राष्ट्रीय स्तर की महिला खिलाड़ी की गला रेतकर हत्या, पुलिस ने आरोपी कोच को किया गिरफ्तार

0
41
.

क्राइम डेस्क. हरियाणा के रोहतक जिले में खिलाड़ियों (Players) की हत्या का सिलसिला लगातार जारी है. अब भोपाल की रहने वाली महिला वेटलिफ्टिंग खिलाड़ी की भी संदिग्ध परिस्थितियों में हत्या हो गई है. महिला राष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी है. पुलिस ने आरोपी कोच भगत माहरा को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया है.

पुलिस के मुताबिक इसी पूर्व परिचित कोच ने महिला खिलाड़ी की हत्या की और शव को जलाने की कोशिश की. बता दें कि इस महिला वेटलिफ्टर का नाम दिव्या कीर्तने हैं, जिसका शव रोहतक में एक नहर के नजदीक बरामद हुआ था.

बता दें कि हरियाणा के रोहतक जिले में खिलाड़ियों (Players) की हत्या का सिलसिला लगातार जारी है. 12 फरवरी के बाद से महज दस दिनों में 8 हत्याएं पुलिस प्रशासन पर बड़े सवाल खड़े कर रही हैं.

राष्ट्रीय स्तर की महिला खिलाड़ी थी दिव्या

दरअसल भोपाल की रहने वाली एक वेटलिफ्टर महिला राष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी थी, जिसका शव दो दिन पहले एक नहर के पास पड़ा हुआ मिला. महिला खिलाड़ी की गला रेत कर हत्या कर दी गई. यही नहीं महिला के शव को जलाने की भी कोशिश की. पहले तो महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई, लेकिन बाद में महिला खिलाड़ी की जेब से भोपाल स्थित होटल के बिल ओर हबीबगंज रेलवे स्टेशन की पार्किंग की पर्ची से महिला की शिनाख्त हो पाई, इसी आधार पर पता चला कि मृतका का नाम दिव्या कीर्तने है, जिसके बाद परिजनों को सूचित किया गया.

आरोपी पर लगाया था दुष्कर्म का आरोप

पुलिस जांच में सामने आया कि महिला की शादी भोपाल निवासी प्रशांत के साथ हुई थी. प्रशांत से उसने तलाक ले लिया था. उसके बाद 2016 में उसकी मुलाकात सोनीपत कोच निवासी भगतमाहरा के साथ हुई. दोनों में दोस्ती हो गई। जून 2018 में महिला ने भगत नाहरा के खिलाफ दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज कराया था.. इस मामले में वह गिरफ्तार भी हुआ था और अभी जमानत पर था। एक हफ्ते पहले भगत भोपाल में अदालत पर पेशी पर आया था, उसके बाद वह महिला को अपने साथ रोहतक ले गया. वहां खून से लथपथ उसका शव यहां किलोई-धामड़ गांव के पास से गुजरने वाली नहर की पटरी पर मिला. जेब से मिले होटल के बिल और हबीबगंज रेलवे स्टेशन की पार्किग पर्ची के आधार पर उसकी पहचान हुई.

पुलिस जांच में यह बात भी सामने आई कि वह रोहतक के किसी व्यक्ति के साथ रिलेशन में थी और यहां आती रहती थी. उसने लगभग ढाई वर्ष पहले रोहतक के एक वेटलिफ्टिंग कोच पर आरोप लगाया था कि उन्होंने उसके साथ दुष्कर्म किया और नाले में फेंकने की कोशिश की. पुलिस के मुताबिक यह कोच सेना में कार्य करता था और 2017 में सेना से सेवानिवृत्त हो गया. बाद में उसे रोहतक स्थित राजीव गांधी स्पो‌र्ट्स कांपलेक्स में कोच पद पर नियुक्ति मिल गई थी.

ऐसे हुई शव की शिनाख्त

महिला खिलाड़ी की जेब से प्रकाश ढाबा नाम के ढाबे का बिल मिला, जो हबीबगंज रोड, भोपाल का है. 347 रुपये का यह बिल 16 फरवरी का है. बिल देखकर लग रहा है कि दो लोगों ने खाना खाया होगा. उसकी जेब से हबीबगंज रेलवे स्टेशन की पार्किंग की पर्ची भी मिली, जिस पर बाइक का नंबर भी लिखा हुआ है. यह पर्ची भी 16 फरवरी की है. जांच में पता चला कि यह बाइक वेटलिफ्टर खुद ही चलाती थी. बृहस्पतिवार शाम तक भी उसकी बाइक हबीबगंज रेलवे स्टेशन की पार्किंग में ही खड़ी थी. महिला वेटलिफ्टर की जेब से मिली पार्किंग की पर्ची के बाद रोहतक पुलिस ने होटल मालिक से फोन कर संपर्क किया

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here