Home Blog

यूपी उपचुनाव की तैयारी में जुटी कांग्रेस, हर सीट से आवेदन लेने के लिए बनाई कमेटी

0
Congress preparation UP by-election committee formed every seat

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में आगामी होने वाले उपचुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी ने अपने संगठन के कील-कांटे दुरुस्त करते हुए, पूरी ताकत से उपचुनावों में उतरने का फैंसला लिया है।

उल्लेखनीय है कि आने वाले दिनों में प्रदेश में 8 विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने जा रहे हैं। चुनावी तैयारी के तहत हर सीट से आवेदन लेने हेतु कमेटी का गठन किया गया है। प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में बनी कमेटी प्रत्याशियों के आवेदन/चयन का काम करेगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) जी ने आज उपरोक्त कमेटियों का गठन किया है। नौगवां सादात (अमरोहा), बुलंदशहर, टुंडला (फिरोजाबाद), स्वार (रामपुर), बांगरमऊ (उन्नाव), घाटमपुर (कानपुर देहात), मल्हनी (जौनपुर) और देवरिया सदर सीट पर उपचुनाव होने है।

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) ने बताया कि घाटमपुर(सु0) सीट की जिम्मेदारी पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, पूर्व मंत्री आर0के0 चौधरी एवं पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश दीक्षित जी को दी गयी है। इसके अलावा मल्हनी सीट की जिम्मेदारी पूर्व विधायक अजय राय, पूर्व विधायक राम जियावन तथा पार्टी के महासचिव मकसूद खान को सौंपी गयी है। देवरिया सदर सीट की जिम्मेदारी पूर्व विधायक नदीम जावेद, पूर्व सांसद बालकृष्ण चैहान व पार्टी के महासचिव विश्वविजय सिंह को दी गयी है।

बांगरमऊ सीट की जिम्मेदारी कानपुर कैण्ट से विधायक एवं प्रदेश उपाध्यक्ष सुहैल अख्तर अंसारी, पूर्व विधायक संजीव दरियाबादी और पार्टी के महासचिव विवेकानन्द पाठक को सौंपी गयी है। टूण्डला विधानसभा की जिम्मेदारी वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पूर्व मंत्री दीपक कुमार और प्रदेश महासचिव बदरूद्दीन कुरैशी को दी गयी है।

नौगवां सादात की जिम्मेदारी पूर्व सांसद प्रवीन सिंह ऐरन, विधायक नरेश सैनी, प्रदेश महासचिव अली यूसुफ अली को सौंपी गयी है। बुलन्दशहर की जिम्मेदारी पूर्व सांसद हरेन्द्र मलिक, विधायक मसूद अख्तर, कांग्रेस महासचिव विदित चौधरी तथा रामपुर विधानसभा क्षेत्र की जिम्मेदारी पूर्व सांसद राशिद अल्वी, पूर्व विधायक नरेन्द्र पाल गंगवार तथा कांग्रेस महासचिव ब्रम्हस्वरूप सागर को सौंपी गयी है।

.

लखनऊ- यूपी कांग्रेस अध्यक्ष ने वरिष्ठ पत्रकार संजीव शर्मा के निधन पर जताया शोक

0
Ajay Kumar Lallu mourns death senior journalist Sanjeev Sharma

लखनऊ. राष्ट्रीय प्रस्तावना समाचारपत्र के वरिष्ठ पत्रकार संजीव शर्मा के आज हुए आकस्मिक निधन पर उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति एवं शोक संतप्त परिजनों को इस असह्य दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) जी ने पशुधन घोटाले के बाद अब खाद्य एवं रसद आपूर्ति विभाग में नमक की आपूर्ति के ठेके को लेकर राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद पर घोटाले की उंगलियां उठ रही हैं जिस पर मुख्यमंत्री चुप क्यों हैं? आखिर घोटालेबाजों के खिलाफ मुख्यमंत्री कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जैसा कि मीडिया रिपोर्ट में खबरें आ रही हैं कि पशुधन घोटाले के मुख्य आरोपी आशीष राय का राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद के करीबी होने के भी मीडिया में खबरें आ रही हैं ये खबरें योगी राज में घोटाले दर घोटाले की परत खोल रही हैं।

अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) ने कहा कि पशुधन घोटाले के बाद अब नमक घोटाले में योगी सरकार के राज्यमंत्री का नाम मीडिया रिपोर्टों में आने के बाद इन घोटालों की CBI जांच कराई जाए, ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। सच्चाई सामने आ सके कि आखिर इन घोटालों में दोषी कौन है? आखिर मुख्यमंत्री जी कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं? डीएचएफएल घोटला हो, पीपीई किट घोटाला, जूता और ड्रेस घोटाला, होमगार्ड ड्यूटी घोटाला, 69 हजार भर्ती घोटाला सहित दर्जनों गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप योगी सरकार पर लग चुके हैं और मुख्यमंत्री साजिशी चुप्पी साधे हुए हैं। संस्थागत भ्रष्टाचार पर मुख्यमंत्री को जनता को जवाब देना ही होगा।

.

पशुधन घोटाले के बाद अब नमक घोटाले में राज्यमंत्री की संलिप्तता की CBI जांच कराई जाए – अजय कुमार लल्लू

0
Ajay Kumar Lallu

लखनऊ. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) जी ने पशुधन घोटाले के बाद अब खाद्य एवं रसद आपूर्ति विभाग में नमक की आपूर्ति के ठेके को लेकर राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद पर घोटाले की उंगलियां उठ रही हैं जिस पर मुख्यमंत्री चुप क्यों हैं? आखिर घोटालेबाजों के खिलाफ मुख्यमंत्री कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जैसा कि मीडिया रिपोर्ट में खबरें आ रही हैं कि पशुधन घोटाले के मुख्य आरोपी आशीष राय का राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद के करीबी होने के भी मीडिया में खबरें आ रही हैं ये खबरें योगी राज में घोटाले दर घोटाले की परत खोल रही हैं।

अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) ने कहा कि पशुधन घोटाले के बाद अब नमक घोटाले में योगी सरकार के राज्यमंत्री का नाम मीडिया रिपोर्टों में आने के बाद इन घोटालों की CBI जांच कराई जाए, ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके।

सच्चाई सामने आ सके कि आखिर इन घोटालों में दोषी कौन है? आखिर मुख्यमंत्री जी कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं? डीएचएफएल घोटला हो, पीपीई किट घोटाला, जूता और ड्रेस घोटाला, होमगार्ड ड्यूटी घोटाला, 69 हजार भर्ती घोटाला सहित दर्जनों गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप योगी सरकार पर लग चुके हैं और मुख्यमंत्री साजिशी चुप्पी साधे हुए हैं। संस्थागत भ्रष्टाचार पर मुख्यमंत्री को जनता को जवाब देना ही होगा।

.

योगीराज में एक के बाद एक घोटालों की परत-दर-परत खुलना जारी – अजय कुमार लल्लू

0
ajay kumar lallu

लखनऊ. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) जी ने पशुधन घोटाले के बाद अब खाद्य एवं रसद आपूर्ति विभाग में नमक की आपूर्ति के ठेके को लेकर राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद पर घोटाले की उंगलियां उठ रही हैं जिस पर मुख्यमंत्री चुप क्यों हैं? आखिर घोटालेबाजों के खिलाफ मुख्यमंत्री कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जैसा कि मीडिया रिपोर्ट में खबरें आ रही हैं कि पशुधन घोटाले के मुख्य आरोपी आशीष राय का राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद के करीबी होने के भी मीडिया में खबरें आ रही हैं ये खबरें योगी राज में घोटाले दर घोटाले की परत खोल रही हैं।

अजय कुमार लल्लू(Ajay Kumar Lallu) ने कहा कि पशुधन घोटाले के बाद अब नमक घोटाले में योगी सरकार के राज्यमंत्री का नाम मीडिया रिपोर्टों में आने के बाद इन घोटालों की CBI जांच कराई जाए, ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। सच्चाई सामने आ सके कि आखिर इन घोटालों में दोषी कौन है? आखिर मुख्यमंत्री जी कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं? डीएचएफएल घोटला हो, पीपीई किट घोटाला, जूता और ड्रेस घोटाला, होमगार्ड ड्यूटी घोटाला, 69 हजार भर्ती घोटाला सहित दर्जनों गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप योगी सरकार पर लग चुके हैं और मुख्यमंत्री साजिशी चुप्पी साधे हुए हैं। संस्थागत भ्रष्टाचार पर मुख्यमंत्री को जनता को जवाब देना ही होगा।

.

यूपी- थाने की जीप की स्टेयरिंग फेल, एसओ समेत चार पुलिस कर्मी घायल

0
UP Police station jeep fails four police personnel including SO injured

मऊ. मऊ के दोहरीघाट थाने की जीप की स्टेयरिंग फेल होने से एसओ समेत चार पुलिस कर्मी घायल हो गये हैं। जीप दीवार तोड़ते हुए सड़क के किनारे स्थित गुरुकुल में घुस गई। इस दुर्घटना में एसओ सहित चार पुलिस कर्मी घायल हो गए। मौके पर पहुंची एंबुलेंस से सभी को दोहरीघाट स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। वहां जीप चला रहे पुलिसकर्मी की हालत गम्‍भीर देख डॉक्‍टरों ने उन्‍हें वाराणसी में हॉयर सेंटर के लिए रेफर कर दिया।

दोहरीघाट थाना क्षेत्र के बुढ़ावर के पास थाने की जीप की स्टेयरिंग फेल हो गई। जीप सड़क के किनारे गुरूकुल की दीवार तोड़ते हुये घुस गई। इसमे एसओ समेत चार पुलिस कर्मी घायल हो गये। मौके पर पहुंची एंबुलेंस से दोहरीघाट स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।

एसओ एसएन यादव बुधवार की सुबह बैंक चेकिंग के लिये अपने हमराही सिपाहियों के साथ कोरौली जा रहे थे।घायलों में चालक अनिल, सिपाही सौरभ, सुनील समेत चार पुलिस कर्मी घायल हो गये। घायल पुलिस कर्मियों को निकट के स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया। यहां पर चालक अनिल की हालत गंभीर देख डाक्टरों ने वाराणसी के लिये रेफर कर दिया।

.

