शोएब अख्तर बोले- कोहली की गैरमौजूदगी में भारत की राह मुश्किल, हम भी कर रहे बेसब्री से इंतजार

0
90
.

स्पोर्ट्स डेस्क। भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज ऐसा मुकाबला होगा, जिस पर पूरे क्रिकेट जगत की निगाहें रहेंगी. दोनों ही टीमें धुर विरोधी हैं. भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड टेस्ट मैच खेलने वाले टॉप देश हैं. ऑस्ट्रेलियन परिस्थितियों में कौन बेहतर साबित होगा यह देखना दिलचस्प होगा. ऑस्ट्रेलिया दो साल पहले टेस्ट सीरीज की हार का बदला लेना चाहेगा. भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पहले टेस्ट के बाद स्वदेश लौट आएंगे. वे अपना पहले बच्चे के जन्म की वजह से पत्नी अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) के पास रहना चाहेंगे. कोहली की अनुपस्थिति में भारतीय टीम के लिए मुश्किल स्थितियां होंगी. ऐसे में पाकिस्तान के पूर्व पेसर शोएब अख्तर (Shoaib Akhtr) ने कहा कि मेरी राय में, भारत में दोबारा जीतने की क्षमता है, लेकिन यदि भारत का मध्यक्रम परफॉर्म नहीं कर पाता तो टीम को संघर्ष करना पड़ेगा. लोग इस सीरीज का इंतजार कर रहे हैं. मेरी भी इस सीरीज में गहरी रुचि है.

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच एडिलेड में खेला जाएगा. यह डे-नाइट टेस्ट होगा, जो पिंक बॉल से खेला जाएगा. शोएब अख्तर ने कहा, ”दिन रात के टेस्ट मैच सबसे मुश्किल होते हैं. यदि भारत इन परिस्थितियों में अच्छा खेलता है तो अच्छा है. पहले टेस्ट की पहली दो-तीन पारियां बताएंगी कि टेस्ट कहां जा रहा है. आप उछाल लेती गेंद पर ड्राइव नहीं कर सकते और शरीर के करीब शॉट खेलने होंगे.

शोएब अख्तर ने कहा, ”विदेशी पिचों पर शुरू की दो-तीन पारियां बता देंगी कि सीरीज कहां जा रही है.” भारत ने दो साल पहले ऑस्ट्रेलिया में पहली बार सीरीज जीती थी, लेकिन कोहली की गैरमौजूदगी में इस बार भारत की राह और मुश्किल होगी जबकि डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ की वापसी से ऑस्ट्रेलिया की टीम मजबूत है. उन्होंने कहा, ”दिन-रात्रि टेस्ट उनकी सबसे बड़ी चुनौती होगी. अगर भारत इन हालात में अच्छा खेलता है तो फिर कुछ भी हो सकता है. बेहतर गेंदबाजी के साथ भारत सभी विभाग में अच्छा है और अंतिम तीन टेस्ट में कोहली की जगह लोकेश राहुल लेगा.”पाकिस्तान की ओर से 46 टेस्ट और 163 वनडे खेलने वाले अख्तर ने कहा, ”यह देखना रोमांचक होगा कि पिचें कैसी होंगी. यह तय है कि आस्ट्रेलिया भारत पर कड़ा प्रहार करेगा और गेंद को ड्राइव करना आसान नहीं होगा.” बता दें कि अजिंक्य रहाणे को टेस्ट टीम का उप कप्तान बनाया गया है, लेकिन अख्तर को लगता है कि एडीलेड ओवल में पहले टेस्ट के बाद रोहित को कप्तानी की जिम्मदेरी सौंपी जाएगी. भारतीय कप्तान कोहली पहले टेस्ट बाद अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए स्वदेश लौट जाएंगे.

कोहली की गैरमौजूदगी में भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी के बारे में पूछने पर अख्तर ने पीटीआई से कहा, ”इस पर मेरा रुख बेहद साफ है. जितना मुझे पता है तो विराट टीम को आगे ले जाने के लिए बेताब है. यह इस पर निर्भर करता है कि वह कितनी थकान महसूस कर रहा है. वह 2010 से लगातार खेल रहा है, उसने 70 शतक और ढेरों कर बनाए हैं.”

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here