IND vs AUS 4th Test: वॉशिंगटन सुंदर और टी नटराजन के नाम दर्ज हुआ ये यादगार रिकॉर्ड, यहां जानें ब्रिसबेन टेस्ट की 5 बड़ी बातें

0
73
IND vs AUS 4th Test: Washington Sundar and T Natarajan had their memorable record
.

स्पोर्ट्स डेस्क। टी नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर ने पहली पारी में तीन-तीन विकेट चटकाने के साथ ही एक खास क्लब में शामिल हुए। खास बात यह है कि दोनों खिलाड़ियों ने यह कारनामा अपने करियर के पहले ही मैच में हासिल कर लिया। ऐसा भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 72 साल बाद हुआ है। इससे पहले टीम इंडिया के लिए दो गेंदबाजों ने अपने डेब्यू टेस्ट में तीन-तीन विकेट 1949 में लिए थे। उस दौरान कोलकाता टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ मंटू बनर्जी और गुलाम अहमद ने टेस्ट डेब्यू करते हुए 3-3 विकेट चटकाए थे

रोहित शर्मा का खराब शॉट सिलेक्शन

रोहित शर्मा पहली पारी में शुरुआत से ही अच्छे टच में नजर आए और उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के खिलाफ आक्रामक रूख अपनाया, लेकिन वह नाथन लायन के खिलाफ बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में अपना विकेट तोहफे के तौर पर देकर चलते बने। रोहित ने 44 रनों की पारी खेली और अपने खराब शॉट सिलेक्शन को लेकर वह ट्विटर पर भी जमकर ट्रोल भी हुए। सुनील गावस्कर भी उनके शॉट से काफी नाखुश नजर आए।

टिम पेन और कैमरन ग्रीन की शतकीय साझेदारी

दूसरे दिन की शुरूआत में भारतीय गेंदबाजों को पहले विकेट लेने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। पेन और ग्रीन ने अपने पार्टनरशिप को आगे बढ़ाया और शतकीय साझेदारी निभाई। इन दोनों के बीच हुई साझेदारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 350 का आंकड़ा पार करने में सफल रही। कैमरन ग्रीन ने 47 और टिम पेन ने 50 रनों की पारी खेली।

वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ने की शानदार गेंदबाजी

अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे वॉशिंगटन सुंदर ने दूसरे दिन भी लगातार अच्छी गेंदबाजी और तीन विकेट अपने नाम किए। सुंदर ने खतरनाक दिख रहे कैमरन ग्रीन को बोल्ड किया, जबकि नाथन लायन उनका दिन का दूसरा शिकार बने। सुंदर के अलावा, शार्दुल भी गाबा की पिच पर काफी कारगर नजर आए। उन्होंने टिम पेन और ग्रीन के बीच हुई शतकीय साझेदारी को तोड़ा और टिम पेन को पवेलियन की राह दिखाई। इसके बाद, शार्दुल ने पैट कमिंस (2) को भी सेट होने का मौका नहीं दिया। शार्दुल ने पहली पारी में तीन विकेट झटके।

पुछल्ले बल्लेबाजों को आउट करने में छूटे भारतीय गेंदबाजों के पसीने

ऑस्ट्रेलिया के पहले पांच बल्लेबाजों को 213 रनों पर आउट करने के बावजूद भी टीम इंडिया कंगारू टीम को 350 के अंदर रोकने में नाकाम रही। ऑस्ट्रेलिया के आखिरी के पांच बल्लेबाजों ने आउट होने से पहले 156 रन जोड़े, जिसके चलते पहली पारी खत्म होने पर कंगारू टीम काफी मजबूत स्थिति में पहुंच गई।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here