Troll हो रहे सदगुरू के बचाव में फिर उतरीं कंगना, Actress बोलीं- समझना मुश्किल नहीं कि हिंदू हजारों साल गुलाम क्यों रहे?

0
17
.

डेस्क. बॉलीवुड क्वीन कंगना रनोट (Kangana Ranaut) एक बार फिर भगवान कृष्ण और माता यशोदा को लेकर ट्रोल हो रहे सदगुरु जग्गी वासुदेव के बचाव में उतर आई हैं। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए ट्रोल्स को फटकार लगाई है। कंगना ने अपनी पोस्ट में लिखा है, “वामपंथी इस दावे के साथ सदगुरुजी को परेशान करते हैं कि वे हिंदू संस्कृति योग और राष्ट्रवाद को बढ़ावा देते हैं। दक्षिणपंथी उन्हें यह कहकर परेशान और ट्रोल करते हैं कि वे लिब्रल हैं और हिंदू देवताओं और धर्मग्रंथों का सम्मान नहीं कर रहे हैं।”

कंगना (Kangana Ranaut) ने आगे लिखा है, “यह समझना काफी मुश्किल नहीं है कि हिंदुओं को हजारों साल गुलाम क्यों रखा गया। कोई रणनीति नहीं, कोई योजना नहीं, कोई अलाइनमेंट नहीं। बेवकूफ लोग। क्या आप उन्हें कावेरी को बचाने, ग्रामीण बच्चों की पढ़ाई कराने या मंदिरों को बचाने में सपोर्ट कर सकते हैं? अगर नहीं तो चुपचाप रहिए।”

आखिर क्या है सदगुरु का कृष्ण-यशोदा विवाद?

दरअसल, पिछले दिनों सदगुरु का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वे यशोदा को कृष्ण की लवर बता रहे थे। हालांकि, सोशल मीडिया यूजर्स ने लवर का मतलब प्रेमिका निकाल लिया और सदगुरु को ट्रोल कियाजाने लगा। बाद में उनके ईशा फाउंडेशन ने सफाई दी और कहा कि वीडियो के साथ छेड़छाड़ की गई है। सदगुरु ने यशोदा को कृष्ण की प्रेमिका नहीं, बल्कि भक्त बताया था। ईशा फाउंडेशन ने अपने बयान में बताया कि सदगुरु का वायरल वीडियो 2005 में हुए एक कार्यक्रम से निकाला गया है। किसी ने बड़ी चालाकी से इसके साथ छेड़छाड़ की और वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया।

पिछले दिनों सदगुरु ने एक वीडियो जारी कर वायरल वीडियो पर सफाई दी थी। वे कह रहे थे, “कृष्ण की जीवन में रहीं कई अदभुत महिलाओं में एक यशोदा भी थीं। जो शुरुआत में मां थीं, लेकिन बाद में उनकी लवर(भक्त) बन गईं। कुछ लोगों ने इस लवर शब्द का गलत मतलब निकाल लिया। वे यह नहीं समझे कि कृष्ण लव हैं और ऐसा कोई नहीं है, जो उनका/उनकी लवर नहीं हो सकता/सकती।” सदगुरु ने आगे कहा, “दुर्भाग्य से किसी ने लवर का मतलब सेक्शुअलिटी से जोड़ दिया और उसके बारे में अपमानजनक महसूस करने लगे। जिन्हें वाकई ठेस पहुंची, मैं उनसे माफी मांगता हूं।”

पहले भी ट्रोल्स पर भड़क चुकीं कंगना

कंगना रनोट (Kangana Ranaut) पहले भी सदगुरु को ट्रोल करने वालों को करारा जवाब दे चुकी हैं। मसलन, 8 मार्च को महिला दिवस के मौके पर जब सदगुरु ने स्त्री को एक आयाम बताया था तो सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें निशाने पर ले लिया था। तब कंगना ने उनके बचाव में पोस्ट की थी। एक्ट्रेस ने लिखा था, “जिन इडियट्स को चूहों का आईक्यू और कीड़ों को अस्तित्व मिला है, वे स्त्री को एक लिंग नहीं बल्कि आयाम बताने पर सदगुरु को निशाना बना रहे हैं। वे यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि उनके पास सूर्य और चंद्रमा हैं, उनकी मां और पिता, मर्द और स्त्री दोनों उनमें हैं। बेवकूफ अपने आपकों शर्मिंदा करना बंद करें।

.