भारत ने कहा- हम हमेशा से रासायनिक हथियारों के खिलाफ, सीरिया के संघर्ष का आतंकी संगठन उठा रहे फायदा

0
427
.

नई दिल्ली। आतंकी संगठनों तक रासायनिक हथियारों के पहुंचने पर भारत ने चिंता जाहिर की है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई प्रतिनिधि टीएस तिरुमुर्ति ने मंगलवार को कहा कि आतंकी संगठन और आतंकियों के पास रासायनिक हथियारों पहुंचने से सिर्फ भारत ही नहीं, पूरे विश्व पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

सीरिया (रासायनिक हथियारों ) पर संयुक्त राष्ट्र सिक्योरिटी काउंसिल (UNSC) मीटिंग में उन्होंने कहा कि आतंकी संगठन सीरिया में सदियों से चले आ रहे चल रहे संघर्ष का फायदा उठा रहे हैं। इससे वे पूरी दुनिया के लिए खतरा बन गए हैं। ऐसे में हम उनके खिलाफ लड़ाई को किसी भी कीमत पर कमजोर नहीं कर सकते।

सीरिया संघर्ष का शांतिपूर्ण समाधान निकाला जाए

उन्होंने कहा कि भारत हमेशा सीरिया संघर्ष का व्यापक और शांतिपूर्ण हल निकालने के पक्ष में रहा है। समस्या का समाधान सीरिया के नेतृत्व में बातचीत और वहां के लोगों को ध्यान में रखकर किया जाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि भारत कहीं भी, किसी भी समय, किसी के द्वारा और किसी भी हालात में रासायनिक हथियारों के उपयोग का मजबूती से विरोध करता है। भारत हमेशा से रासायनिक हथियार सम्मेलन का भी पक्षधर रहा है, जिसके जरिए हथियार की इस कैटेगरी के मास डिस्ट्रीब्यूशन को रोका जा सके।

भारत दो साल के लिए अस्थाई सदस्य बना

भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अस्थाई सदस्य के तौर पर एक जनवरी को अपना कार्यकाल शुरू किया है। भारत का कार्यकाल दो साल तक रहेगा। इस पर तिरुमूर्ति ने कहा कि भारत आठवीं बार सुरक्षा परिषद का सदस्य बना है। भारत के स्थाई प्रतिनिधि के तौर पर शामिल होना मेरे लिए गर्व की बात है।

Source link

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here