यूपी विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दीर्घायु जीवन की कामना

0
UP Legislative Speaker Hriday Narayan Dixit wishes Prime Minister Narendra Modi long life

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए उनके दीर्घायु जीवन की कामना की है। विधान सभा अध्यक्ष ने इस अवसर पर कहा कि नरेंद्र मोदी जी दुनिया के सर्वाधिक लोकप्रिय नेता है। उन्होंने भारत को पूरी दुनिया में प्रसिद्धि प्रदान की है। भारतीय संस्कृति से जुड़ी योग जैसी प्राचीन विधा को उनके प्रयत्नों से अन्तर्राष्ट्रीय मान्यता मिली।

विधान सभा के अध्यक्ष ने शुभकामना की है कि पीएम मोदी दीर्घायु हो

कोरोना महामारी संयुद्ध में उनकी भूमिका सारी दुनिया में सराही गई है। पीएम मोदी ने भारत को पूरे विश्व के परिदृश्य में एक मजबूत, सुरक्षित, आत्मनिर्भर और विश्वसनीय राष्ट्र के रूप में पहचान दिलायी है। विधान सभा के अध्यक्ष ने शुभकामना की है कि पीएम मोदी दीर्घायु हो। भारत उनके नेतृत्व में उत्तरोत्तर प्रगति करते हुए सफलता के नये क्षितिज स्पर्श करें।

उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित ने विश्वकर्मा जयन्ती के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए उनकी सुख-समृद्धि की कामना की है। विधान सभा अध्यक्ष ने अपने संदेश में कहा है कि आदि शिल्पी विश्वकर्मा सृजन व निर्माण के देवता है। उनकी पूजा का अर्थ है कि सृजन व निर्माण के द्वारा हमें देश की समृद्धि का हित चिंतन करना चाहिए।

गौरतलब है कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री के 70वें जन्मदिन पर ‘सेवा सप्त’ नाम से एक सप्ताह का अभियान शुरू किया है. इस मौके पर देशभर में पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा कई सामाजिक पहल की जा रही है. यह अभियान पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा द्वारा उत्तर प्रदेश के गौतम बौद्ध नगर के छपरौली गांव में शुरू किया गया था जो कि 20 सितंबर तक जारी रहेगा.

.

आजमगढ़- अवैध असलहा बनाने वाले उपकरण के साथ एक अभियुक्त गिरफ्तार

0
Azamgarh One accused arrested illegal equipment

आजमगढ़. आजमगढ़ के रौनापार थाना क्षेत्र में अवैध असलहा और कारतूस बनाने वाले उपकरण के साथ एक अभियुक्त को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मुखबिर खास से सूचना मिली की इस समय रोशनगंज गांव के पास गन्ना के खेत में कुछ लोग कट्टा बना रहे हैं।

Azamgarh One accused arrested illegal equipment

इस सूचना पर थाना अध्यक्ष रौनापार द्वारा उप निरीक्षक को अवगत कराते हुए पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर देखा गया तो तीन व्यक्ति रोशनी में दिखाई दिए रोशनी के पास पहुंच कर रोक तो किया गया तो वहां मौजूद तीनों अभियुक्त भागने लगे पुलिस द्वारा दौड़ाकर एक व्यक्ति को शाम 6: 55 गिरफ्तार कर लिया गया नाम और पता पूछे जाने पर अपना नाम राजेश राम निवासी रोशन गंज थाना रौनापार बताया जिसकी तलाशी लेने पर अभियुक्त के पास से एक कट्टा 2 अदद जिंदा कारतूस 315 बोर। बरामद हुआ।

दो अभियुक्त अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे

फरार अभियुक्तों के बारे में पूछताछ करने पर पता चला कि अभियुक्त जुगनू और रामनाथ दोनों मेरे दोस्त हैं अभियुक्त गण आपस में मित्र हैं और 3 लोग भी का कट्टा बनाते हैं बने हुए कट्टे को आसपास के इलाके में बेच कर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं मौके पर मौजूद सामानों को देखा गया तो कट्टा बनाने का उपकरण के साथ ही वहां रखी बोरी से एक कट्टा दो अदद जिंदा कारतूस 315 बोर बरामद हुआ।

.

एक रुपए का फटा नोट अब आप को बना देगा करोड़पति, आप भी ट्राई कर सकते हैं…

0
One rupee note make you millionaire also try

New Delhi. रोजमर्रा की जिंदगी में हमारे पास कई ऐसे नोट आते हैं जिसे हम दुकानदार को या बैंक में जमा कर देते हैं। इनमें से कई ऐसे नोट भी होते हैं जिनके सीरियल नंबर काफी दुर्लभ होते हैं। ये आसानी से नहीं मिलते। दुनिया भर में ऐसे बहुत से शौकीन हैं जिन्‍हें ऐसे नोट जमा करने का शौक है।

One rupee note make you millionaire also try

 

अगर आप के पास ऐसे ही खास नंबरों वाले नोट हों तो इन्हें बेचकर आप भी करोड़पति बन सकते हैं। आपको यह मौका एक ई-कॉमर्स वेबसाइट दे रही है। यहां आप 1 रुपये से 1000 रुपये तक के नोट को लाखों-करोड़ों में बेच सकते हैं।

एक रुपये की क्‍या वैल्‍यू होती है। आजकल के दौर में शायद कुछ भी नहीं। लेकिन क्‍या आपने कभी सोचा है कि 1 रुपए का नोट आपको करोड़पति बना सकता है। जी हां, ये सच है।

1 रुपये का नोट ग्यारह लाख रुपये में

ई-कॉमर्स वेबसाइट पर मोंटेक सिंह अहलूवालिया के सिगनेचर वाला 1 रुपये का नोट ग्यारह लाख रुपए में बेचा जा रहा है। इस वेबसाइट पर ज्यादातर नोटों की ही बोली लगाई जाती है, जो ज्यादा रुपए की बोली लगाएगा उसे ये नोट दिया जाएगा।

1000 के नोट की कीमत 1 करोड़

इसी तरह 1000 रुपये का नोट भी वेबसाइट पर बेचा जा रहा है। इसकी कीमत है 1 करोड़ रुपए। बेचने वाले का दावा है कि इस नोट पर प्रिंटिंग के समय इंक गिर गयी है और उसके सीरियल नंबर भी काफी दुर्लभ हैं।

100 रुपये के नोट की कीमत 2 लाख 50 हजार

ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ही 100 रुपए के दो नए नोट दो लाख पचास हजार रुपए में बेचे जा रहे हैं। इन नोटों की खासियत ये हैं कि इनके सीरियल नंबर के आखिर में 786 और छह जीरो (000000) हैं।

नोट की है अलग कैटेगरी

यहां बिकने वाले कुछ नोट अलग कैटेगरी के भी हैं। इन नोटों में मिसप्रिंट वाले नोट भी हैं। कई नोटों में सीरियल नंबर नहीं हैं। उन नोटों की कीमत भी लाखों में है। यहां अलग-अलग तरीके के नोट की लिस्ट है जिनमें मिसप्रिंट, एरर, फैंसी नंबर्स, 786, 500, 1000 और 1 के दुर्लभ नोट शामिल हैं।

आप भी बन सकते हैं करोड़पति

आमतौर पर तो हम कभी भी नोट को किसी दुकानदार या बैंक में देने से पहले उनका नंबर नहीं देखते हैं। लेकिन अगली बार आप किसी भी दुकानदार या बैंक में जमा करने से नोट को ध्यान से जरूर देख लें। हो सकता है वो नोट आपकी भी किस्मत बदलकर रातोंरात करोड़पति बना दे।

.

आजमगढ़- पीएम मोदी के 70वें जन्मदिन के अवसर पर किया गया स्वच्छता कार्यक्रम का आयोजन

0
Azamgarh Sanitation program occasion PM Modi 70th birthday

आजमगढ़. पं दीनदयाल उपाध्याय चौक पर स्वच्छता अभियान भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष आजमगढ़ सदर ध्रुव सिंह के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70 वें जन्मदिवस के अवसर पर चल रहे सेवा सप्ताह कार्यक्रम के अन्तर्गत बुधवार को 70 स्थानों पर स्वच्छता कार्यक्रम किया गया।

जिलाध्यक्ष आजमगढ़ सदर ध्रुव सिंह ने कहा की भारतीय जनता पार्टी राजनीति के माध्यम से जन सेवाका कार्य करती है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने अपना जीवन देश सेवा को समर्पित किया है। इसलिए हम भाजपा कार्यकर्ताओं ने सेवा के माध्यम से उनका जन्मदिन मनाने का सेवा सप्ताह कार्यक्रम कर रहे हैं।

नगर के पं. दीनदयाल उपाध्याय चौराहे पर जिला उपाध्यक्ष अवनीश मिश्रा के नेतृत्व में स्वच्छता कार्यक्रम के अन्तर्गत साफ सफाई की गई।इस अवसर पर प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अखिल मिश्रा गुड्डू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70 वें जन्मदिन को भारतीय जनता पार्टी सेवा सप्ताह के रूप में मना रही है । इस क्रम में 14 सितंबर को ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया गया था। 15 सितंबर को 70 गरीब भाई बहनों को चश्मा का वितरण किया गया था। और बुधवार को जिला मुख्यालय के 70 सार्वजनिक स्थानों पर स्वच्छता अभियान कार्यक्रम किया गया।

17 सितंबर को जनप्रतिनिधियों के सहयोग से दिव्यांगो को विभिन्न उपकरण एवं कृत्रिम अंग प्रदान किया जाएगा। 17 सितंबर को 70 गरीब बस्तियों और अस्पतालों में फल वितरित किया जाएगा । 18 सितम्बर को 70 गांवों में स्वच्छता अभियान कार्यक्रम और प्लास्टिक मुक्त का संकल्प लिया जाएगा। 19 सितंबर को 70 ग्राम पंचायतों में पौधारोपण कार्यक्रम किया जाएगा। 18 से 20 सितम्बर तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के व्यक्तित्व व कृतित्व पर सेमिनार का आयोजन किया जाएगा।

इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष किसान मोर्चा घनश्याम सिंह पटेल, रामाधीन सिंह, प्रेम प्रकाश राय, जयनाथ सिंह, नन्हकूराम सरोज, अवनीश मिश्रा, हरिवंश मिश्रा, पूनम सिंह, मयंक गुप्ता, राकेश सिंह, राजेश सिंह महुवारी, दिवाकर सिंह, विवेक निषाद, मृगांक शेखर सिन्हा, विनीत सिंह गौतम, सुनील मिश्रा,पंकज सिंह, मंजूल वर्मा, अभिनव श्रीवास्तव, राजीव शुक्ला मोनू विश्वकर्मा पूनम शर्मा पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

.

