कोरोना पॉजिटिव होने पर रितु शिवपुरी नहीं बनीं कैकेयी, दूसरे कलाकारों ने रामलीला करने को माना सौभाग्य

0
125
.

 

Desk news,अयोध्या में रामलीला चल रही है। इस साल रामलीला अलग ढंग से हो रही है। कोरोना काल को देखते हुए इस बार दर्शक नहीं हैं। फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कई कलाकार रामलीला में शामिल हुए हैं जिनमें रज़ा मुराद, शाहबाज़ खान, असरानी, राकेश बेदी, सुरेंद्र पाल हैं। रामलीला को रिकॉर्ड करके दूरदर्शन पर लाइव टेलीकास्ट किया जा रहा हैं। एक्ट्रेस रितु शिवपुरी ने भी कैकेयी का किरदार निभाने के लिए हामी भर दी थी लेकिन उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद, वे रामलीला से बाहर हो गईं। रितु शिवपुरी ने कहा- मेरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने की वजह से मैं इस साल अयोध्या में होने वाले रामलीला में शामिल नहीं हो पाउंगी। मैं सेल्फ-क्वारैंटाइन हूं। मेरी तबियत में काफी सुधार है हालांकि इस वक्त मैं ट्रेवल नहीं कर सकती। इसलिए इस बार मौका छूट गया है।

 कितनी स्पेशल होगी इस बार अयोध्या की रामलीला।

रज़ा मुराद (अहिरावण) – अहिरावण का रोल मैं दिल से निभाना चाहता था। दिल से मांगा और मुझे मिल गया। मैं पिछले 9 साल से रामलीला से जुड़ा हुआ हूं। हर बार दिल्ली में हिस्सा हुआ करता था। राजा जनक से लेकर कुंभकरण तक मैंने कई रोल किए हैं। इस बार भगवान की जन्मभूमि में रामलीला करने का मौका मिला है, खुशनसीब हूं। फ़िलहाल मैं मुंबई में ही अपने किरदार की तैयारी में जुटा हुआ हूं। मेरा पार्ट 25 अक्टूबर को शूट होगा।

शाहबाज़ खान (रावण) – रामलीला में रावण मेरा सबसे फेवरेट किरदार है। इससे पहले भी मैं दिल्ली की रामलीला में रावण का किरदार निभा चुका हूं। बतौर एक्टर, रावण का किरदार बहुत ही चैलेंजिंग होता है। मैं पहले दिन से परफॉर्म कर रहा हूं। फर्क बस इतना है कि कोई ऑडियंस नहीं है। ये कमी तो खल रही है लेकिन खुशी है कि पूरा देश एक साथ लाइव देख रहा है। हमारे आसपास 30 से ज्यादा लोग मौजूद नहीं होते। हम कम लोगों के बीच में ही हम रामलीला रचा रहे हैं।

राकेश बेदी (विभीषण) – राम मंदिर बनने की शुरुआत से देश में खुशी की लहर है। वहीं रामलीला करने मिली है इससे ज्यादा खुशी की बात क्या हो सकती है। आज तक रामलीला इतने बड़े स्तर तक कभी नहीं देखा गया, दर्शक मैदान में आकर रामलीला देखते थे, पहली बार इसे लाइव टीवी पर देखेंगे। कई देश में, ये हमारे लिए गर्व की बात है। फ़िलहाल मैं मुंबई में ही विभीषण के किरदार की तैयारी कर रहा हूं। प्लानिंग के मुताबिक मुझे रामलीला के आखिरी के 3 दिन अयोध्या जाना होगा।

सुरेंद्र पाल (मेघनाथ) – 5 साल पहले मैंने दिल्ली में रावण का रोल निभाया था। उससे पहले मैंने परशुराम का किरदार निभाया था। रामलीला मेरे दिल के बहुत करीब होती है। मैं भगवान राम का बहुत बड़ा भक्त हूं और इसीलिए लीला से जुड़ने को अपने आपको सौभाग्य मानता हूं। इन 9 दिनों में मुझे 2 दिन अयोध्या में जाना है और परफॉर्म करना हैं। यूं तो कई बार रामलीला का हिस्सा रह चुका हूं, लेकिन अयोध्या में परफॉर्म करने के लिए काफी उत्साहित हूं।

विंदु दारा सिंह (हनुमान) – मुझे बहुत खुशी है की अयोध्या का मामला सुलझ गया। कई साल से इस शहर का विकास नहीं हुआ था, अब ज़रूर होगा। अयोध्या में रामलीला करना एक सपना जैसा था जो कि अब पूरा हो गया है। कुछ दिनों पहले हम मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी को निमंत्रण देने गए थे इसमें शामिल होने के लिए। दिल्ली के लाल किला मैदान में आयोजित रामलीला में कई बार हनुमान बन चुका हूं, अयोध्या में भी हनुमान बनकर ही लौटा हूं।

 

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here