80 प्रतिशत से कम नींद आती है तो करें ये उपाय ,दिखेगा असर

0
134
.

डेस्क न्यूज,दिनभर की थकावट के बाद अगर आप रात भर बिस्‍तर पर करवटें बदलते रह जाते हैं तो यह आपके सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक है. डॉक्‍टरों का मानना है कि हमारे शरीर को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद की जरूरत होती है. रात भर की अच्‍छी नींद हमें दिनभर फ्रेश और एनरजेटिक बनाए रखती है. लेकिन स्‍ट्रेस  और बदलते लाइफ स्‍टाइल का अगर सबसे ज्‍यादा बैड इफेक्‍ट किसी पर पड़ रहा है तो वह हमारी रात की नींद है.

आज अनिंद्रा  की समस्‍या से कई लोग जूझ रहे हैं. इसे स्‍लीप सिंड्रोम भी कहते हैं जिसमें लोगों की रात की नींद उड़ जाती है और तमाम कोशिशों के बाद भी वह बिस्‍तर पर करवटें बदलते रह जाते हैं. इन समस्‍याओं से छुटकारा पाने के लिए अगर हम कुछ आदतों को अपने लाइफस्टाइल में शामिल करें तो इसका पॉजिटिव इफेक्‍ट जरूर देखने को मिलता है. तो आइए जानते हैं कि तुरंत सुकून भरी नींद के लिए क्‍या किया जाए.

– नींद न आने पर बेड पर लेटकर कुछ योग करें. कुछ ऐसे योग हैं जो अच्‍छी नींद लाने में  उपयोगी साबित हुए हैं जैसे भ्रामरी, प्राणायाम और शवासन करने से तुरंत नींद आ सकती है.

– नींद न आने पर एक्‍यूप्रेशर थेरेपी का सहारा लें. हमारे शरीर में कई ऐसे खास बिंदु हैं जिनको दबाने से नींद आ सकती है. अपने हाथ के अंगूठे को अपनी आईब्रोज के बीच 30 सेकंड तक रखें और हटाएं. इस प्रक्रिया को 4 से 5 बार करें.

– आप सीधे लेटकर अपनी पलकों को जल्दी-जल्दी झपकाएं. आंखें थक जाएंगी और आपको जल्दी नींद आएगी.

– पूरे दिन की घटनाओं को उल्टे क्रम (reverse order) में याद करें. ऐसा करने पर दिमाग पर जोर पड़ेगा और नींद आएगी.

– दिनभर शरीर को एक्टिव रखें.  जॉगिंग, वॉकिंग और स्‍वीमिंग करने से रात को गहरी नींद आती है.

– आसपास घड़ी न रखें, इसे देखने से नींद उचट जाती है और हर वक्‍त मिनट का हिसाब दिमाग में चलने लगता है.

– अपने नींद के पैटर्न का एक चार्ट बनाये कि आप रात में बिस्तर पर 80 प्रतिशत से कम समय सो रहे हैं तो डॉक्‍टर से संपर्क करें.

Source link

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here