यूपी- ‘श्री राम’ टैटू गर्ल के नाम से फेमस इस मुस्लिम लड़की ने राम मंदिर के लिए दान की इतनी धनराशि…

0
81
.

वाराणसी। श्रीराम मंदिर पर फैसला आने के बाद श्रीराम के नाम का टैटू बनवा कर खूब सुर्खियों में रही इकरा अनवर खान एक बार फिर चर्चा में है। अब इकरा खान ने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए धनराशि दान की है। इससे पहले इकरा मंदिर के भूमि पूजन की खुशी में अपने हाथों में भगवान श्रीराम के नाम का टैटू बनवा चुकी हैं। इकरा अनवर लॉ की छात्रा हैं। उनके पिता अनवर खान अधिवक्‍ता हैं। बता दें, सीएए के समर्थन में भी इकरा अपने हाथों में अस्थायी सीएए का टैटू बनवा चुकी हैं। मगर इसके बाद श्रीराम नाम का स्थायी टैटू उन्‍होंने बनवाया था।

इकरा बताती हैं कि मेरे घर में भगवान गणेश, लक्ष्मी, कृष्ण, शिव की मूर्ति है और हम लोग पूजा भी करते हैं। मेरा मानना है हमारी संस्कृति सनातन आधारित है। वक्त के साथ ही अलग-अलग धर्मों में हम भले ही बंट गए। हिंदू धर्म में मेरे पूरे परिवार की आस्था है। बताती हैं कि हम भगवान के सामने शीश भी नवाते हैं और पांचों वक्‍त की नमाज भी पढ़ते हैं। मुझे इस बात की खुशी है कि भगवान को उनकी जन्मस्थली मिल गई है। वाराणसी में मेरी दो बुआ रहती हैं, हमारे यहां सभी राम मंदिर बनने से काफी खुश हैं। बताती हैं कि हमारा परिवार मां वैष्णो देवी और विंध्यवासिनी धाम भी पूजा करने जाता है।

श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए दिया 11 हजार का चेक

श्रीराम मंदिर की आस्था ने सभी बंधनों को तोड़ दिया है। अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए जहां बड़ी धनराशि देने वालों ने झोली खोल दी है तो वहीं, मुस्लिम धर्म से जुड़े लोग भी समर्पण के लिए आगे आ रहे हैं। इसी क्रम में मंगलवार को इकरा अनवर खान ने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए 11 हजार रुपये की धनराशि समर्पित की है। इकरा अनवर का कहना है कि श्रीराम हमारे पूर्वज हैं। हमें मिलकर इस मंदिर का निर्माण कराना चाहिए। राजनीति करने वाले ही धर्म के नाम पर बांट रहे हैं लेकिन हमें उसमें बंटना नहीं चाहिए। जब श्रीराम मंदिर भव्य रूप लेगा तो मैं दर्शन करने के लिए अयोध्या जाऊंगी।

अखिल भारतीय संत समिति के महामंत्री स्वामी जितेंद्रानंद ने कहा कि इकरा अनवर ऐसी पहली मुस्लिम युवती हैं जिन्होंने श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह अभियान में 11 हजार रुपये की धनराशि का चेक समर्पित किया है। समाज में धर्म व जाति आस्था में विश्वास रखने वालों के लिए नहीं होती है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्याय अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण के लिए जनसंपर्क और योगदान अभियान चला रहा है जो 27 फरवरी तक चलेगा। इसके लिए दो चरण बनाए गए हैं। पहले चरण में बड़े दानदाताओं के लिए अभियान चलाया जा रहा है तो दूसरे चरण में गांव-गांव तक धन संग्रह टोलियां जाएंगी।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here