IND vs ENG: करारी हार के से कप्तान विराट कोहली नाखुश, टीम इंडिया के बल्लेबाजों को दी ये बड़ी नसीहत

0
23
.

स्पोर्ट्स डेस्क. ऑयन मॉर्गन की अगुवाई में इंग्लैंड की टीम ने पहले टी20 मैच में भारतीय टीम को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी. टेस्ट सीरीज में 3-1 से जीत हासिल करने वाली टीम इंडिया पहले टी20 में हर विभाग में जूझती हुई नजर आई. वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) भी पहले मैच में मिली हार से नाखुश नजर आए. कोहली ने कहा कि हमें ये पता ही नहीं था कि इस तरह की पिच पर कैसे खेलना है. मुझे लगता है कि हम अपने शॉट्स सही तरीके से नहीं खेल पाए. बतौर बल्लेबाज इस पर ध्यान देना होगा. हमें अपनी गलतियों को मानना होगा और अगले मैच में मजबूत इरादे के साथ उतरना होगा. खासतौर पर ये प्लान करना होगा कि इस मैदान पर कैसे शॉट खेलने हैं.

कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि हमारे लिए सीरीज की शुरुआत अजीब रही. हम इस विकेट पर वैसे शॉट्स नहीं खेल पाए जैसा चाहते थे. श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) की पारी इस बात का उदाहरण थी कि आप क्रीज की गहराई का कैसे उपयोग कर सकते हैं क्योंकि पिच पर असमान उछाल था. अय्यर ने इसे बखूबी समझा और उस तरह के शॉट्स खेले जिसमें दूसरे बल्लेबाज असफल रहे. हमने बल्लेबाजी में कमतर प्रदर्शन किया जिसका खामियाजा हमें भुगतना पड़ा.

जल्दी विकेट गंवाने से बड़ा स्कोर नहीं कर पाए: विराट कोहली

उन्होंने (Virat Kohli) आगे कहा कि अगर पिच आपको अनुमति देती है, तो आप पहली ही गेंद से आक्रामक होकर खेल सकते हैं. हमने भरपूर वक्त नहीं लिया और श्रेयस ने इसका सही इस्तेमाल किया. हमने 150-160 तक पहुंचने से पहले ही काफी विकेट खो दिए. अगर हमारे पास 10 ओवर खत्म होने के बाद 8 विकेट बाकी होते तो हम स्कोरबोर्ड पर और ज्यादा रन जोड़ सकते थे और तब मैच बन सकता था.’हार की वजह फॉर्मेट में बदलाव नहीं’

यह पूछे जाने पर कि क्या टेस्ट से टी20 फॉर्मेट में स्विच करना टीम इंडिया की हार की एक वजह थी. इस पर कोहली ने कहा कि फॉर्मेट बदलने से मुश्किल नहीं होती है. हमने पहले भी ऐसा किया है. मुझे नहीं लगता है कि ये हार की वजह है. हम व्हाइट बॉल क्रिकेट खेलने में बहुत गर्व महसूस करते हैं. हमने पिछली कुछ टी20 सीरीज जीती हैं. इस साल होने वाले टी20 वर्ल्ड कप से पहले हमारे पास सिर्फ ये पांच मैच हैं. इसलिए हमें कुछ चीजें करनी होगी. हालांकि, इसका मतलब ये नहीं है कि हम किसी को भी हल्के में लें. खासतौर पर इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम को.

पहले टी20 में विराट शून्य पर आउट हुए

बता दें कि शुक्रवार को इंग्लैंड के खिलाफ हुए पहले टी20 में टॉस हारकर पहले खेलने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही. टीम ने 20 रन पर तीन विकेट गंवा दिए थे. केएल राहुल ने एक और शिखर धवन ने 4 रन बनाए. कप्तान विराट कोहली खाता नहीं खोल सके. श्रेयय अय्यर (67) ने टी20 करिअर का तीसरा अर्धशतक लगाकर टीम को संभाला. ऋषभ पंत ने 21 और हार्दिक पंड्या ने 19 रन बनाए. तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने 23 रन देकर तीन विकेट लिए. लेग स्पिनर आदिल राशिद ने कसी हुई गेंदबाजी की. 3 ओवर में सिर्फ 14 रन दिए और विराट कोहली का महत्वपूर्ण विकेट लिया.

जवाब में इंग्लैंड के ओपनर बल्लेबाज जेसन रॉय (49) और जोस बटलर (28) ने टीम को तेज शुरुआत दिलाई. दोनों ने पहले विकेट के लिए 8 ओवर में 72 रन जोड़े. 89 रन पर दो विकेट गिरने के बाद जॉनी बेयरस्टो ने नाबाद 26 और डेविड मलान ने नाबाद 24 रन बनाकर जीत पक्की कर दी. विकेट के लिहाज से यह टीम इंडिया की इंग्लैंड के खिलाफ सबसे बड़ी हार है. इसके पहले उसे 2017 में कानपुर में 7 विकेट से हार मिली थी.

.