यूपी दिवस पर अवध शिल्प ग्राम में आयोजित समारोह की शाम होगी खास, खादी वस्त्रों को पहनकर रैंप वॉक करती नजर आएंगी मॉडल्स

0
69
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश दिवस के अवसर पर 24 जनवरी को अवध शिल्प ग्राम में आयोजित समारोह की शाम खास होने वाली है। इस अवसर पर देश के सुप्रसिद्ध फैशन डिजाइनर्स आशमा हुसैन, रूना बनेर्जी, रीना ढाका, रीतू बैरी, मनीष त्रिपाठी द्वारा डिजाइन किये गये खादी वस्त्रों पर आधारित वृहद फैशन-शो का आयोजन होगा। इसमें दिल्ली, मुम्बई के माडल्स नवनीत्म डिजाइन पर आधारित खादी वस्त्रों को पहन कर रैम्पवॉक करते नजर आयेंगे।

यह जानकारी अपर मुख्य सचिव खादी एवं ग्रामोद्योग डा0 नवनीत सहगल ने दी। उन्होंने बताया कि खादी को आमजन में और अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए पहले भी खादी फैशन-शो का आयोजन किया गया है, जिसकी हर तरफ काफी सराहना भी हुई। इसको देखते हुए पुनः उत्तर प्रदेश दिवस के अवसर पर एक भव्य खादी फैशन-शो का आयोजन किया जा रहा है। इसके माध्यम से प्रदेश के युवावर्ग को खादी से जोड़ने की मुहिम को तीव्र गति मिलेगी।

डॉ0 सहगल ने बताया कि यू0पी0 दिवस के अवसर पर अवध शिल्प ग्राम में ही खादी एवं ग्रामोद्योग की प्रदर्शनी का भी आयोजन किया जा रहा है। इस प्रदर्शनी में उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, उत्तराखण्ड, बंगाल तथा झारखण्ड राज्यों के खादी एवं ग्रामोद्योग इकाइयों द्वारा 119 स्टॉल लगाये जायेंगे। जिसके माध्यम से खादी एवं ग्रामोद्योग इकाइयां अपने उत्कृष्ट उत्पादों का प्रदर्शन एवं विक्रय करेंगी। प्रदर्शनी का उद्घाटन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किया जायेगा।

डॉ0 सहगल ने बताया कि इसी अवसर पर प्रदेशवासियों को कोविड-19 से बचाव का संदेश देने के लिए विश्व का सबसे बड़ा खादी मास्क हॉट एयर बैलून के माध्यम से लॉन्च किया जाएगा। यह मास्क प्रदेश के सभी जनपदों से प्राप्त खादी वस्त्रों से तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त यू0पी0 दिवस पर प्रदेश की गरीब महिलाओं में 336 सोलर चर्खों का वितरण होगा। चर्खों के संचालन हेतु महिलाओं को प्रशिक्षित किया गया है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के कर-कमलों से 25 महिलाओं को सांकेतिक रूप से सोलर चर्खें प्रदान किये जाएगें।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में स्वरोजगार स्थापना हेतु नवयुवकों/युवतियों में 126 मोटराइज्ड दोना पत्तल मशीन, माटीकला के उद्योग में लगे कारीगरों एवं हस्तशिल्पियों में 2700 विद्युत चालित चाक का वितरण किया जायेगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री द्वारा सांकेतिक रूप से 21 लाभार्थियों को मोटराइज्ड दोना पत्तल मशीन तथा 25 लाभार्थियों को विद्युत चालित चाक का वितरण किया जायेगा। इसके साथ ही खादी एवं ग्रामोद्योग क्षेत्र में पूंजी, निवेश, उत्पादन, बिक्री तथा रोजगार सृजन में उल्लेखनीय योगदान देने वाली सर्वश्रेष्ठ तीन इकाइयों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया जायेगा।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here