Maharashtra: शरद पवार से मिले धनंजय मुंडे, इस्तीफे की पेशकश की, बीजेपी महिला मोर्चा सड़क पर उतरेगी…

0
58
.

मुंबई. महाराष्ट्र के सामाजिक न्यायमंत्री धनंजय मुंडे चौतरफा घिरते जा रहे हैं, हालांकि पार्टी प्रमुख शरद पवार ने उन्हें इस्तीफा देने से मना किया है। दूसरी ओर भाजपा ने सवाल उठाया है कि आखिर सामाजिक न्यायमंत्री एक महिला के साथ कैसे न्याय करेंगे? पहले मुंडे को मंत्री पद से इस्तीफा देना चाहिए। इसके अलावा भाजपा युवा मोर्चा ने राज्यभर में आंदोलन की चेतावनी दी है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने कहा कि मुंडे ने जो गलत कृत्य किया है, उसके लिए उन्हें मंत्री पद से तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। उन्हें मंत्री पद पर रहने का कोई अधिकार नहीं है, क्योंकि उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है। साथ ही पाटील ने कहा कि उन्हें ऐसा नहीं लगता कि महाविकास आघाडी सरकार आत्म परीक्षण कर इस्तीफा लेगी, लेकिन हम इस्तीफे की अपनी मांग जारी रखेंगे।

महिला मोर्चा उतरेंगी मैदान में

भाजपा महिला मोर्चा मुंडे के खिलाफ मैदान में उतरने जा रही है। प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर मंत्री पद से मुंडे को तत्काल हटाने की मांग की है। उपाध्यक्ष चित्रा वाघ ने मामले की निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए कहा कि जब तक मामले की पूरी तरह से जांच नहीं हो जाती, तब तक मुंडे को मंत्रिमंडल में नहीं रहना चाहिए। वहीं, भाजपा युवा मोर्चा प्रदेश के अध्यक्ष विक्रांत पाटील ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर मुख्यमंत्री ठाकरे ने मुंडे का इस्तीफा नहीं लिया, तो सरकार और धनंजय मुंडे के विरोध में युवा मोर्चा पूरे राज्य में आंदोलन करेगी।

मुंडे के खिलाफ चुनाव आयोग जाएगी भाजपा

मुंडे मामले को लेकर भाजपा नेता किरीट सौमैया चुनाव आयोग जाएंगे, क्योंकि मुंडे ने अपने चुनावी हलफनामें में दूसरी पत्नी, उसकी संपत्ति और बच्चों से जुड़ी जानकारी छिपाई है। सोमैया ने अपनी शिकायत में कहा है कि बलात्कार के आरोप लगने के बाद मुंडे ने सोशल मीडिया पर जो सफाई दी है, उसमें कहा है कि उन्होंने अपनी दोनों पत्नियों के नाम संपत्ति खरीदी है और दोनों पत्नियों से पैदा हुए बच्चों को अपना नाम दिया है, लेकिन 2019 के विधानसभा चुनावों से पहले दिए चुनावी हलफनामे में मुंडे ने अपनी दो पत्नियों, सभी बच्चों और उनके नाम पर जो संपत्तियां हैं, उनकी जानकारी नहीं दी है, इसलिए इस मामले की जांच कर मुंडे के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।

शरद पवार को समझाया मामला

आरोपों से घिरे सामाजिक न्याय मंत्री मुंडे ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार के घर का दरवाजा खटखटाया है। बुधवार की सुबह मुंडे ने पवार के घर जाकर पूरे मामले की विस्तृत जानकारी दी और पार्टी प्रमुख के सामने इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन पवार ने स्वीकार नहीं किया।

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here