यूपी- नई नवेली दुल्हन बनी मां, प्रेमी के कहने पर महिला ने पिता-भाई के खिलाफ रची थी साजिश, DNA टेस्ट में खुलासा…

0
UP bride mother woman conspiracy against father-brother lover unnao

उन्नाव. उत्तर प्रदेश की उन्नाव पुलिस ने एक खौफनाक साजिश का खुलासा किया है। महिला ने अपने पिता और अपने भाईयों के खिलाफ देहव्यापार कराने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जांच मे जुटी पुलिस ने मामले का खुलासा किया है।

पुलिस ने प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है

पुलिस जांच खुलासा हुआ कि महिला ने अपने ही पिता व सगे-चचेरे भाइयों पर शारीरिक शोषण का आरोप लगा झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जांच में खुलासा हुआ कि महिला ने प्रेमी के कहने पर अपनों को फंसाने की साजिश रची थी। पुलिस ने प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।

लखनऊ के बंथरा थाना क्षेत्र की रहने वाली महिला ने 29 दिसंबर 2019 को एसपी से मिलकर आरोप लगाया था कि पिछले तीन साल से उसके पिता और भाई उससे देह व्यापार करा रहे हैं। उन्होंने खुद भी उससे दुष्कर्म (Rape) किया। इस दौरान सात माह का गर्भ ठहरने की जानकारी पर पिता ने 19 अप्रैल 2019 को उसकी शादी उन्नाव के सदर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में कर दी।

विवाह के 17 दिन बाद 6 मई को प्रसव पीड़ा शुरू होने पर उसे ससुरालियों को सच बताना पड़ा। सच जानने के बाद ससुरालियों ने उसे एक नर्सिंगहोम में भर्ती कराया था, जहां उसने बेटे को जन्म दिया था। महिला का आरोप था कि बच्चे के जन्म के बाद जब ससुरालियों ने मायके पक्ष के लोगों को बुलाया तो उन्होंने ससुर को जान से मारने की नीयत से हमला कराया पर वह बच गए।

इसी के बाद उसने उस समय एसपी रहे विक्रांतवीर से मिलकर आपबीती सुनाई। एसपी के निर्देश पर 29 दिसंबर 2019 को महिला थाना पुलिस ने महिला की तहरीर के आधार पर उसके पिता दो सगे व चचरे भाइयों समेत 10 लोगों पर सामूहिक दुष्कर्म (Gangrape), जान की धमकी, मारपीट समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की थी।

मंगलवार को घटना का खुलासा करते हुए महिला थाना एसओ इंद्रपाल सिंह सेंगर ने बताया कि शादी के दो वर्ष पहले से महिला के लखनऊ के बंथरा थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी दिलीप नाम के युवक से अवैध संबंध थे।

इसी दौरान गर्भ ठहरने पर उसकी दूसरे युवक से शादी कर दी गई। शादी के 17 दिन बाद बच्चे के जन्म लेने पर महिला ने अपने गुनाह को छिपाने के लिए प्रेमी के कहने पर पिता समेत अन्य पर आरोप मढ़ दिया। आरोपी दिलीप और पीड़िता के परिवार के साथ बच्चे का डीएनए सैंपल (DNA Sample) कराया गया तो बच्चा दिलीप का निकला। इस पर आरोपी दिलीप को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

.

यूपी में एक और घोटाला- शक के घेरे में आए राज्य मंत्री से पूछताछ की तैयारी में पुलिस…

0
scam UP Police preparing

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में एक और नए घोटाले की खबर सामने आ रही है। सुत्रों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में अधिकारियों- मंत्रियों की मिलीभगत से नमक की सप्लाई का ठेका दिलाने के नाम पर करोंड़ों के फर्जीवाडे की खबर सामने आ रही है। जिसके बाद पशुधन राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद (Jai Prakash Nishad) शक के घेरे में आ गए हैं।3

scam UP Police preparing interrogate Minister State suspicion

राज्य मंत्री जयप्रकाश निषाद की संलिप्पतता का शक है

सुत्रों के मुताबिक, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में नमक की सप्लाई का ठेका दिलाने के नाम पर हुए करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में भी पशुधन राज्य मंत्री जयप्रकाश निषाद (Jai Prakash Nishad) की संलिप्पतता का शक है. जानकारी इकट्ठा करने के लिए राज्यमंत्री से पुलिस पूछताछ करेगी.

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के स्वास्थ्य में सुधार, लखनऊ PGI में जारी है कोरोना का इलाज

राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद (Jai Prakash Nishad) को पूछताछ के लिए नोटिस भेजने की तैयारी है. मंत्री से पशुधन फर्जीवाड़े में एसीपी गोमती नगर पूछताछ कर चुकी है. इन दोनों फर्जीवाड़े के मुख्य आरोपी आशीष राय का मंत्री के दफ्तर में काफी आना-जाना था. पुलिस को शक है कि मंत्री को भी इस नए फर्जीवाड़े की जानकारी हो सकती है.

पशुधन विभाग मे ठेका दिलाने के नाम पर करोड़ों रूपये ठगे

आपको बता दें, यूपी के पशुपालन विभाग में आटे की सप्लाई के नाम पर ठगी हुई थी. इसमें गुजरात के व्यापारी नरेन्द्र पटेल ने एफआईआर दर्ज करायी थी, जिसमें पत्रकारों अधिकारियों ने व्यापारी को पशुधन विभाग मे ठेका दिलाने के नाम पर करोड़ों रूपये ठगे थे. पशुपालन विभाग के मामले की जांच के दौरान ही खाद्य एवं आपूर्ति विभाग का फर्जीवाड़ा सामने आया था.

.

यूपी- स्वास्थ्य विभाग में 50 साल से अधिक उम्र के बाबुओं की स्क्रीनिंग और छंटनी के आदेश

0
UP Health Department

लखनऊ. योगी सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है। पुलिस विभाग के बाद अब स्वास्थ्य विभाग में 50 साल से अधिक उम्र वाले बाबुओं की स्क्रीनिंग और छटनी के आदेश दिए हैं। इसके लिए योगी सरकार ने 4 सदस्यीय टीम का गठन भी किया गया है। आपको बता दें, इससे पहले योगी सरकार ने पुलिस विभाग में 50 साल से अधिक उम्र वाले पुलिसकर्मियों की स्क्रीनिंग और छटनी के आदेश दिए थे।

योगी सरकार (Yogi Government) ने तय किया है कि कार्यालयों और अस्पतालों में भ्रष्टाचार में लिप्त और खराब परफार्मेंस वाले 50 वर्ष से अधिक आयु के बाबुओं को सूचीबद्ध कर इन्हें जबरन रिटायर किया जाएगा। इसके लिए चार सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी बनाई गई है। स्क्रीनिंग कमेटी को आदेश दिए गए हैं कि खराब परफार्मेंस वाले क्लर्कों को सूचीबद्ध करें, ताकि इन्हें तत्काल रिटायर किया जा सके।

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग ने कार्यालयों और अस्पतालों में कार्यरत लिपिकों की दक्षता सुनिश्चित करने और अनिवार्य सेवानिवृत्ति के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का गठन (Screening committee constituted) कर दिया है। निदेशक (प्रशासन) डॉ. पूजा पांडेय की ओर से स्क्रीनिंग कमेटी के गठन के आदेश जारी कर दिए गए हैं। 50 वर्ष से अधिक आयु के क्लर्कों को स्क्रीनिंग कर जबरन रिटायर किया जाएगा। स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष अपर निदेशक (प्रशासन) को बनाया गया है, वहीं संयुक्त निदेशक (कार्मिक), संयुक्त निदेशक (मुख्यालय) और वरिष्ठ लेखाधिकारी को सदस्य बनाया गया है।

स्क्रीनिंग कमेटी के गठन के आदेश का पत्र जारी होने के बाद स्वास्थ्य विभाग में कर्मचारियों में बैचेनी बढ़ गई है। बाबुओं के बीच इस स्क्रीनिंग कमेटी को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई हैं। कौन रहेगा और कौन बाहर होगा, इसे लेकर वे दशहत में हैं। उधर, निदेशक (प्रशासन) डॉ. पूजा पांडेय की ओर से स्क्रीनिंग कमेटी को निर्देश दिए गए हैं कि वह स्क्रीनिंग की प्रक्रिया जल्द शुरू करें और खराब परफार्मेंस वाले बाबुओं को सूचीबद्ध करें, ताकि इन्हें तत्काल रिटायर किया जा सके।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में पिछले तीन सालों में लगतार स्वास्थ्य विभाग में हुई कई घटनाओं से सरकार की किरकिरी हुई है। तमाम कोशिशों के बाद भी स्वास्थ्य विभाग में कोई सुधार देखने को नहीं मिला है। इन सभी बिंदुओं को देखते हुए योगी सरकार (Yogi Government) ने खराब परफार्मेंस वाले बाबुओं को सूचीबद्ध कर जबरन रिटायर करने का फैसला लिया है। इस आदेश के बाद विभाग के कर्मचारियों में हड़कंप की स्थिति है। फैसले से नाराज लिपिक संवर्ग ने 14 अक्टूबर को आंदोलन करने का ऐलान किया है। स्वास्थ्य विभाग में प्रदेश भर में लिपिक संवर्ग के 1400 से 1500 कर्मचारी तैनात हैं। इनमें से 50 से ज्यादा उम्र के करीब 30 से 40 प्रतिशत कर्मचारी हैं।

.

सरकार ने ठुकराई मजदूरों को मुआवजा देने की मांग, कहा- कोरोना काल में मरने वाले श्रमिकों का कोई ब्यौरा नहीं

0
Government rejects laborers says no details workers died Corona period

नई दिल्ली. श्रम मंत्रालय भारत सरकार ने लोकसभा में बताया है कि निश्चित संख्या मजदूरों की मौत की नही है, ऐसे में मुआवजा देने का ‘कोई सवाल ही नहीं उठता है’। सोमवार को लोकसभा में सरकार से पूछा गया था कि लॉकडाउन में अपने घरों तक जाने की कोशिश में प्रवासी मजदूर की जो मौत हुई है उनके परिवार वालो को सरकार ने कितना मुआवजा दिया है?

