Economic Survey 2021: वित्तमंत्री ने आर्थिक सर्वेक्षण किया पेश, 2022 में GDP ग्रोथ 11 फीसदी रहने का अनुमान…

0
100
.

नई दिल्ली. केंद्रीय वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आज संसद में आर्थिक सर्वेक्षण (Economic Survey 2020-21) को पेश कर दिया है. कोरोना वायरस महामारी की वजह से मैन्युफैक्चरिंग और कंस्ट्रक्शन सेक्टर पर नकारात्मक असर पड़ा है. कोरोना काल से जीडीपी FY22 में उबरने की उम्मीद है. वित्त वर्ष 2022 में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की ग्रोथ 11 फीसदी रहने का अनुमान है.

2021 में अर्थव्यवस्था में निगेटिव 7.7 फीसदी ग्रोथ रहने का अनुमान

आर्थिक सर्वेक्षण के मुताबिक वित्त वर्ष 2021 में अर्थव्यवस्था में निगेटिव 7.7 फीसदी ग्रोथ रहने का अनुमान है. जानकारों का कहना है कि ग्रोथ का यह रिजर्व बैंक के निगेटिव 7.5 फीसदी ग्रोथ के अनुमान के अनुसार है. सेंट्रल स्टैटिस्टिक्स ऑफिस ने फिस्कल ईयर 2021 में निगेटिव 7.7 फीसदी ग्रोथ का अनुमान जारी किया है. सर्वे के अनुसार अर्थव्यवस्था में V शेप की रिकवरी देखने को मिल रही है.

हालांकि इस बार बजट से तीन दिन पहले वित्त वर्ष 2020-21 का आर्थ‍िक सर्वेक्षण (Economic Survey) आज संसद में पेश कर दिया गया. बता दें कि मुख्य आर्थिक सलाहकार के मार्गदर्शन में आर्थिक सर्वेक्षण को तैयार किया जाता है. मौजूदा समय में मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमण्यन (Krishnamurthy Subramanian) हैं.

1 फरवरी को पेश होगा आम बजट

बता दें कि केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का तीसरा बजट 1 फरवरी 2021 को पेश करने जा रही है. केंद्रीय वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) तीसरी बार आम बजट (Union Budget 2021-22) पेश करेंगी. बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 5 जुलाई 2019 को पहली बार आम बजट पेश किया था. बता दें कि सामान्तया बजट के एक दिन पहले आर्थिक सर्वे पेश किया जाता है.

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here