लखनऊ: भाई का आरोप- एकतरफा प्यार में बहन को फोन-मैसेज करके प्रताड़ित करता था जितेंद्र, कमरे में भी पहुंच जाता था, इससे त्रस्त होकर बहन ने आत्महत्या की

0
63
.

क्राइम डेस्क। मोहनलालगंज के मऊ मुहल्ले में स्थित हॉस्टल के कमरे में पीआरवी (पुलिस रिपोर्टिंग व्हीकल) पर तैनात 24 वर्षीय सिपाही उर्मिला की आत्महत्या के मामले में पुलिस ने होमगार्ड जितेंद्र कुमार शर्मा पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने होमगार्ड को गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया।

इंस्पेक्टर मोहनलालगंज डीएन मिश्रा ने बताया कि अयोध्या के तारुन नागपाली निवासी उर्मिला के भाई दिलीप वर्मा की तहरीर पर होमगार्ड जितेंद्र शर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

जितेंद्र निगोहां थाने में तैनात था। दिलीप का आरोप है कि जितेंद्र की मुलाकात करीब एक साल पहले उर्मिला से मोहनलालगंज थाने में तैनाती के दौरान हुई थी। तब से वह बहन को परेशान कर रहा था। वह बहन से एकतरफा प्यार करता था। उसे मैसेज और फोन करके परेशान और प्रताडि़त करता था। वह बहन के कमरे पर भी पहुंच जाता था। बहन जितेंद्र की हरकतों से बेहद परेशान थी। कई बार बहन ने यह बात मुझे भी बताई। विरोध किया तो जितेंद्र ने धमकी भी दी थी। जितेंद्र से त्रस्त होकर बहन ने आत्महत्या की है। इंस्पेक्टर ने बताया कि तहरीर के आधार पर ही मुकदमा दर्ज किया गया है।

देर रात झाडिय़ों में मिला मोबाइल

पुलिस ने देर रात हॉस्टल के पास स्थित झाडिय़ों में तलाशी के दौरान उर्मिला का मोबाइल बरामद कर लिया है। पुलिस ने मोबाइल को कब्जे में ले लिया है। मोबाइल पैटर्न लॉक है। इस लिए उसे एक्सपर्ट के पास भेजा गया है। पुलिस वाट्सएप मैसेज आदि की जांच करेगी।

आपको बता दें, मोहनलालगंज कोतवाली की पीआरवी (पुलिस रिपोर्टिंग व्हीकल) में तैनात महिला सिपाही उर्मिला वर्मा (24) ने रविवार रात फांसी लगा ली। वह कस्बे के मऊ इलाके में एक हॉस्टल में रहती थीं। हॉस्टल के कमरे में ही पंखे से दुपट्टे के सहारे फंदे पर शव लटका मिला। सूचना पर पहुंचे पुलिस अधिकारी उर्मिला के आत्महत्या के कारणों की पड़ताल कर रहे हैं।

इंस्पेक्टर मोहनलालगंज ने बताया कि उर्मिला मूल रूप से अयोध्या जिले की रहने वाली थीं। रात 10 बजे से उनकी ड्यूटी थी। वह ड्यूटी पर भी नहीं पहुंची थीं। इस बीच उनका कोई परिचित हॉस्टल पहुंचा। कमरे का दरवाजा अंदर से बंद होने पर काफी देर तक खटखटाता रहा। कोई उत्तर न मिलने पर उसने पड़ोस में रह रहीं एक महिला दारोगा को बताया। महिला दारोगा ने कमरे के दूसरे दरवाजे से अंदर देखा तो कमरे में पंखे से दुपट्टे के सहारे उर्मिला का शव लटका देख सन्न रह गईं।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here