 

सरकार ने जो लोकसभा में उत्तर दिया उस पर सदन में विपक्षी दल हंगामा करने लगे और सरकार की आलोचना करने लगे। श्रम मंत्रालय भारत सरकार के सदन में बताया कि लॉकडाउन के समय लगभग 1 करोड़ से ऊपर मजदूर देश के कोनों-कोनो से अपने गृह प्रदेश पहुंचे हैं।

केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने एक लिखित उत्तर में सदन को बताया कि सरकार ने प्रवासी मजदूरों की संख्या की कोई सूची नही बनाया है। श्रम मंत्री के बयान पर कांग्रेस नेता दिग्विजिय सिंह ने कहा कि ‘यह कितने अफसोस जनक बात है कि श्रम मंत्रालय के पास प्रवासी मजदूरों की मौत पर कोई रिकार्ड नहीं है, ऐसे में मुआवजे का कोई सवाल नहीं उठता है।

केंद्रीय श्रम मंत्री ने कहा कि मुझे लगता है कि यहां पर सब अंधेर नगरी है या सरकार इसका फायदा उठा रही है।
मार्च में प्रधानमंत्री ने जब पूरे भारत में लॉकडाउन लगाने की घोषणा किया था, उसी के बाद लाखो मजदूर बेघर और रोजगार विहीन हो गए थे, जिसके बाद वो अपने-अपने घरों की ओर जाने के लिए विवश हो गये थे।जिनको जो भी घर जाने का साधन मिला उसी से आ रहे थे, जिनको साधन नही मिला वो पैदल ही चल दिए थे। ये मजदूर कई दिनों तक भूखे-प्यासे पैदल चलते रहे। बहुत से मजदूरों ने घर पहुंचने से पहले ही रास्ते में ही दम तोड़ दिया था।

विपक्ष के विरोध और आलोचनाओं के बाद भारत सरकार ने राज्यों से बॉर्डर सील करने का निर्णय लिया था और उसके बाद मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई गईं थी। ये बताते चलें कि इन ट्रेनों अव्यवस्थाओं का अम्बार था, मजदूरों की पैदल चलना या रोड के जरिए अपना जारी रखा था और इस दौरान बहुत से मजदूरों की रोड दुर्घटनाओं में मौत हो गई।

.

लखनऊ- सीएम योगी आदित्यनाथ आज शाम 6 बजे बस्ती मंडल की करेंगे समीक्षा !

0

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी का कहर जारी है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंडलीय समीक्षा बैठक जारी है। इसी कड़ी में सीएम योगी आज शाम 6 बजे बस्ती मंडल की समीक्षा करेंगे। इस दौरान बस्ती मंडल के सभी जिला अधिकारी और प्रशासनिक अफसर मौजूद रहेंगे।

बस्ती मंडल के सांसद और विधायक भी कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल होंगे। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या, सहारनपुर, चित्रकूट, मुरादाबाद, विंध्याचल धाम, आजमगढ़, आगरा मंडल की समीक्षा कर चुके हैं।

सीएम योगी बस्ती मंडल के अफसरों के साथ विकास कार्यो की समीक्षा करेंगे। सीएम योगी कोविड नियंत्रण के साथ विभिन्न परियोजनाओं की समीक्षा करेंगे।

.

लखनऊ- यूपी की नौकरशाही, आईपीएस अफसरों के बुरे दिन !

0
Lucknow UP bureaucracy bad days of IPS officers

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में इस वक्त आईपीएस अफसरों का बुरा वक्त चल रहा है। तमाम सांसद और विधायक जिलों में तैनात पुलिस अफसरों पर मनमानी के आरोप लगा रहें है। वहीं सरकार ने भी कई पुलिस कप्तानों के खिलाफ भ्रष्टाचार के प्रकरणों को लेकर एक्शन लिया है। कुल सात आईपीएस अफसर वर्तमान में निलंबित चल रहें हैं। और पांच आईपीएस निलंबित किए जाने की कगार पर हैं।

संपत्ति की जांच विजलेंस से कराने के आदेश

एसपी स्तर के दो पुलिस अफसरों अभिषेक दीक्षित और मणिलाल पाटीदार को तो मुख्यमंत्री ने निलंबित करते हुए उनकी संपत्ति की जांच विजलेंस से कराने के आदेश जारी कर दिए हैं। बीते साढ़े तीन वर्षों में किसी अखिल भारतीय सेवा के अफसर के खिलाफ इतनी सख्त कार्रवाई राज्य में नहीं हुई हैं।

मायावती के शासनकाल में जरुर पुलिस भर्ती घोटाले को लेकर 25 आईपीएस अफसर निलंबित किये गए थे। उसके बाद यह दूसरा मौका है जब सात आईपीएस अफसर निलंबित हैं और पुष्पांजलि देवी, नेहा पाण्डेय तथा अष्टभुजा सिंह, अजय पाल और हिमांशु कुमार पर निलंबन की तलवार लटक रही हैं।

डीजीपी से इस संबंध राय माँगी गई है

इनमें तीन अफसरों पर सीबीआई ने आरोप लगाया है कि इन लोगों ने नाबालिग लडकी से हुए बलात्कार के मामले में मिली शिकायत पर उचित एक्शन नहीं लिया। गृह विभाग ने इस प्रकरण को लेकर उक्त अफसरों के खिलाफ क्या एक्शन लिया जाए? डीजीपी से इस संबंध में उनकी राय माँगी गई है।

डीजीपी का मत मिलते ही इन तीनों आईपीएस अफसरों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। जबकि अजय पाल और हिमांशु कुमार के खिलाफ विजलेंस महकमें ने केस दर्ज करने की सिफारिश की है।

यह सब देखकर ही अब यह कहा जा रहा है कि यूपी में सत्ता संभालते ही मुख्यमंत्री ने करप्शन पर जीरो टॉलरेंस की जो बात कही थी, उसका सबसे ज्यादा शिकार करप्शन को खत्म करने का जिम्मा संभालने वाले पुलिस अफसर ही हो रहे हैं। नतीजन यूपी में सात आईपीएस सस्पेंड चल रहे हैं और पांच अधिकारी जल्दी ही इन अफसरों के साथ खड़े दिखाई देंगे।

निलंबित हुए अफसरों में एडीजी जसबीर सिंह को मीडिया को दिए इंटरव्यू में सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने के चलते 14 फरवरी 2019 को निलंबित किया गया था। तब से वह सस्पेंड चल रहे हैं। डीआईजी दिनेश चंद्र दुबे और डीआईजी अरविंद सेन को पशुपालन घोटाले में निलंबित किया गया है। आईपीएस दिनेश चंद्र दुबे और अरविंद सेन पर वित्तीय अनियमितताओं के आरोप लगे थे, जिसके चलते दोनों निलंबित हैं।

आईपीएस वैभव कृष्ण का एसएसपी नोएडा रहने के दौरान आपत्तिजनक वीडियो वायरल हुआ था। वैभव पर गोपनीय चिट्ठी को लीक करने का भी आरोप लगा। अधिकारी आचरण नियमावली का उल्लंघन करने को लेकर के वैभव को सस्पेंड किया गया। आईपीएस अपर्णा गुप्ता कानपुर में संजीत यादव अपहरण कांड में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित हुई हैं। आईपीएस अभिषेक दीक्षित को एसएसपी प्रयागराज रहते निलंबित किया गया। उन पर भ्रष्टाचार व लापरवाही के आरोप लगे हैं। इसी तरह के आरोपों में मणिलाल पाटीदार को भी निलंबित किया गया है।

मुख्यमंत्री पुलिस अफसरों के खिलाफ जिस तेजी से एक्शन ले रहें हैं, उसको देखते हुए यह कहा जा रहा है कि जिलों में तैनात पुलिस अफसर अपनी जिम्मेदारी ठीक से निभाने पर ध्यान दें वरना सरकार अब किसी अफसर के प्रति दया दिखाने के मूड में नहीं है। अब हर गलती पर सजा मिलेगी क्योंकि विधान सभा चुनाव का वक्त नजदीक आता जा रहा है। सरकार को अपनी छवि की चिंता है किसी अफसर की दागदार छवि को लेकर सरकार अपना दामन दागदार नहीं करेगी।

.

यूपी के पूर्वी भागों में भारी बारिश की संभावना, 20 सिंतबर से मौसम हो जाएगा साफ

0
Heavy rains expected eastern parts UP weather clear September 20

लखनऊ. उत्तर भारत में तापमान बढ़ा हुआ है, लोग उमस भरी गर्मी से परेशान हैं. 2 सितंबर से बारिश का एक नया दौर उत्तर प्रदेश के पूर्वी भागों से शुरू हो सकता है। मौसम विभाग की मानें तो 20 सितंबर को दक्षिण-पूर्वी भागों में कुछ स्थानों को छोड़कर शेष उत्तर प्रदेश में मौसम साफ हो जाएगा। 22 सितंबर से बारिश का एक नया दौर उत्तर प्रदेश के पूर्वी भागों से शुरू हो सकता है। बिहार के अधिकांश जिलों में आगामी चार-पांच दिनों के दौरान बारिश जारी रहेगी।

कैसा होगा उत्तर प्रदेश का मौसम

विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों पर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक या दो स्थानों पर पर वर्षा या गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है. साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश के एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम गरज के साथ आकाशीय बिजली चमकने की सम्भावना है.

यूपी में पिछले 24 घंटे का मौसम

उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों में सोमवार को हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ीं. मौसम विभाग ने सोमवार को बताया कि प्रदेश के एक या दो स्थानों पर गरज और चमक के साथ आकाशीय बिजली भी चमकी.

गौरतलब है कि संभावित मॉनसून वर्षा के साथ बिहार के लोगों को तेज़ हवाओं और बिजली गिरने की घटनाओं का भी सामना करना पड़ सकता है। 18 से 20 सितंबर के बीच बिहार में मॉनसून कमजोर हो जाएगा लेकिन दो दिनों के अंतराल के बाद 21 सितंबर से फिर से बारिश लौटेगी।

.

यूपी- पुलिस मुठभेड़ में 20-20 हजार के दो इनामिया गिरफ्तार, एक गोली लगने से घायल

0
2 inamiya punks arrested police encounter injured shooting bullet

अंबेडकरनगर. उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर में सोमवार देर रात पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई है। मुठभेड़ में पुलिस ने 20-20 हजार के 2 इनामिया बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं एक बदमाश पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया है। जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक, पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार दोनों बदमाश गैंगस्टर के मुकदमें में वांछित थे। पुलिस ने इनके कब्जे से 315 बोर का एक तमंचा, दो कारतूस तथा एक अपाची मोटरसाइकिल बरामद किया है।

बदमाशों ने पुलिस पार्टी पर की फायरिंग

बताया जा रहा है, थाने की टीम गश्त पर निकली थी। इस दौरान पुलिस टीम ने संदिग्धवस्था में बाइक पर आते दो व्यक्तियों को देखा। पुलिस टीम ने उन्हें रोकने का प्रयास किया गया तो वे मोटरसाइकिल मोड़ कर भागने लगे इस दौरान उनकी मोटरसाइकिल फिसल गई इससे दोनों बदमाश वही गिर गए। ललकारने पर पीछे बैठे अभियुक्त ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरु कर दी।

एक बदमाश गोली लगने से घायल

पुलिस ने आत्मरक्षा में जवाबी फायरिंग की तो मालीपुर थाना क्षेत्र के गांव ताराखुर्द निवासी मुनव्वर उर्फ रियाज पुत्र अजमुद्दीन गोली लगने से घायल हो गया। जबकि अंधेरे का फायदा उठाकर भाग रहे दूसरे अभियुक्त मालीपुर थाना क्षेत्र के गांव कल्यानपुर निवासी अनुराग वर्मा पुत्र उमाशंकर वर्मा को घेराबन्दी कर दबोच लिया। अकबरपुर कोतवाली में दोनों का आपराधिक इतिहास है थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर विधिक कार्रवाई की जा रही है।

.

