समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री बोले- यूपी में न लॉ बचा, न ऑर्डर, अपराध का नाम विकास रख दे योगी सरकार

0
64
.

लखनऊ। पूर्व कैबिनेट मंत्री और सपा के राष्ट्रीय सचिव अभिषेक मिश्रा ने योगी सरकार पर निशाने साधे हैं। यूपी के 20 जिलों की 116 विधानसभाओं में घूमने के बाद रविवार को ताजनगरी आगरा में मिश्रा मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा- यूपी में न लॉ बचा, न आर्डर। योगी सरकार को अपराध का नाम ही विकास रख देना चाहिए। इस दौरान उन्होंने ब्राह्मण समाज के 100 लोगों को सपा की सदस्यता भी दिलाई।

अखिलेश यादव के सिर्फ ट्विटर पर राजनीति करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है। अखिलेश कोरोना काल में निकले हैं और पुलिस ने उन्हें अरेस्ट भी किया था। अब हमारा कार्यकर्ता और हम हर बूथ तक जाएंगे और इस सरकार को उखाड़ फेंकेंगे। केंद्र और प्रदेश सरकार ने कोरोना के संकट के समय सही काम नहीं किया और उसके चलते आज पूरा देश परेशान है।

हाथरस कांड पर सरकार को घेरा

अभिषेक मिश्रा ने हाथरस कांड पर बोलते हुए कहा कि जनता यह जवाब चाहती है कि आखिर लखनऊ या स्थानीय स्तर पर वो कौन लोग बैठे थे, जो आरोपियों को बचा रहे थे और सात दिन तक पीड़िता की रिपोर्ट दर्ज नहीं कि गई। चौदह दिन तक उसे दिल्ली इलाज के लिए नहीं भेजा गया। मीडिया को वहां जाने से क्यों रोका गया।

कानून व्यवस्था के साथ खेला ब्राह्मण कार्ड

अभिषेक मिश्रा और प्रदीप तिवारी दोनों ही ब्राह्मण हैं। उन्होंने मीडिया से बातचीत में भी ब्राह्मण कार्ड खेलने का पूरा प्रयास किया। प्रेस वार्ता के दौरान टोपी से ज्यादा तिलक धारी नजर आए और साथ ही बातचीत में राजस्थान में पुजारी की हत्या, यूपी में कानपुर, इलाहाबाद, लखीमपुर आदि जगहों पर ब्राह्मणों के साथ हुई घटनाओं को बिना ब्राह्मण शब्द इस्तेमाल किए चर्चा में शामिल किया और साथ ही आगरा के रेणुका धाम में संतों के गौवंशों की देखभाल न होने के आरोप की चर्चा करते हुए सरकार के गो प्रेम को दिखावा बताया और सड़कों पर गोवंशों के घूमने की बात कही।

पूरी तरह चुनावी दिखा दौरा

अभिषेक मिश्रा ने मीडिया से बातचीत में बेरोजगार युवा, सरकारी कर्मचारी, पुलिस, व्यापारी और प्राइवेट नौकरी करने वालों तक कि दुखती रग को अभिषेक मिश्रा ने मीडिया के सामने रखा और 50 से अधिक उम्र में जबरन रिटायरमेंट, शारीरिक अक्षमता पर पुलिसकर्मियों के रिटायरमेंट का विरोध करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को रोजगार बढ़ाने के प्रयास करने की अपील की और कहा कि मीडिया के कहने पर अपील कर रहे हैं और उन्हें मालूम है कि सरकार से यह हो नहीं पायेगा।

माहौल बिगाड़ने के लिए विदेशी फंडिंग पर सरकार को घेरा

अभिषेक मिश्रा ने योगी सरकार द्वारा प्रदेश का माहौल बिगाड़ने के लिए विदेशी फंडिंग के आरोप पर कहा कि इस आरोप में प्रदेश सरकार अपनी केंद्र सरकार और उसके गृहमंत्री पर आरोप लगा रही है।विदेश से पैसा कैसे और किसलिए आया इसकी जिम्मेदारी केंद्र सरककर की है और जब योगी सरकार उनपर आरोप लगा रही है तो हमारा कहना है कि इस मामले की सही जांच होनी चाहिए और दोषियों पर कार्यवाही की जानी चाहिए।

बसपा से नहीं, रालोद से रहेगा गठबंधन

चुनाव में अकेले या गठबंधन के बारे में बातचीत पर बसपा के सवाल पर उन्होंने साफ इंकार कर दिया पर रालोद की चर्चा करते हुए कहा कि अभी हमने बुलंदशहर की सीट रालोद के लिए छोड़ी है और आगे चुनाव के समय किसी भी पार्टी से गठबंधन हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष और दूसरे दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष से बातचीत के आधार पर होगा।

 

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here