IND VS AUS: ब्रिसबेन में शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर के दम पर भारत का ऑस्ट्रेलिया पर ‘पलटवार’

0
211
.

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया का अभेद किला माने जाने वाले ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर टीम इंडिया ने मेजबान टीम पर गजब का पलटवार किया है. खेल के तीसरे दिन टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 336 रन बनाए. एक समय ऐसा था जब उसने 186 रनों पर ही अपने 6 विकेट गंवा दिये थे लेकिन इसके बाद सातवें विकेट के लिए 123 रनों की साझेदारी कर शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) और वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने मेहमान टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने अपने टेस्ट करियर का पहला अर्धशतक लगाया. ठाकुर ने 115 गेंदों में 67 रनों की पारी खेली और सुंदर ने 144 गेंदों में 62 रन बनाए. इन दोनों बल्लेबाजों की शतकीय साझेदारी के दम पर भारत 300 रनों के पार पहुंचा और ऑस्ट्रेलिया बड़ी बढ़त लेने से चूक गया. ऑस्ट्रेलिया की गेंदबाजी के हीरो जोश हेजलवुड रहे, जिन्होंने 57 रन देकर 5 विकेट चटकाए. स्टार्क और कमिंस को 2-2 विकेट मिले और लायन ने महज 1 ही विकेट झटका.

खेल के तीसरे दिन टीम इंडिया उस वक्त मुसीबत में आ गई जब उसके बल्लेबाज गिफ्ट के तौर पर अपने विकेट ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को देते नजर आए. चेतेश्वर पुजारा 94 गेंदों में 25 रन बनाकर हेजलवुड का शिकार हुए. इसके बाद 93 गेंद खेलने वाले अजिंक्य रहाणे ने बहद खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया. टीम इंडिया के कप्तान 37 रन बनाकर पैवेलियन लौटे. मयंक अग्रवाल ने भी अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन 38 रनों के निजी स्कोर पर उन्होंने हेजलवुड की बाहर की गेंद से छेड़छाड़ की और वो भी निपट गए. ऋषभ पंत के साथ भी ऐसा ही हुआ. पंत को अच्छी शुरुआत मिली लेकिन हेजलवुड ने उन्हें भी 23 के निजी स्कोर पर आउट किया.

वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ने दिखाया दम
इसके बाद वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ने बल्लेबाजों को दिखाया कि टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी कैसे की जाती है. एक समय 220 से पहले सिमटती दिख रही टीम इंडिया को दोनों बल्लेबाजों ने मजबूती दी. शार्दुल ठाकुर तो बेहद आक्रामक दिखे और उन्होंने आती ही छक्का लगाया. इसके बाद उन्होंने नफे-तुले शॉट्स खेले और फिर छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया. वॉशिंगटन सुंदर ने एक ऑलराउंडर की तरह ही बल्लेबाजी की. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने खराब गेंदों पर चौके लगाये और अच्छी गेंदों का सम्मान किया. सुंदर ने भी अपनी पहली टेस्ट पारी में हाफसेंचुरी जड़ी. हालांकि इसके बाद कमिंस ने शार्दुल को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा. अंत में हेजलवुड ने नवदीप सैनी और सिराज को आउट कर भारतीय पारी को 336 रनों पर समेटा और मेजबानों को 33 रनों की बढ़त मिली.IND VS AUS: नहीं सुधरी टीम इंडिया, रहाणे और मयंक अग्रवाल ने तोड़ा फैंस का दिल!

ऑस्ट्रेलिया को दूसरी पारी में ओपनर वॉर्नर और हैरिस ने अच्छी शुरुआत दी. वॉर्नर ने कुछ अच्छे शॉट लगाए और दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने बिना विकेट गंवाए 21 रन बना लिये. ऑस्ट्रेलिया के पास अब 54 रनों की बढ़त है और चौथे दिन उसे अच्छी बल्लेबाजी करने के साथ-साथ दूसरी पारी में जबर्दस्त गेंदबाजी भी करनी होगी.

Source link

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here