आजमगढ़- दरोगा के दुर्व्यवहार मामले में पत्रकारों के प्रतिनिधिमंडल ने डीएम और एसपी से की कार्यवाही की मांग

0
Azamgarh delegation journalists action dm sp misbehavior of Daroga

आजमगढ़. सिधारी थाना में तैनात बे-अंदाज दरोगा द्वारा छायाचित्र संकलन कर रहे छायाकार के साथ दुर्व्यवहार किये जाने के मामले को लेकर द प्रेस क्लब का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से मिलकर कार्यवाही की मांग किया। इस दौरान क्लब ने अल्टीमेटम भी दिया कि अगर दो दिन के अगर उक्त दरोगा के खिलाफ कार्यवाही नहीं की गयी तो पत्रकार अपने सम्मान के लिए आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे और एसपी की बिगड़ी पुलिस के खिलाफ आवाज बुलंद करेंगे।

Azamgarh delegation journalists action dm sp misbehavior of Daroga

पत्रकारों के सम्मान को पहुंची ठेस

द प्रेस क्लब के अध्यक्ष एसके सत्येन ने कहा कि समाचार हेतु छायाचित्र संकलित करने को गये हेमेन्द्र सिंह के साथ दरोगा राजेन्द्र प्रसाद सिंह द्वारा उत्तेजित होकर जिस तरह से अपशब्दों का प्रयोग और दुर्व्यहार किया गया है। उससे पत्रकारों के सम्मान को ठेस पहुंची है, जब तक दरोगा के खिलाफ कठोर कार्यवाही नहीं की जायेगी तब द प्रेस क्लब चुप नहीं बैठेगा।

क्लब के सचिव रविप्रकाश सिंह ने कहा कि पत्रकारों के उत्पीड़न के कई तरह के मामले सामने आये है, वर्तमान में हेमेन्द्र सिंह के साथ सिधारी के समीप बीच सड़क पर जिस तरह से मनबढ़ दरोगा द्वारा अमर्यादित काम किया गया है, अगर दो दिन के अंदर उक्त दरोगा के खिलाफ कार्यवाही नहीं की गयी तो द प्रेस क्लब एसपी और उनके बिगडैल पुलिसिंग के खिलाफ प्रदर्शन करेगा और उक्त मामलें की शिकायत शासन तक पहुंचाते हुए खुद एसपी कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन को बाध्य होंगे। जिसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।  प्रकरण को लेकर अन्य पत्रकार संगठनों के भी पदाधिकारियों ने घटना की निंदा करते हुए उक्त दरोगा के खिलाफ कार्यवाही की मांग किया।

इस अवसर पर संदीप सौरभ सिंह, दीपक सिंह, विजय यादव, ओमप्रकाश अग्रवाल, धर्मेन्द्र श्रीवास्तव, सचिन श्रीवास्तव, रत्न प्रकाश त्रिपाठी, सुभाष सिंह, अशोक वर्मा, अम्बुज राय, मो असलम, मनोज गोड, हरिओम सिंह, अवनीश उपाध्याय, हेमेन्द्र सिंह हीरू, हरिश चौहान, उदयराज शर्मा, विवेक गुप्ता, रामसकल यादव, विनय खरवार, संदीप श्रीवास्तव, प्रत्युश, प्रीतम सिंह विकास विश्वकर्मा, पितेश्वर कुमार, विशाल प्रताप उपाध्याय, शैलेन्द्र शर्मा, हरीश चौहान, अखिलेश सिंह, धीरज, आदि सहित दर्जनों पत्रकार मौजूद रहे।

.

आजमगढ़- बीजेपी जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में भाजपा युवा मोर्चा ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन

0
Azamgarh BJP Yuva Morcha organized blood donation camp BJP District President

आजमगढ़. आजमगढ़ के भारतीय जनता पार्टी (BJP) के जिलाध्यक्ष सदर ध्रुव सिंह के नेतृत्व में सेवा सप्ताह कार्यक्रम के क्रम में सोमवार को भाजपा युवा मोर्चा के द्वारा मण्डलीय चिकित्सालय आजमगढ़ पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया और युवा मोर्चा के द्वारा रक्तदान और प्लाज्मा दान किया गया।

रक्तदान कार्यक्रम की शुरुआत प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अखिलेश मिश्रा गुड्डू, श्री कृष्ण पाल, जिला महामंत्री विनोद कुमार उपाध्याय, नन्हकूराम सरोज,जिला उपाध्यक्ष अवनीश मिश्रा, जिला कोषाध्यक्ष मयंक गुप्ता भाजयुमो जिलाध्यक्ष कमलेंद्र मिश्रा की उपस्थिति में हुआ।

14 से 20 सितंबर तक चलेगा सेवा सप्ताह कार्यक्रम

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष आजमगढ़ सदर ध्रुव सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 70 वें जन्मदिवस के अवसर पर भाजपा जन सेवा को माध्यम बनाकर सेवा सप्ताह कार्यक्रम कर रही है । 14 से 20 सितंबर तक चलने वाले इस सेवा सप्ताह कार्यक्रम के क्रम में जिला उपाध्यक्ष ब्रजेश यादव, भाजयुमो अध्यक्ष कमलेन्द्र मिश्रा, चन्द्रपाल सिंह के नेतृत्व में सोमवार को युवा मोर्चा के द्वारा मण्डलीय चिकित्सालय आजमगढ़ पर रक्तदान और प्लाज्मा दान किया गया। इसी क्रम में 15 सितंबर को नेहरू हाल में गरीब भाईयों एवं बहनों को चश्मा वितरण का कार्यक्रम किया जाएगा।

इस अवसर पर भाजयुमो जिलाध्यक्ष युवा मोर्चा कमलेंद्र मिश्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के 130 करोड़ लोगों की सेवा का संकल्प लिया है। उन्होंने अपने आप को हमेशा देश के प्रधान सेवक के रूप में प्रस्तुत किया है। उनके 70 वें जन्मदिवस को सेवा सप्ताह के रूप में मनाते हुए युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने रक्तदान और प्लाज्मा दान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया है। हमें गर्व है कि हमारे पास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूप में एक ऐसा ओजस्वी व्यक्तित्व है जिन्होने राजनीति को जन सेवा का माध्यम बनाया।इस अवसर पर चन्द्रपाल सिंह, एकलव्य पाण्डेय, नवनीत राय, सूर्य प्रकाश सिंह, गोपाल राय, अवनीश तिवारी, विनायक सिंह सरदार, अभिषेक गुप्ता, शिवम् मिश्रा मौजूद रहे।

.

Gold Price: सस्ता हुआ सोना तो चांदी की कीमतों में जबरदस्त उछाल, जानें आज का भाव

0
Gold silver today price LATEST BUSINESS NEWS

कारोबार डेस्क. कोरोना काल में आसमान छू रही सोना-चांदी की कीमतों में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। सोमवार को सोना की कीमतों में कमी आई तो वहीं चांदी में बढ़ोतरी देखी गई है।

राजधानी दिल्ली में सोमवार को सोने (Gold) के भाव (Gold Price) में 24 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट दर्ज की गई। इस गिरावट के साथ ही दिल्ली में सोने (Gold) का हाजिर भाव 52,465 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया है। रुपये में बढ़ोत्तरी के चलते सोमवार को सोने (Gold) में यह गिरावट आई है। गौरतलब है कि सोना पिछले सत्र में 52,489 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर बंद हुआ था।

वहीं, घरेलू सर्राफा बाजार में सोमवार को चांदी की कीमतों में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। चांदी में सोमवार को 222 रुपये प्रति किलोग्राम का उछाल आया है। इस उछाल से चांदी का भाव 69,590 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया है। गौरतलब है कि पिछले सत्र में चांदी 69,368 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर बंद हुई थी।

भारतीय रुपया सोमवार को घरेलू शेयर बाजारों में स्थिरता के बावजूद एक डॉलर के मुकाबले पांच पैसे की मजबूती के साथ 73.48 (अनंतिम) पर बंद हुआ। अंतरराष्ट्रीय स्तर की बात करें, तो सोने (Gold) का वैश्विक भाव सोमवार को उछाल के साथ 1945.5 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेंड करता दिखा। वहीं, चांदी का वैश्विक भाव सोमवार को 26.87 डॉलर प्रति औंस के साथ स्थिर ही ट्रेंड करता दिखा।

.

जानिए रिया चक्रवर्ती का क्या है बैकग्राउंड ?

0
background Riya Chakraborty arrest sushant singh rajpoot drugs acse

मनोरंजन डेस्क. पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले के बाघमुंडी क्षेत्र के तुंतुडी गांव में आज भी उनके चचेरे भाई का परिवार रहता है। रिया के परदादा मानकी राजवंश के दीवान थे। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के ड्रग्स मामले में गिरफ्तार फिल्म अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) के पैतृक गांव तुंतुडी के लोगों को विश्वास नहीं हो रहा कि वह ऐसा काम कर सकती है। राज परिवार के दीवान परिवार से आने वाली रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) के पुरखों का गांव में अच्छा रसूख रहा है।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए जमीन दान दी थी

रिया के परदादा राममय चक्रवर्ती उर्फ संतू बाबू तत्कालीन सुईसा क्षेत्र के मानकी राजवंश के दीवान हुआ करते थे। पूर्व सांसद वीर सिंह महतो बताते हैं कि रिया के पैतृक घर को आज भी दीवान घर कहा जाता है। इस परिवार के पास 12 मौजा का स्वामित्व हुआ करता था। राममय चक्रवर्ती दानी व्यक्ति थे। तुंतुडी हाई स्कूल के लिए उन्होंने 27 बीघा जमीन दान दी थी। स्कूल भवन निर्माण में भी आर्थिक मदद की थी। तुंतुडी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए भी उन्होंने जमीन दान दी थी।

पूर्व सांसद वीर सिंह कहते हैं कि सुशांत मामले में रिया की गिरफ्तारी से गांव हैरान है। यकीन नहीं हो रहा कि वह ऐसा काम कर सकती है। इस गांव में आज भी रिया के चचेरे भाई का परिवार रहता है। इस घटना के बाद वे लोग मीडिया के सामने नहीं आ रहे हैं। बेगुनकोदर राज परिवार के सदस्य और चर्चित डॉक्टर असीम सिन्हा कहते हैं कि रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) प्रतिष्ठित परिवार से आती हैं। ग्रामीणों को अब भी यकीन नहीं हो रहा उनकी बेटी ने गलत कदम उठाया होगा।

रिया की गिरफ्तारी से हर कोई हैरान जरूर है

पूर्व विधायक निशिकांत मेहता कहते हैं कि रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) के दादा शिरीष चंद्र चक्रवर्ती तुंतुडी हाईस्कूल से पढ़ाई करने के बाद धनबाद में कोलियरी के प्रबंधक बने। वहीं, उनके पुत्र यानी रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) के पिता की पढ़ाई-लिखाई हुई। वह भारतीय सेना में कर्नल बने। परिवार के अधिकतर सदस्य पारिवारिक पूजा में एकत्र होते हैं। रिया की गिरफ्तारी से हर कोई हैरान जरूर है, लेकिन न्याय की उम्मीद भी है।

गांव में 323 साल पहले से पूजा की परंपरा है

लाइब्रेरियन अभिजित चैधरी कहते हैं कि इस मामले पर गांव के सभी लोगों की नजर है। इसलिए कि रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) इस गांव की बेटी हैं। भले ही जन्म कर्नाटक के बेंगलुरु में हुआ था। 19 साल पहले रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) दुर्गापूजा में यहां आई थीं। इस गांव में 323 साल पहले से पूजा की परंपरा है।

.

