Corona Vaccine देने के लिए महाराष्ट्र सरकार की तैयारी पूरी, राज्य के 350 केंद्रों पर दी जाएगी वैक्सीन

0
66
.

मुंबई. देश में कोरोना वैक्सीन को पहुंचाने का काम शुरू हो चुका है। इसी कड़ी में महाराष्ट्र में भी तकरीबन पचास प्रतिशत कोरोना वैक्सीन दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि अभी 50% और वैक्सीन की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अब तक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 9 लाख 63 हज़ार डोज़ मिले हैं। जबकि भारत बॉयोटेक से 20 हज़ार डोज़ मिले हैं। इस प्रकार अब तक 55 फीसदी डोज़ आ चुके हैं। जबकि अभी साढ़े 17 लाख डोज़ की जरूरत है।

ऐसे दी जाएगी वैक्सीन

टोपे ने बताया कि कोरोना वैक्सीन को 4 से 6 सप्ताह के अंतराल पर दो बार दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि राज्य में 8 सेंटर्स बनाए गए हैं। इन 8 जगहों पर वैक्सीन को भेजा जा रहा है। महाराष्ट्र के अकोला, नागपुर, नासिक, ठाणे, औरंगाबाद, मुंबई, पुणे, लातूर जैसे शहरों में वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं। आगामी 15 तारीख की शाम तक सभी जगह वैक्सीन पहुंच जाएगी।

पीएम करेंगे शुभारंभ

16 जनवरी को पीएम मोदी वैक्सिनेशन का ऑनलाइन शुभारंभ करेंगे। मुंबई के कूपर हॉस्पिटल और जालना सेंटर पर पीएम ऑनलाइन बातचीत भी करेंगे। राज्य के डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल, सब डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल, ग्रामीण अस्पतालों में डोज दिए जाएंगे। करीबन 8 लाख स्वास्थ्य कर्मचारियों ने वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन किया है। आठ लाख कर्मचारियों को 2 बार डोज देनी होगी, जो 16 लाख होगी। जबकि10 फीसदी वेस्टेज हो जाता है। इस तरह कुल साढ़े 17 लाख डोज की जरूरत है।

350 सेंटर्स पर दी जाएगी वैक्सीन

टोपे ने बताया कि फिलहाल 511 की जगह 350 सेंटर्स पर वैक्सीन दी जाएगी। सौ लोगों को एक सेंटर पर वैक्सीन दी जाएगी। इस तरह पहले दिन 35 हजार लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य होगा। यह वैक्सीन बिल्कुल सुरक्षित है। हेल्थ कर्मचारी के बाद फ्रंट लाइन कर्मचारियों को दूसरे चरण में वैक्सीन दी जाएगी।

महाराष्ट्र को कम वैक्सीन मिली

टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र को कम वैक्सीन मिली है पर हमें विश्वास है कि फिर से राज्य को वैक्सीन मिलेगी। क्योंकि दो डोज मिलाकर जरूरत साढ़े 17 लाख की है। क्रिटिकल पेशंट को प्रायरिटी पर वैक्सीन देने के लिए सरकार विचार करेगी। वैस्किन लेने के बाद थोड़ा, सूजन, चक्कर आना इस तरह की शिकायतें हो सकती हैं।

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here