यूपी के 35% विधायक दागी, 79% करोड़पति

0
71
.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले यूपी इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म (ADR) की ताजा रिपोर्ट से पता चला है कि यूपी के मौजूदा विधानसभा में करीब 35% विधायकों यानी कुल 396 विधायकों में 140 विधायकों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं और इनमें से 27% विधायकों पर गंभीर आपराधिक केस हैं. इसके अलावा मौजूदा विधानसभा के कुल 79 फीसदी विधायक करोड़पति हैं. बता दें कि 403 सदस्यीय उत्तर प्रदेश विधानसभा में फिलहाल 396 विधायक हैं, जबकि सात सीटें खाली हैं।

यूपी इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, मऊ से विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ सबसे ज्यादा 16 मुकदमे दर्ज हैं. वहीं पार्टी वार बात करें तो भाजपा के 304 में से 106 विधायकों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि सपा के 49 में 18, बसपा के 18 में से दो और कांग्रेस के एक विधायक दागी हैं।

बीजेपी के पास सबसे ज्यादा करोड़पति विधायक 
वहीं विधायकों की संपन्नता की बात करें तो विधानसभा के 396 में 313 (79%) विधायक करोड़पति हैं. इनमें सबसे ज्यादा करोड़पति विधायक भाजपा के हैं, जिनके 304 में 235 विधायक करोड़पति हैं. इसके बाद सपा का नंबर आता है, जिनके 49 में 42 (86 प्रतिशत) विधायक करोड़पति हैं. वहीं बसपा के 16 में 15 विधायक और कांग्रेस के 7 में पांच विधायक करोड़पति हैं।

बसपा विधायक सबसे अमीर
संपन्नता में मुबारकपुर सीट से बसपा के गुड्डू जमाली सबसे आगे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, बसपा के विधायकों की औसतन संपत्ति 5.85 करोड़ है. बसपा विधायकों की औसत सम्पत्ति 19.27 करोड़, कांग्रेस की 10.06 करोड़, सपा की 6.07 और बीजेपी विधायकों की औसत संपत्ति 5.04 करोड़ है. वहीं 49 विधायकों ने देनदारी एक करोड़ या उससे अधिक घोषित की है।

यूपी इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म की रिपोर्ट के मुताबिक, मौजूदा विधानसभा के 73 फीसदी विधायक स्नातक या उससे ज्यादा पढ़े-लिखे हैं. वहीं 24 फीसदी विधायक बारहवीं तक पढ़े हैं, जबकि चार विधायक साक्षर हैं और पांच विधायक डिप्लोमाधारक हैं।

.