इंग्लैंड की कैथरीना पर फिदा हुआ यूपी का ये सांसद, Social Media पर खुल्लम-खुल्ला प्यार का इजहार किया

0
Ritesh Pandey girlfriend Katharina

अंबेडकरनगर. उत्तर प्रदेश के अंबेडकनगर से बसपा सांसद रितेश पांडे (Ritesh Pandey) ने Social Media पर प्यार का इजहार किया है। बसपा सांसद ने इंग्लैंड की गर्लफ्रेंड कैथरीना से शादी करने का खुलासा किया है।

Social Media पर किया प्यार का इजहार

बसपा सांसद रितेश पांडे (Ritesh Pandey) ने कहा मुझे बड़ी प्रसन्नता हो रही है कि कैथरीना और मैंने जीवनसाथी के रूप में आगे की यात्रा साथ पूरा करने का निर्णय लिया है। हम दोनों ने यह निर्णय अपने परिवारों के बड़ों एवं अभिभावकों के आशीर्वाद से लिया है। कैथरीना और मैं एक-दूसरे को कई वर्षों से जानते हैं और यह महसूस करते हैं कि हमारा संग-साथ हमारे कल्याण एवं लक्ष्य के लिए अच्छा है।

उन्होंने आगे लिखा कैथरीना मनोविज्ञान (सायकॉलजी) में डॉक्टरेट के लिए अध्ययनरत हैं और उनके पिता इंग्लैंड में चिकित्सक हैं। हमारे देश समेत समूची दुनिया अभी संकट के दौर से गुज़र रही है। ऐसे में किसी आयोजन की संभावना और परिस्थिति नहीं है।

आगामी महीनों में परिस्थितियों के अनुसार जैसा निर्णय होगा, आपको उसकी जानकारी हम अवश्य देंगे। मुझे और मेरे परिवार को आपका साथ हमेशा मिलता रहा है और आपकी शुभकामनाएँ हमें आश्वस्त और सबल बनाती रही हैं। इसी क्रम में कैथरीना और मैं सुंदर और स्वस्थ जीवन के लिए आपकी शुभेच्छा और आशीर्वाद के आकांक्षी हैं।

रितेश पाण्डेय व कैथरीना का प्रेम प्रसंग (Ritesh Pandey-Katharina Love Affair) शिक्षण के दौरान ही शुरू हो गया था जो अब शादी की दहलीज पर पंहुच गया है। Social Media पर सांसद की इस पोस्ट के बाद उन्हें नये दाम्पत्य जीवन की शुभकामनाओं की झड़ी लग गई है।

.

यूपी में पिछले 24 घंटे में 6 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए, 80 लोगों ने दम तोड़ा

0
6239 new cases reported SUNDAY UP last 24 hours 80 people died

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 6 हजार से ज्यादा नए मरीजों की पुष्टि हुई है। रविवार को कुल 80 मरीजों की मौत हुई है।

प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 68,122 है

उत्तर प्रदेश में रविवार को 6239 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राज्य में कोविड-19 संक्रमण के 6239 नए मामले सामने आए हैं जबकि 5958 मरीज पूरी तरह ठीक हो गये। प्रदेश में इस वक्त एक्टिव मरीजों की संख्या 68,122 है।

प्रदेश में अब तक 75 लाख नमूनों की जांच

अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान 1 लाख 47,082 सैंपल्स की जांच की गई। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब तक 75 लाख नमूनों की जांच की जा चुकी है और ऐसा करने वाला वह देश का पहला राज्य बन गया है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने प्रदेश में एक करोड़ जांच करने का लक्ष्य दिया है, जिसे पूरा करने में 17-18 दिनों की और जरूरत पड़ेगी यानी उत्तर प्रदेश इसी माह एक करोड़ जांच करने वाला भी पहला राज्य बनेगा।

.

यूपी- अब बीजेपी के इस विधायक को हुआ कोरोना, खुद को किया होम आइसोलेट

0
BJP MLA, Tejendra Nirwal ,corona positive, shamli, uttar pradesh,

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। शामली सदर से बीजेपी विधायक तेजेंद्र निर्वाल (Tejendra Nirwal) भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। उन्हें लखनऊ के पीजीआई (PGI) में भर्ती करवाया गया है।

आरटी-पीसीआर जांच के लिए मेरठ भेजा गया सैंपल

शामली सदर से भाजपा विधायक तेजेंद्र निर्वाल (Tejendra Nirwal) भी वैश्विक महामारी की चपेट में आ गए हैं। सोमवार को भाजपा कार्यालय में आयोजित रक्तदान शिविर में पहुंचे विधायक की एंटिजन जांच हुई और रिपोर्ट पॉजिटिव आई। विधायक निर्वाल को हल्की खांसी और गले में खराश की समस्या है। अभी तो वह होम आइसोलेट हो गए हैं। इसके साथ ही आरटी-पीसीआर जांच के लिए भी सैंपल मेरठ भेजा गया है।

रविवार को 6239 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि

उत्तर प्रदेश में रविवार को 6239 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राज्य में कोविड-19 संक्रमण के 6239 नए मामले सामने आए हैं जबकि 5958 मरीज पूरी तरह ठीक हो गये। प्रदेश में इस वक्त एक्टिव मरीजों की संख्या 68,122 है।

पिछले 24 घंटों के दौरान 1 लाख 47,082 सैंपल्स की जांच

अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान 1 लाख 47,082 सैंपल्स की जांच की गई। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब तक 75 लाख नमूनों की जांच की जा चुकी है और ऐसा करने वाला वह देश का पहला राज्य बन गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने प्रदेश में एक करोड़ जांच करने का लक्ष्य दिया है, जिसे पूरा करने में 17-18 दिनों की और जरूरत पड़ेगी यानी उत्तर प्रदेश इसी माह एक करोड़ जांच करने वाला भी पहला राज्य बनेगा।

.

बड़ी खबर- यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री को हुआ कोरोना, लखनऊ के PGI में कराया गया भर्ती

0
former UP cm kalyan singh Corona positve admit pgi Lucknow

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच एक बड़ी खबर आई है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। जिसके बाद उन्हें लखनऊ के पीजीआई (PGI) में भर्ती करवाया गया है।

कल्याण सिंह को 2 दिन से आ रहा था बुखार

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) को संजय गांधी पीजीआई (PGI) के कोराना हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। लखनऊ में माल एवेन्यू में निवास कर रहे कल्याण सिंह (Kalyan Singh) को दो दिन से बुखार आ रहा था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उनका नमूना लिया था। कल उनकी जांच के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आज उनको भर्ती कराया गया है। संजय गांधी पीजीआई (PGI) में वह फिलहाल चिकित्सकों की देखरेख में अपना इलाज करा रहे हैं।

रविवार को 6239 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि

उत्तर प्रदेश में रविवार को 6239 नए मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि राज्य में कोविड-19 संक्रमण के 6239 नए मामले सामने आए हैं जबकि 5958 मरीज पूरी तरह ठीक हो गये। प्रदेश में इस वक्त एक्टिव मरीजों की संख्या 68,122

अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान 1 लाख 47,082 सैंपल्स की जांच की गई। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब तक 75 लाख नमूनों की जांच की जा चुकी है और ऐसा करने वाला वह देश का पहला राज्य बन गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने प्रदेश में एक करोड़ जांच करने का लक्ष्य दिया है, जिसे पूरा करने में 17-18 दिनों की और जरूरत पड़ेगी यानी उत्तर प्रदेश इसी माह एक करोड़ जांच करने वाला भी पहला राज्य बनेगा।

.

Sushant Singh Rajput Story: किसी फिल्म स्टोरी से कम नही है सुशान्त सिंह राजपूत की जिंदगी !

0
Sushant Singh Rajput life no less than film story

मनोरंजन डेस्क. सुशान्त सिंह राजपूत की जिन्दगी के विषय में अगर ध्यान से एकान्त में सोचा जाये तो यह किसी फिल्म की स्क्रिप्ट जैसी ही लगेगी। ऐसा लगता है कि सुशान्त की जिन्दगी की स्क्रिप्ट भगवान ने ऐसी लिखी कि हर कोई उसे आज बेचारा शब्द से ही पुकार रहा है। हर किसी को यही जानने की तमन्ना है कि बेचारे सुशान्त की मौत कैसे हुई,बेचारे के साथ उस दिन क्या हुआ था,क्या सचमुच में बेचारा सुशान्त बीमार था या फिर रिया ने उसे इतना बेचारा बना दिया था।

छोटे पर्दे के एक धारावाहिक पवित्र रिश्ता से अपना कैरियर शुरू करने वाले सुशान्त सिंह राजपूत आज हमारे बीच नही है। लेकिन उनका पवित्र रिश्ता के चरित्र वाला भोला भाला चेहरा लोगों को आज भी याद है। उस समय किसी ने यह सोचा भी नही होगा कि सुशान्त जैसा मध्यम वर्गीय परिवार का लड़का बिना किसी गाॅडफादर के फिल्म इण्डस्ट्री में अपना एक मुकाम बना पायेगा। लेकिन वह पवित्र रिश्ता से शुरू हुए एक्टिंग के सफर में बेचारा दिल ने जिन्दगी का सफर ही खतम कर दिया।

