IND vs AUS: कोहली-रहाणे की कप्तानी की तुलना पर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान बोले- इस कैप्टन के साथ खिलाड़ी ज्यादा कंफर्टेबल हैं…

0
42
.

स्पोर्ट्स डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान दिलीप वेंगसरकर (Dilip Vengsarkar) ने विराट कोहली (Virat Kohli) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. वेंगसरकर का यह बयान ऑस्ट्रेलिया में अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में मेलबर्न में मिली जीत और सिडनी टेस्ट ड्रॉ करवाने के बाद आया है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia) एडिलेड टेस्ट भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में खेला था, जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने 8 विकेट से जीत दर्ज की थी. इसके बाद विराट पैटरनिटी लीव पर स्वदेश लौट गए थे. मेलबर्न टेस्ट से कप्तानी अजिंक्य रहाणे के हाथों में आ गई. रहाणे की कप्तानी में शानदार वापसी करते हुए भारत ने मेलबर्न टेस्ट में 8 विकेट से जीत हासिल की थी. इसके बाद सिडनी में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के जबड़े से जीत छीनते हुए टेस्ट को ड्रॉ करवा दिया था.

भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में टीम इंडिया ने तीन मैच जीते हैं और एक ड्रॉ करवाया है. ऑस्ट्रेलिया में खेली जा रही बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border Gavaskar Trophy) के तीसरे मैच में भारत ने चार सेशन तक बल्लेबाजी की और हार को टालने के लिए तकरीबन 131 ओवर खेले. सिडनी टेस्ट (SCG) ड्रॉ होने का मतलब है कि बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी जीतने के लिए ऑस्ट्रेलिया को ब्रिस्बेन के गाबा (Gabba Test) में खेले जाने वाले चौथे और अंतिम टेस्ट को जीतना होगा. अगर ऑस्ट्रेलिया चौथा टेस्ट नहीं जीत पाता तो भारतीय टीम यह ट्रॉफी अपने पास ही रखेगी, जो उन्होंने दो साल पहले जीती थी.

‘रहाणे की कप्तानी में निखर रही टीम इंडिया’

ऑस्ट्रेलिया में अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में भारत को मिल रही सफलता के बाद पूर्व भारतीय खिलाड़ी दिलीप वेंगसरकर ने कार्यवाहक कप्तान की जमकर तारीफ की है. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ”अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में टीम इंडिया निखर रही है. एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया महज 36 रन पर सिमट गई थी और मैच हार गई थी, लेकिन रहाणे ने एडिलेड हार के बाद जिस तरह टीम की कप्तानी की वह काबिले-तारीफ है. अजिंक्य ने जबर्दस्त किरदार दिखाया है.”

‘विराट की तुलना में रहाणे के साथ सहज हैं खिलाड़ी’

64 वर्षीय खिलाड़ी का कहना है कि खिलाड़ी नियमित कप्तान विराट कोहली की तुलना में रहाणे की कप्तानी में अधिक सहज हैं और उन्हें अतिरिक्त स्वतंत्रता दी जाती है. वेंगसरकर बताते हैं कि सिर्फ वरिष्ठ खिलाड़ी ही नहीं, बल्कि युवा खिलाड़ी जैसे शुभमन गिल, नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज ने भी दबाव में शानदार परफॉर्म किया.

‘अजिंक्य रहाणे खिलाड़ियों को आजादी देते हैं’

वेंगसरकर ने कहा, ”रहाणे के नेतृत्व में खिलाड़ी अधिक सहज हैं. वह खिलाड़ियों को आजादी देते हैं. आजादी सबसे अहम चीज है, जिसे रहाणे ने टीम को दिया है. सिर्फ अश्विन और जडेजा ही नहीं, युवा खिलाड़ी जैसे सिराज, सैनी और गिल ने भी सीरीज में प्रभावित किया है. विराट कोहली की गैरमौजूदगी में अजिंक्य रहाणे ने शानदार काम किया है.

ब्रैड हैडिन ने की रहाणे की रणनीति की तारीफ

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर ब्रैड हैडिन ने तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में ऋषभ पंत को बल्लेबाजी के लिए पहले भेजने की रणनीति को ‘शानदार’ करार देते हुए भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे की तरीफ की. हैडिन ने ‘सेन रेडियो’ पर कहा, ”भारतीय टीम जैसा खेली उससे वे मैच को सिर्फ ड्रॉ करा सकते थे, लेकिन पंत को लेकर रहाणे की रणनीति शानदार रही.”

उन्होंने कहा, ”अगर आप इस पर गौर करेंगे तो रहाणे ने पंत को मैच को आगे बढ़ने के लिए भेजा था और पंत ने वही काम किया.” उन्होंने कहा, ”पंत ने दिलेरी से बल्लेबाजी की और कप्तान के तौर पर टिम पेन को कुछ ऐसे फैसले लेने पर मजबूर किया जो मुझे लगता है कि रणनीतिक तौर पर गलत थे.” उन्होंने कहा, ”कप्तान के तौर पर रहाणे ने अभी तक एक भी मैच नहीं गंवाया है, वह बहुत बहादुर है कि उन्होंने एक मौका लिया. मुझे लगता है कि वह लक्ष्य काफी बड़ा था, लेकिन फिर भी रहाणे ने एक मौका लिया.
Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here