लखनऊ- संदिग्ध परिस्थितियों में वकील की मौत से आक्रोशित वकीलों ने किया कलेक्ट्रेट का घेराव, नौकरी और मुआवजे की मांग

0
70
Lucknow - Outraged by the death of the lawyer under suspicious circumstances, the lawyers besieged the collectorate, demanding jobs and compensation
.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीते शुक्रवार को NIA कोर्ट में काम करने वाले वकील विजय कुमार सिंह की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। कोर्ट परिसर में वकील को सीने में दर्द हुआ था और हॉस्पिटल ले जाते समय मौत हो गई। वकील की मौत से आक्रोशित सैकड़ों वकीलों ने शनिवार दोपहर कलेक्ट्रेट का घेराव किया।

इस दौरान वकील डीएम आवास पर पहुंचे। डीएम के न मिलने पर वकील हजरतगंज की तरफ बढ़ने लगे। पुलिस अधिकारियों के समझाने के बावजूद वे नहीं माने और उन्होंने CM आवास के घेराव किया। जेसीपी लॉ एंड ऑर्डर से हुई वार्ता के बाद उनका मांगपत्र लेते हुए कार्रवाई और मुआवजे का आश्वासन दिया तब जाकर शांत हुए।

शहर हुआ जाम, DM के खिलाफ लगाए नारे

शनिवार दोपहर में वकीलों के विरोध प्रदर्शन की वजह से हजरतगंज साथ आने वाले सभी मार्ग जाम हो गए। करीब 2 घंटे तक पूरा इलाका जाम से जूझता रहा। वहीं कलेक्ट्रेट से सैकड़ों की संख्या में वकील CM आवास की तरफ बढ़ने लगे। इस दौरान वकीलों ने DM लखनऊ के खिलाफ नारेबाजी भी किया।

मृतक के परिजन को मुआवजा और सरकारी नौकरी की मांग

जेसीपी लां एंड ऑर्डर नवीन अरोड़ा ने बताया कि वकीलों ने अपने साथी वकील विजय कुमार सिंह जिनकी किसी कारण से कल मौत हो गई थी। जिसे लेकर आज ये अपनी मांगों को लेकर CM आवास पहुंचे थे। कहा कि वकीलों ज्ञापन दिया है मुझे जो मैंने सरकार की तरफ से लिया है और इसे एसीएस होम तक पहुंचाया जाएगा। जो इनकी मांगे है उसे सरकार देखेगी और निर्णय लेगी। इनकी मांग है कि पीड़ित परिजनों को 25 लाख की आर्थिक सहायता दी जाए। एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए। डीएम को हटाने की ये मांग कर रहे है। इसकी मुझे जानकारी नहीं हैं।

.