अंकिता लोखंडे के साथ पवित्र रिश्ता में काम करते करते कब दोनों एक पवित्र रिश्ते में बंध गये पता ही नही चला। सात सालों तक चले इस रिश्ते में खटास कब और क्यों आई आज तक यह बात सार्वजनिक नही हुई। क्योंकि एक दूसरे के लिए दिलों की गहराई से उपजे प्रेम और सम्मान ने अलग होने के बाद भी एक दूसरे के लिए आज तक न तो कुछ गलत बोलने दिया और न ही कुछ गलत सोचने। शायद सुशान्त अंकिता के इसी प्यार और सम्मान के सहारे मजबूती से खड़ा था। लेकिन रिया की सुशान्त की शान्त चल रही जिन्दगी में एन्ट्री क्या हुई कि सुशान्त की जिन्दगी में भूचाल आ गया। अंकिता से शुरू हुए पवित्र रिश्ते पर रिया का काला साया भारी पड़ गया और सुशान्त के पवित्र बेचारे दिल की धड़कनों को रोक दिया।

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) हिन्दी फिल्मों में अभिनेता होने के साथ साथ थियेटर और टीवी अभिनेता भी थे। टीवी सीरीयल ‘पवित्र रिश्ता’ में अंकिता लोखण्डे़ के साथ काम कर चुके राजपूत को इस सीरीयल की बदौलत काफी लोकप्रियता मिली थी। लेकिन रिया की एंट्री ने जिन्दगी में ऐसी हलचल मचाई कि सुशान्त को ही हमेशा के लिए शान्त होना पड़ा। आज सभी की जुबान पर एक ही सवाल है कि आखिर रिया ने ऐसा क्यो किया ।

क्या रिया सुशान्त को अंधेरे में रखकर उससे प्यार का खेल रचाकर उसके घर को ड्रग्स का अड्डा बनाकर वहीं से अपना धन्धा चला रही थी। क्या सुशान्त को इस बारे मे पता चला गया था । क्या सुशान्त ने रिया की इस हरकत पर एतराज जताया तभी उसका यह अंजाम हुआ। आज तमाम ऐसे सवाल है जो पूरे देश की 130 करोड़ जनता के जेहन में तैर रहे है। लेकिन एक साजिश के तहत रिया चक्रवर्ती की ओर से कुछ लोग सुशांत के खिलाफ अफवाह भी फैला रहे हैं। बाॅलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत कैसे हुई, अब इसकी जांच सीबीआई कर रही है।

.

यूपी कैडर के दो IPS अफसर विजिलेंस की जांच में पाए गए दोषी, शासन को सौंपी गई रिपोर्ट

0
Two IPS officers UP cadre found guilty Vigilance investigation

लखनऊ. यूपी कैडर के दो आईपीएस (IPS) अफसरों के कड़ी कार्रवाई की संस्तुति की गई है। विजिलेंस की जांच में इन आईपीएस (IPS) अफसरों को दोषी पाया गया है। योगी सरकार ने यूपी कैडर के दो आईपीएस (IPS) अफसर डॉ. अजय पाल शर्मा व हिमांशु कुमार के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे।

विजिलेंस ने शासन को सौंपी रिपोर्ट

विजिलेंस ने दोषी पाए गए यूपी कैडर के दो आईपीएस (IPS) अफसर डॉ. अजय पाल शर्मा व हिमांशु कुमार की जांच रिपोर्ट शासन को सौंप दी है। सूत्रों के अनुसार रिपोर्ट में दोनों अफसरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की संस्तुति की गई है।

शासन ने एसआईटी (SIT) की जांच रिपोर्ट में सामने आए तथ्यों के आधार पर विजिलेंस को यह जांच सौंपी थी। एसआईटी (SIT) ने यह जांच गौतमबुद्धनगर (नोएडा) के पूर्व एसएसपी वैभव कृष्ण के शिकायती पत्र पर की थी। वैभव कृष्ण ने इसमें डॉ. शर्मा व हिमांशु कुमार समेत पांच आईपीएस (IPS) अफसरों पर आरोप लगाए थे।

दोनों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की सिफारिश

एसआईटी (SIT) ने अपनी जांच में तीन आईपीएस (IPS) अफसरों को क्लीन चिट दे दी थी, जबकि डॉ. शर्मा व हिमांशु कुमार के खिलाफ विजिलेंस से जांच कराने की सिफारिश की थी। डॉ. शर्मा पर अपराधियों से सांठगांठ और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए थे तो हिमांशु कुमार पर ट्रांसफर-पोस्टिंग में भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे।

एसआईटी (SIT) की सिफारिश पर शासन ने मामले की जांच विजिलेंस को सौंप दी थी। सूत्रों के अनुसार विजिलेंस ने दोनों पर लगाए गए कई आरोपों को सही पाया है और दोनों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की सिफारिश की है।

.

यूपी- नाबालिग से छेड़छाड़ करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

0
Police arrested accused molesting minor sent jail UP

बहराइच. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के सख्त रवैये के बाद भी प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों पर अपराध थम नहीं रहे हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के बहराइच से आया है। यहां एक किशोरी से छेड़छाड़ की घटना सामने आई है।

किशोरी के शोर मचाने पर भागा था आरोपी

जानकारी के मुताबिक, बहराइच जिले में रानीपुर थाने की पुलिस ने छेड़छाड़ के एक नामजद आरोपी को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के बाद आरोपी को जेल भेज दिया गया है। रानीपुर थाने के एक गांव में एक किशोरी के साथ छेड़छाड़ की वारदात हुई थी। किशोरी के कड़े प्रतिरोध व शोर मचाने पर आरोपी भाग गया था। इस मामले में केस दर्ज किया गया था।

पूछताछ के बाद आरोपी को भेजा गया जेल

थानाध्यक्ष श्यामदेव चौधरी को नामजद आरोपी की गिरफ्तारी जल्द करने की हिदायत दी गई थी। रविवार रात एएसपी सिटी कुंवर ज्ञानंजय सिंह व सीओ पयागपुर नरेश सिंह के पर्यवेक्षण में दरोगा योगेन्द्र सिंह, सिपाही चंद्रमणि ने कुट्टी के पास मझौवा निवासी ननके को गिरफ्तार कर लिया। गहन पूछताछ के बाद आरोपी को जेल भेजा गया है।

.

सीतापुर- हाईटेंशन तार की चपेट में आने से परिवार के 5 लोग झुलसे, एक की मौत…

0
Sitapur 5 people scorched high-tension wire one dead

सीतापुर. उत्तर प्रदेश के सीतापुर से दर्दनाक खबर सामने आई है। यहां एक खेत में हाईटेंशन तार टूटकर गिरने से परिवार के 5 लोग झुलस गए हैं। जिसमें एक किसान की मौत हो गई है। वहीं झुलसे 4 लोगों को गंभीर हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया है।

बताया जा रहा है, सोमवार करीब आठ बजे 5 लोग खेतों में काम कर रहे थे। तभी खेतों के ऊपर से होकर गुजरा हाईटेंशन तार अचानक टूटकर गिर गया। विद्युत स्पर्शाघात होते ही खेतों में अफरातफरी मच गई। एक किसान बुरी तरह चपेट में आ गया। एक ही परिवार के चार और लोग भी झुलस गए। घटना की सूचना से विद्युत विभाग के कई अधिकारी मौके पर पहुंचे।

किसी तरह ग्रामीणों ने संदना कस्बा वासी बनवारी 59 पुत्र जसकरन, सुरेन्द्र 45 पुत्र छोटेलाल, इनकी पत्नी चमेली देवी, पुत्री लक्ष्मी, पुत्र प्रदीप को गभीर अवस्था में स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया। जहां बनवारी को चिकित्सकों ने बनवारी को मृत घोषित कर दिया गया। सुरेन्द्र, चमेली, लक्ष्मी और प्रदीप का उपचार चल रहा है। झुलसे ग्रामीणों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

.

लखनऊ- मुख्तार अंसारी के बड़े भाई परिवार के साथ वीसी से मिलने पहुंचे, LDA ने भेजी थी नोटिस

0
Mukhtar Ansari elder brother

लखनऊ. बाहुबली विधायक और गैंगस्टर मुख्तार अंसारी के बड़े भाई बसपा सांसद अफजाल अंसारी (Afzal Ansari) परिवार के साथ सोमवार को लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) ऑफिस पहुंचे। दरअसल, एलडीए ने बीते 1 सितम्बर को अफजाल की पत्नी के नाम से नोटिस भेजा था। जिसमें आज की तारीख सुनवाई के लिए मिली थी।

बसपा सांसद अफजाल अंसारी (Afzal Ansari) ने बताया कि उन्होंने ये जमीन वैध तरीके से खरीदी थी और उस पर शमन मानचित्र भी पास करवाया था। शत्रु संपत्ति होने की जानकारी उनको नहीं थी। दूसरी ओर लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) वीसी ने उनसे कहा कि इस पूरे प्रकरण की जांच चल रही है। बता दें क‍ि अफजाल अंसारी (Afzal Ansari) बाहुबली व‍िधायक और गैंगस्‍टर मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बड़े भाई हैं।

LDA ने Mukhtar Ansari की भाभी को दी थी नोटिस

मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की भाभी फरहत अंसारी के डालीबाग स्थित सरकारी जमीन पर किए गए अवैध निर्माण को ढहाने की तैयारी शुरू कर दी है। जिसके पहले चरण में इस भवन का शमन मानचित्र निरस्त किया जाएगा। लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) ने एक सितम्बर को इस बाबत मुख्तार के बड़े भाई अफजाल अंसारी (Afzal Ansari) की पत्नी फरहत अंसारी को नोटिस दे दी थी।

.

यूपी- प्रतापगढ़ जा रहे सपा प्रतिनिधि मंडल की पुलिस से नोंकझोंक, MLC सुनील सिंह साजन ने लगाया गंभीर आरोप

0
SP delegation Pratapgarh

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद सीएम सिंह के निधन पर उनके घर शोक संवेदना प्रकट करने जा रहे समाजवादी पार्टी के नेताओं को लखनऊ के बाद रायबरेली रोड पर बछरावां में रोक लिया गया। जिसके बाद सपा नेताओं और पुलिस में झड़प भी देखने को मिली है।

SP delegation Pratapgarh

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर हो रहे उत्पीड़न और बेलगाम आपराधिक घटनाओं की जानकारी लेने प्रतापगढ़ जा रहे सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, MLC सुनील सिंह साजन और उदयवीर सिंह को रोक लिया गया है। सपा नेताओं ने कहा सीएम के आदेश पर रोके जाना सत्ता का दुरुपयोग है।

यूपी में सरकारी नौकरी करना अब नहीं होगा आसान, हर 6 महीने पर होगा मुल्यांकन, फर्स्ट नहीं आए तो हो जाएंगे बाहर !

