इंदौर: सीएम ने जताई नाराजगी, DM बोले- बेसहारा बुजुर्गों के साथ अमानवीय बर्ताव से लगा दाग…

0
58
.

Indore. सन्न कर देने वाले इस वाकये ने सभ्य समाज की संवेदनाओं को झकझोर कर रख दिया है और इस घटना के वीडियो सामने आने के बाद पिछले 48 घण्टों में फिल्म अभिनेता सोनू सूद से लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा समेत हजारों लोग सोशल मीडिया पर इस मामले में अलग-अलग प्रतिक्रियाएं व्यक्त कर चुके हैं.

शिवराज सिंह ने जताई नाराजगी

राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस घटना पर नाराजगी जताते हुए नगर निगम के एक उपायुक्त को पहले ही निलंबित कर चुके हैं. निगम प्रशासन दो मस्टर कर्मियों को बर्खास्त भी कर चुका है. बहरहाल, घटना पर मचा बवाल अब तक थमा नहीं है और स्थानीय प्रशासन को इस अहम सवाल का जवाब नहीं सूझ रहा है कि कड़ाके की ठण्ड में बेसहारा बुजुर्गों को शहर से बाहर जबरन छोड़ने का अमानवीय कदम आखिर क्यों और किस अफसर के आदेश पर उठाया गया?

इस बारे में पूछे जाने पर नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त अभय राजनगांवकर ने रविवार को कहा, “हम मामले की विस्तृत जांच कर रहे हैं. जांच के बाद सारे तथ्य सामने आ जाएंगे.”

डीएम ने मांगी भगवान से माफी

इस बीच, जिलाधिकारी मनीष सिंह ने शहर के खजराना गणेश मंदिर में रविवार को एक पर्व की पूजा-अर्चना के दौरान कहा कि उन्होंने बेसहारा बुजुर्गों के साथ नगर निगम कर्मचारियों की बदसलूकी के घटनाक्रम के लिए प्रशासन की ओर से ईश्वर से क्षमा मांगी है. सिंह ने संवाददाताओं से कहा, “इस मामले में भले ही किसी भी व्यक्ति की गलती रही हो, लेकिन हम अधिकारी हैं और अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकते. इसलिए हमने ईश्वर से प्रार्थना की है कि वह हमें हमारी गलतियों के लिए क्षमा करें.”

चाय की दुकान चलाने वाले ने बनाया वीडियो

बेसहारा बुजुर्गों के साथ इंदौर नगर निगम के कर्मचारियों के अमानवीय बर्ताव का खुलासा जिस वीडियो से हुआ, उसे शहर के पास स्थित क्षिप्रा गांव में चाय की दुकान चलाने वाले राजेश जोशी ने शुक्रवार को अपने मोबाइल कैमरे में कैद किया था. जोशी बताते हैं, “यह (शुक्रवार) दोपहर दो से ढाई बजे के बीच की बात है. इंदौर नगर निगम के कर्मचारी अपनी गाड़ी में आठ-दस बेहद कमजोर बुजुर्गों को लेकर आए थे. वे कुछ बुजुर्गों के हाथ-पैर पकड़ कर उन्हें जबरन गाड़ी से उतार रहे थे. इनमें दो महिलाएं भी शामिल थीं.”

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here