहा है।

50 लाख में खरीदे थे शॉर्ट फिल्म के राइट्स

श्रीराम राघवन को फ्रेंच की एक शॉर्ट फिल्‍म से इसका आइडिया आया था। उसके बाद उन्‍होंने उस पर ‘अंधाधुन’ की अलग दुनिया रची। कहानी, किरदार, पटकथा, पृष्‍ठभूमि सब अलग थे, उसके बावजूद राघवन ने उस फ्रेंच शॉर्ट फिल्‍म के प्रोड्यूसर से 50 लाख रुपए में राइट्स लिए। बाद में उन्‍होंने यह फिल्‍म बनाई। हमारे स्‍टूडियो तक ने उनसे कहा था कि इसकी जरूरत नहीं थी। मगर राघवन ने कहा कि चूंकि उन्‍हें इसका आयडिया उस फ्रेंच शॉर्ट फिल्‍म से आया है, इसलिए उनका जमीर बगैर उसके राइट्स लिए फिल्‍म बनाने की इजाजत नहीं दे रहा।

क्रू मेंबर्स ने भी करवाई राघवन ने एक्टिंग

राघवन अपनी हर फिल्‍म अलग अलग सीन में ‘बिहाइंड द सीन’ रहने वाले लोगों की टीम से किसी न किसी से एक्टिंग करवाते रहे हैं। ऐसे में इस फिल्म में भी असिस्टेंट डायरेक्टर, मेकअप आर्टिस्ट, एसोसिएट डायरेक्टर और लेखकों को भी फिल्म के कई सीन में दिखाया गया है। डायरेक्टर बताते हैं, हमने आखिरी के सीन पोलैंड में शूट किए। वह इसलिए कि हमें ओल्‍ड वर्ल्‍ड चार्म चाहिए था। साथ ही वहां का लाइन प्रोड्यूसर हमारा जानने वाला था।

 

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here