लखनऊ- IMRT में “नारी शक्ति सप्ताह” का शुभारम्भ, IPS बोलीं- महिलाएं रूढ़ियों की जंजीरें तोड़ बनें आत्मनिर्भर

0
68
IPS DCP Khyati Garg
.

लखनऊ. (फर्स्ट आई न्यूज ब्यूरो) राजधानी का प्रसिद्ध शिक्षण संस्थान इन्स्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी (IMRT) ने यह सप्ताह महिलाओं के मान-सम्मान और महिला सशक्तीकरण के नाम किया है। इस दिन को विश्व की आधी आबादी इसे अपने अधिकार दिवस के जश्न के रूप में मनाती है। इसी कड़ी में आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आई0एम0आर0टी0 बिजनेस स्कूल ने न स्त्री रत्नमसम् रत्नम् थीम पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि आईपीएस डीसीपी ख्याति गर्ग ने कहा कि महिलाओं को रूढ़ियों की जंजीरों को तोड़कर आत्मनिर्भर बनना चाहिए। महिलाएं चाहे तो किसी भी ऊँचाई को छू सकती है। वहीं एचडीएफसी की ब्रांच मैनेजर मीतू वैश्य ने भी महिलाओं को कठिन परिश्रम से आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

IMRT द्वारा आयोजित “नारी शक्ति सप्ताह” कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्ववलन एवं ईश्वर की वन्दना के साथ किया गया। प्रसिद्ध ऐंकर अनुकृति गोविन्द शर्मा ने विशिष्ट अतिथि आईपीएस डीसीपी डॉ0 ख्याति गर्ग, समाज सेविका शबरी मेहता, एच0डी0एफ0सी0 बैंक शाखा प्रमुख मीतू वैश्य, समाज सेविका मोनिका भोनवाल तथा लेखक एवं समाज सेविका डॉ0 मधु चतुर्वेदी का स्वागत किया। इस दौरान कालेज की छात्राओं ने सांस्कृतिक नृत्य प्रस्तुति द्वारा नारी शक्ति की समाज और परिवेश में महत्वता को दर्शाया।

समाज सेविका शबरी मेहता के पति जो कि वायु सेना में स्क्वाडन लीडर थे, वह युद्ध के दौरान बहुत ही कम आयु में देश के लिये शहीद हुये। इसके पश्चात भी अपना साहस का परिचय देते हुये इन्होने अपने बच्चों को उच्च कोटि की शिक्षा दी जो आज उच्च पद पर आसीन हैं, साथ ही इन्होनें अपने पति की दुःखद घटना को भूलते हुये अपना सारा जीवन समाज सेवा में अर्पित कर दिया।

डॉ0 मधु चतुर्वेदी एक लेखक और कवयित्री हैं जिनकी समाज सेवा करना रूचि है। उन्होने समाज सेवा में खुद को एक ऐसे उदाहरण के रूप में प्रस्तुत किया है, जहां उन्होने कई पीड़ित महिलाओं जो कि अवसाद की शिकार व जीवन से निराश थी, का इलाज कराते हुए एवं इलाज का सारा खर्चा वहन करते हुए हिम्मत दी तथा समाज में एक मुकाम हासिल कराया। इस तरह के अनन्त उदाहरण है जिनकी गोपनीयता को ध्यान में रखते हुए उनकी मदद की गई। कालेज द्वारा नारी शक्ति के ऊपर छात्राओं एवं अतिथियों के मध्य प्रश्नोत्तर का दौर चला। इसके उपरान्त प्रमुख अतिथि द्वारा वक्ताओं को अपने संबंधित क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिये सम्मानित किया गया।

उल्लेखनीय है कि, विगत 12 वर्षों से गोमती नगर स्थित इन्स्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी, संस्थान शिक्षा के क्षेत्र में अपना शतप्रतिशत योगदान दे रहा है जिसके अन्तर्गत कालेज ऑफ इन्नोवेटिव मैनेजमेंट एण्ड साइंस, संचालित पाठ्यक्रम एम0बी0ए0,बी0बी0ए0, बी0सी0ए0, बी0काम0, बी0काम0 आनर्स एवं बी0एड0 में लगभग 2000 छात्र-छात्राएं प्रतिवर्ष शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

इस अवसर पर संस्थान के चेयरमैन देशराज बंसल आई0एफ0एस0 (सेवानिवृत्त) ने सभी अतिथियों को धन्यवाद करते हुए यह आश्वासन दिया कि आई0एम0आर0टी में इस तरह के सामाजिक कार्यक्रम निरंतर संचालित होते रहेंगे, एवं अतिथियों से भविष्य में इस तरह के कार्यक्रम में आई0एम0आर0टी से जुड़े रहने का आग्रह किया। कार्यक्रम में आये अतिथियों के स्वागत में कार्य प्रबन्धन की ओर से संजीव बंसल, डॉ0 एस0वी0 सिंह सहित कई संकाय प्रमुख व अध्ययनरत छात्राओं व छात्रों का विशेष योगदान रहा।

.