Maharashtra: ED की पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे और उनकी बेटी से पूछताछ, भूमि सौदे मामले में भेजा था समन

0
61
.

मुंबई. प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शुक्रवार को एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे से लंबी पूछताछ की। पुणे में एक भूमि सौदे के सिलसिले में बयान दर्ज करवाने के लिए ईडी ने उन्हें समन भेजा था। खडसे अपनी बेटी के साथ सुबह करीब 11 बजे ईडी दफ्तर आए। शाम साढ़े 5 बजे वह यहां से निकले।

ईडी का आरोप है कि पुणे शहर के करीब भोसरी इलाके में उन्होंने एक जमीन दो लाख रुपये में खरीदी और उसे फिर सात करोड़ रुपये में बेची। बाद में उन्होंने यह रुपये परिवार से जुड़े कई फर्मों में ट्रांसफर किए, लेकिन खडसे हमेशा से अपने ऊपर लगे आरोपों को राजनीति से प्रेरित बताते रहे हैं।

‘एजेंसी के साथ पूरा सहयोग करेंगे’

इसके बाद एकनाथ खडसे की बेटी शारदा चौधरी भी बयान दर्ज कराने ईडी दफ्तर पहुंचीं। ईडी कार्यालय रवाना होने के पहले अपने घर के बाहर खडसे ने कहा कि वह एजेंसी के साथ सहयोग करेंगे। बीजेपी के पूर्व नेता खडसे पिछले साल एनसीपी में शामिल हुए थे। भूमि सौदे के संबंध में आरोपों के बाद खडसे ने देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल से 2016 में इस्तीफा दे दिया था। आरोप है कि अपने परिवार के लिए सरकारी जमीन की खरीदारी में उन्होंने अपने पद का दुरुपयोग किया। खडसे ने बार बार इन आरोपों से इनकार किया है।

ACB ने दाखिल की थी क्लोजर रिपोर्ट

ईडी ने खडसे को 30 दिसंबर को तलब किया था, लेकिन वह स्वास्थ्य कारणों से पेश नहीं हुए थे। ईडी के अधिकारियों ने उन्हें एजेंसी के सामने पेश होने के लिए 14 दिनों का समय देने पर सहमति जताई थी। इससे पहले, महाराष्ट्र भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो (एसीबी) ने मामले में जांच की थी और क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर दी थी। आयकर विभाग ने भी मामले में सूचनाएं मांगी थी। ईडी के कार्यालय के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई। खडसे के समर्थक वहां जमावड़ा ना लगाएं, इसके लिए बैरिकेड लगाए गए।

Source link

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here