हाईकोर्ट का बड़ा फैसला- कंप्यूटर से B.Tech या B.Sc पास अभ्यर्थियों को नहीं करना होगा CCC

0
38
High Court decision Candidates will not have to pass B.Tech or B.Sc from computer CCC
.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में ऐसे अभ्यर्थियों को राहत मिली है जिन्होंने कंप्यूटर से B.Tech या B.Sc तो किया है लेकिन उनके पास CCC का सर्टिफिकेट नहीं है। इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने कहा है कि यदि अभ्यर्थी कंप्यूटर से B.Tech या B.Sc है तो CCC सर्टिफिकेट न होने पर भी उसे योग्य माना जाएगा।

अदालत ने यह आदेश जारी करते हुए गन्ना व चीनी आयुक्त के 15 जनवरी 2020 के एक आदेश को खारिज कर दिया है। उक्त आदेश में डोएक द्वारा जारी CCC सर्टिफिकेट के समकक्ष कम्प्यूटर शिक्षा प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को गन्ना सुपरवाइजर के लिए योग्य नहीं माना गया था।

यह आदेश जस्टिस चंद्रधारी सिंह की एकल पीठ ने मोहित कुमार व अन्य की ओर से दाखिल याचिका पर पारित किया। याचियों का कहना था कि गन्ना सुपरवाइजर के पदों पर भर्ती के लिए 5 अक्टूबर 2016 को जारी विज्ञापन के क्रम में उन्होंने आवेदन किया था।

CCC को अनिवार्य कर दिया गया था

उक्त पद के लिए कृषि विज्ञान के साथ-साथ डोएक द्वारा जारी CCC सर्टिफिकेट की शैक्षिक अहर्ता मांगी गई थी। सभी याचियों के पास CCC के समकक्ष शैक्षिक योग्यता है। कोर्ट ने पाया कि सरकार के ही तमाम शासनादेशों में यह स्पष्ट है कि CCC के समकक्ष कंम्यूटर शिक्षा को प्राप्त किया अभ्यर्थी राज्याधीन लोक सेवाओं के लिए अर्ह होगा।

कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में यह भी कहा कि CCC की कुछ सरकारी पदों पर अनिवार्यता इसलिए की गई ताकि लोगों को सरकारी सेवाएं इलेक्ट्रॉनिकली प्रदान की जा सके। CCC कोर्स के जरिये छात्र को सूचना तकनीकी का आधारभूत ज्ञान प्राप्त होता है। वर्तमान मामले में याचियों के पास भले CCC सर्टिफिकेट न हो लेकिन उन्होंने मान्यता प्राप्त संस्थानों से समकक्ष योग्यता प्राप्त की है। इस वजह से वे उक्त पद पर आवेदन करने के लिए योग्य माने जाएंगे।

.