किसान आंदोलन- विदेशी हस्तियों के समर्थन पर किसान नेता राकेश टिकैत बोले- मुझे क्या पता, करा होगा, मैं क्यों उन्हें जानू…

0
913
.

New Delhi. केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन को अंतरराष्ट्रीय हस्तियों से मिल रहे समर्थन के बारे में पूछे जाने पर भारतीय किसान यूनियन (BKU) के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने अपने ही अंदाज में कहा, मुझे क्या पता, करा होगा, मैं क्यों उन्हें जानू. इस दौरान किसान नेता ने रिहाना, ग्रेटा थनबर्ग सहित अंतरराष्ट्रीय कलाकारों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा उनके आंदोलन को समर्थन देने का स्वागत किया लेकिन साथ ही कहा कि वह उन्हें नहीं जानते. दिल्ली में गणतंत्र दिवस को हुई हिंसा के बाद कमजोर पड़े किसान आंदोलन को फिर से ताकत देने का श्रेय प्राप्त टिकैत ने दिल्ली-उत्तर प्रदेश की सीमा गाजीपुर बॉर्डर पर मीडिया से बातचीत में समर्थन करने वाले विदेशी हस्तियों के प्रति अनभिज्ञता जताई.

किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा, कौन हैं ये विदेशी कलाकार?” जब टिकैत को बताया गया कि अमेरिकी पॉप गायिका रिहाना, वयस्क फिल्मों की कलाकार मिया खलीफा, स्वीडन की जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थमबर्ग ने समर्थन किया है तो सिसौली में जन्में किसान नेता ने कहा, मुझे क्या पता, करा होगा, मैं क्या जानू उन्हें! उन्होंने कहा, कोई विदेशी अगर समर्थन कर रहा है तो क्या दिक्कत है, कुछ ले-दे थोड़ी न रहा है.”

गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों से मिलने की असफल कोशिश करने वाले 15 संसद सदस्यों के बारे में BKU के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि सांसद अवरोधक के दूसरी ओर जमीन पर बैठे क्योंकि दिल्ली पुलिस ने उन्हें रोक दिया था. उन्होंने कहा, बैरिकेडिंग लगा रखी है। टिकैत ने बताया कि उन्होंने गाजीपुर मिलने आने की कोशिश करने वाले 15 सांसदों में से किसी से बात नहीं की, उन्हें प्रदर्शनकारियों से बात नहीं करने दी गई.

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here