UP Panchayat Election: पूर्व प्रधान और बीजेपी नेता जोगेश्वर वर्मा की हत्या, गांव में भारी पुलिस बल तैनात…

0
63
.

अमेठी. पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav) के पहले अमेठी (Amethi) में हत्याओं का सिलसिला भी शुरू हो गया. रविवार देर शाम संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हुए बीजेपी (BJP) जिला कार्यसमिति के सदस्य और पूर्व प्रधान जोगेश्वर वर्मा की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी. सोमवार सुबह जोगेश्वर वर्मा की हत्या की जानकारी मिलने के बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया.

सूचना के बाद मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. वहीं गांव में तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है. परिजनों ने गांव के ही मौजूदा ग्राम प्रधानपति समेत तीन लोगों के खिलाफ तहरीर दी है. जिसके जिसके बाद पुलिस हत्यारों की तलाश में जुट गई है. वहीं केंद्रीय मंत्री और अमेठी सांसद स्मृति ईरानी ने भी मृतक के परिजनों से फोन पर वार्ता कर सांत्वना दी.

मामला मोहनगंज थाना क्षेत्र के रमई गांव का है, जहां के रहने वाले बीजेपी जिला कार्यसमिति के सदस्य और पूर्व प्रधान 64 वर्षीय जोगेश्वर वर्मा कल देर शाम संदिग्घ परिस्थितियों में गायब हो गए थे. रात 9 बजे जब परिजनों ने उनको फोन किया तो उनका मोबाइल स्विच ऑफ था. जिसके बाद परिजन उनको खोजने निकले, लेकिन उनका पता नहीं चला. आज सुबह जब ग्रामीण शौच के लिए नहर की तरफ गए तो जोगेश्वर वर्मा का शव देखा। जिसके बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया. ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. सूचना मिलते ही मोहनगंज कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच पड़ताल में जुट गई.

मौजूदा प्रधानपति समेत तीन पर हत्या का आरोप 

परिजनों ने गांव के मौजूदा ग्राम प्रधान अंकिता सिंह के पति वीर बहादुर सिंह समेत तीन लोगों के खिलाफ हत्या की तहरीर दी. जिसके बाद पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर हत्यारोपियों की तलाश शुरू कर दी है. फिलहाल स्थिति की गंभीरता से को देखते हुए अमेठी एसपी दिनेश सिंह ने घटना स्थल का निरीक्षण कर गांव में भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया है.मृतक के बेटे की माने तो उसके पिता कल सुबह 10 बजे घर से खाना खाकर निकले और शाम 7 बजे फोन पर बात हुई तो उन्होंने कहा कि गांव में ही हूं, अभी आ रहा हूं. जब काफी देर तक वो नही लौटे तो 9 बजे फोन किया तो उनका मोबाइल स्विच ऑफ था. जिसके बाद हम लोग उन्हें खोजने के लिए निकले लेकिन वो नहीं मिले. उनके पिता 2005 से 2015 तक प्रधान थे.

बीजेपी जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी पहुंचे मृतक के घर

वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी ने कहा कि वर्मा पार्टी के सक्रिय नेता थे और पूर्व में मंडल अध्यक्ष भी रह चुके थे. वे दो बार ग्राम प्रधान भी रह चुके है. जोगेश्वर वर्मा की हत्या की सूचना मिलने के बाद बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता यहां पर आए हैं और सांसद ने भी परिजनों से फोन पर बात कर सांत्वना व्यक्त की है और अमेठी एसपी को निर्देशित किया है कि वो जल्द से जल्द हत्यारों को पकड़कर जेल भेजे.

एसपी ने कही जल्द गिरफ़्तारी की बात 

अमेठी एसपी दिनेश सिंह ने कहा कि परिजनों की तरफ से तीन लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी गई है. जिसके बाद मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है और जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी.

Source link

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here