US: उप-राष्ट्रपति माइक पेंस ने डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ 25वें संशोधन को किया खारिज…

0
48
.

वॉशिंगटन. अमेरिका के उप-राष्ट्रपति माइक पेंस (Mike Pence) ने मंगलवार को सदन के नेताओं से कहा कि वह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को हटाने के लिए 25वें संशोधन की प्रक्रिया का समर्थन नहीं करते हैं लेकिन राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग प्रक्रिया में वोट देने की गारंटी देते हैं. पेंस ने इस मामले में स्पीकर नैंसी पलोसी (Nancy Pelosi) को चिट्ठी लिखकर राष्ट्रपति के खिलाफ 25वें संशोधन का इस्तेमाल करने से मना किया है. दूसरी ओर ट्रंप ने कहा कि 25वां संशोधन उनके लिए कोई खतरा नहीं है.

माइक पेंस ने नैंसी पलोसी को भेजे पत्र में लिखा, ‘राष्ट्रपति के कार्यकाल में सिर्फ 8 दिन बचे हैं, आप और डेमोक्रेटिक दल ये मांग कर रहे हैं कि मंत्रिमंडल और मैं 25वां संशोधन लागू करें. मैं नहीं मानता कि इस तरह की कार्रवाई हमारे राष्ट्र के हित में है या हमारे संविधान के अनुरूप है.’ डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ वोटिंग से कुछ घंटे पहले पेंस ने स्पीकर को यह चिट्ठी लिखी है.

बता दें कि कैपिटल हिल्स बिल्डिंग (अमेरिका का संसद भवन) पर बीते हफ्ते हुए हिंसक हमले के मद्देनजर अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर डेमोक्रेटिक नेताओं के नियंत्रण वाली अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में आज (बुधवार) वोटिंग होगी. अमेरिकी सांसदों डेविड सिसिलिने, जैमी रस्किन और टेड लियू ने महाभियोग का प्रस्ताव तैयार किया है, जिसे प्रतिनिधि सभा के 211 सदस्यों ने सह-प्रायोजित किया. इसे सोमवार को पेश किया गया था.

सदन में बहुमत के नेता स्टेनी होयर ने सोमवार को अपने पार्टी सहकर्मियों के साथ कॉन्फ्रेंस कॉल के दौरान जानकारी दी कि ट्रंप के खिलाफ महाभियोग को लेकर मतदान बुधवार को होगा. इस महाभियोग प्रस्ताव में निर्वतमान राष्ट्रपति पर अपने कृत्यों के जरिए 6 जनवरी को राजद्रोह के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है. इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई थी. डेमोक्रेटिक सांसदों के पास ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पारित करने के लिए प्रतिनिधि सभा में पर्याप्त मत है, लेकिन सीनेट में रिपब्लिकन नेताओं के पास 50 के मुकाबले 51 का मामूली अंतर से बहुमत है.

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here