SP delegation Pratapgarh

आपको बता दें, आज सुबह ही प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, एमएलसी सुनील सिंह साजन प्रतापगढ़ जा रहे थे। समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधि मंडल सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर जा रहा था। पुलिस के रोकने के दौरान पुलिस से कहासुनी भी हुई।

कंगना विवाद- किसी की मां ने इतना दूध नहीं पिलाया कि सीएम उद्धव ठाकरे को अयोध्या आने से रोक सके: चंपत राय

SP delegation Pratapgarh

सपा नेता व मछलीशहर के पूर्व सांसद चंद्रनाथ सिंह उर्फ सीएन सिंह की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई थी। भगेसरा के रहने वाले सीएन सिंह वर्ष 1998 में प्रतापगढ़ सदर सीट से सपा के टिकट पर विधायक बने थे। दो साल बाद 2002 में वह मछलीशहर संसदीय सीट सपा के सांसद बने। सीएन सिंह की पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से भी नजदीकी थी।

.

यूपी- बागपत जेल में बंदियों के दो गुटों के बीच खूनी संघर्ष, 6 बंदी घायल

0
two groups detainees Baghpat jail 6 captives injured

बागपत. उत्तर प्रदेश के बागपत जेल से एक बड़ी खबर सामने आई है। बागपत जेल में बंदियों के दो गुटों में खाना लेते समय झड़प हो गई है। जिसमें कई बंदी घायल हो गए हैं।

कड़ी मशक्कत के बाद पीएसी जवानों ने दोनों गुटों को तितर-बितर किया। इसी जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या हुई थी।

.

यूपी में 10 IPS अफसरों का ट्रांसफर, बदले गए 7 जिलों के कप्तान, देखें लिस्ट

0
PWD demolishes 5 Dalit family's houses, CM Yogi can take big step

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया है। रविवार देर रात यूपी सरकार ने 10 IPS अफसरों का तबादला किया है। वहीं इससे एक दिन पहले 6 आईएएस अफसरों का ट्रांसफर किया था।

10 IPS officers transferred yogi government up lucknow news

रविवार देर रात 10 IPS अफसरों का तबादला

योगी सरकार ने रविवार देर रात 10 IPS अफसरों का तबादला कर दिया। इसमें सात जिलों बरेली, जौनपुर, गोंडा, महराजगंज, श्रावस्ती, मऊ व कासगंज के पुलिस कप्तान भी बदले गए हैं। आपको बता दें, इससे पहले योगी सरकार ने शनिवार देर रात छह आईएएस अफसरों को ट्रांसफर कर दिया था।

उत्तर प्रदेश में लगातार क्राइम को लेकर उठे सवाल और विपक्ष के हमले के बाद योगी सरकार हर जिले के एसपी की तैनाती और उनके कार्यों की समीक्षा कर रही है। छोटे जिलों में अच्छा काम करने वाले आईपीएस को बड़े शहरों में तैनाती दी गई है। जिन जिलों में एसपी की शिकायत नहीं मिल रही है, उन्हें भी बड़ी जिम्मेदारी दी गई है।

वहीं, अतिसंवेदनशील जिलों में तैनात आईपीएस को बड़े शहर में तैनात किया जा रहा है। गृह विभाग के सूत्रों के मुताबिक प्रदेश में आधा दर्जन से ज्यादा पुलिस कप्तान और बदले जाएंगे। जिसको लेकर विभाग इन जिलों के कप्तानों के क्राइम रोकने, जनता से अच्छा व्यवहार करने के रिकॉर्ड की समीक्षा कर रहा है।

.

यूपी- दिनदहाड़े दुग्ध व्यापारी से 2.18 लाख रुपये की लूट, लुटेरों की तलाश में जुटी पुलिस

0
UP 2.18 lakh rupees robbed milk trader police engaged robbers

बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दिनदहाड़े दुग्ध व्यापारी से लाखों रुपए की लूट की वारदात की घटना को अंजाम दिया गया है। स्कूटी सवार 3 शस्त्रधारी बदमाशों ने तमंचे के बल पर लूट की घटना को अंजाम देकर बड़ी आसानी से फरार हो गए। यह घटना सिकंदराबाद कोतवाली क्षेत्र की है।

बताया जा रहा है, दुग्ध व्यापारी घर से 2.18 लाख रुपये नगदी बैंक में जमा करने के लिए निकला था। तभी सिकंदराबाद कोतवाली क्षेत्र के गुलावठी रोड पर 3 बाइक सवार लूटरों ने तमंचे के बल नगदी लूट फरार हो गए। व्यापारी ने लूट का विरोध किया तो बदमाशों ने तमंचे की बट मारकर घायल कर दिया है।

वहीं दिनदहाड़े हुई लूट की घटना से लोगों में दहशत का माहौल है। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लूटेरों की तलाश में जुट गई है।

.

यूपी में सरकारी नौकरी करना अब नहीं होगा आसान, हर 6 महीने पर होगा मुल्यांकन, फर्स्ट नहीं आए तो हो जाएंगे बाहर !

0
government job UP will not be easy BIG CHANGES YOGI GOVERNMENT

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) सरकारी नौकरी (Government Job) में बड़ा फेरबदल करने की तैयारी में है। उत्तर प्रदेश सरकार ऐसे नियम ला रही है जिससे अब सरकारी नौकरी (Government Job) पाने के लिए पहले 5 साल तक संविदा पर काम करने के बाद ही मौलिक रुप से नियुक्ति की जाएगी।

उत्तर प्रदेश में अब नई नौकरी पाने वालों की पांच वर्ष तक संविदा पर तैनाती होगी। इन पांच वर्ष के दौरान भी हर वर्ष में छह-छह महीने में उनका मूल्यांकन होगा। उसमें भी हर बार 60 प्रतिशत अंक लाना यानी फर्स्ट डिवीजन (First Division) में पास होगा बेहद जरूरी होगा।

प्रदेश सरकार की अब प्रस्तावित नई व्यवस्था के तहत पांच वर्ष बाद ही मौलिक नियुक्ति की जाएगी। तय फार्मूले पर इनका छमाही मूल्यांकन होगा। इसमें भी प्रति वर्ष 60 प्रतिशत से कम अंक पाने वाले सेवा से बाहर होते रहेंगे। इस दौरान कर्मचारियों को नियमित सेवकों की तरह मिलने वाले अनुमन्य सेवा संबंधी लाभ नहीं मिलेंगे।

कैबिनेट के समक्ष प्रस्तवा पास करने की तैयारी

प्रदेश में सरकारी नौकरी (Government Job) को लेकर नियुक्ति-कार्मिक विभाग इस प्रस्ताव को जल्द कैबिनेट के समक्ष लाने की तैयारी की जा रही है। हर विभाग से सुझाव मांगे गए हैं। सभी विभागों से सुझाव लेने के बाद इसे कैबिनेट में लाया जा सकता है। इसके पीछे का तर्क यह है कि इस व्यवस्था से कर्मचारियों की दक्षता बढ़ेगी। इसके साथ ही नैतिकता देशभक्ति और कर्तव्यपरायणता के मूल्यों का विकास होगा। इतना ही नहीं सरकार पर वेतन का खर्च भी कम होगा।

.

कंगना विवाद- किसी में इतना दम नहीं कि उद्धव को अयोध्या आने से रोक सके: चंपत राय

0
Kangana controversy not enough stop Uddhav coming Ayodhya Champat Rai

अयोध्या. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के बीच छिड़ा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। सुशांत राजपूत के मौत के बाद से ही कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने उद्धव सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया है। इसी बीच अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय (Champat Rai) बंसल ने खुलकर सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का समर्थन किया है।

चंपत राय ने सीएम उद्धव ठाकरे का किया समर्थन

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) को भले ही अखाड़ा परिषद और तमाम साधु संतो का समर्थन मिला है। लेकिन अयोध्या में राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट चंपत राय (Champat Rai) ने सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) का खुलकर समर्थन किया है।

चंपत राय (Champat Rai) ने कहा कि उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को तो अयोध्या आने से कोई रोक नहीं सकता है। अभी किसी में इतना दम नहीं है कि वह उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को तो अयोध्या आने से कोई रोक सके।

राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय (Champat Rai) इतने पर ही नहीं रुके। चंपत राय (Champat Rai) ने अयोध्या के संतों का उद्धव के विरोध को बेहद गलत बताया है। उन्होंने यहां तक कह दिया कि अगर किसी में जरा भी दम है तो उद्धव को अयोध्या आने से रोक ले। जिसकी मां ने दूध पिलाया वो उद्धव का सामना करे। बेवजह विवाद को बढ़ाया जा रहा है।

आपको बता दे, कंगना रनोट के खिलाफ मुम्बई में कार्रवाई के विरोध में अयोध्या में तमाम साधु-संतों ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को अयोध्या में न घुसने देने का एलान किया है।

.

यूपी- 48 घंटे के अंदर हत्या के वांछित अभियुक्तों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
Police arrested wanted accused of murder within 48 hours

आजगगढ़. आजमगढ़ के देवगांव थाने की पुलिस ने घटना के 48 घंटे के अंदर ही हत्या के वांछित अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने सभी अभियुक्तों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

Police arrested wanted accused of murder within 48 hours

विवेचना के दौरान खुलासा हुआ कि गिरफ्तार सभी अभियुक्तों ने योजना बनाकर सुष्मिता के सहारे चूकिं मृतक सागर सुष्मिता से प्यार करता था। जिसे घर वालों को नागवार गुजरा तथा गांव घर से बेज्जती महसूस हो रही थी। इस कारण गिरफ्तारअभियुक्तो द्वारा सुष्मिता के सहारे योजना बद्ध तरीके से अभियुक्त विवेक के द्वारा मृतक को सिवान में बुलाकर व शराब पिलाकर उसकी हत्या कर दी।

जिसके बाद शव को मोटरसाईकिल पर रख कर गांगी नदी ग्राम परसोना थाना मेहनाजपुर में पड़ता है। शव को छुपाने के उद्देश्य से नदी में फेंक दिया। एक दिन बाद शव नदी मे बरामद हुआ। जो मृतक सागर की थी इस सम्बन्ध में थाना स्थानीय पर 06 नफर अभियुक्त पर मुकदमा पंजीकृत है। पुलिस अधीक्षक जनपद आजमगढ द्वारा तत्काल गिरफ्तारी के आदेश दिये गये थे।

जिसके क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक नगर पंकज पाण्डेय व क्षेत्राधिकारी लालगंज के कुशल निर्देशन में पुलिस द्वारा कई टीमे बनाकर लगातार दबिश दी जा रही थी। कि मुखविर खास द्वारा सूचना मिली की मुकदमा उपरोक्त के नामित अभियुक्तगण बुढ़ऊबाबा पेट्रोलपंप पर किसी वाहन का इंतजार कर रहे है। इस सूचना पर तत्काल मौके पर पहुँचकर अभियुक्तगण को गिरफ्तार कर चालान माननीय न्यायलय किया जा रहा है ।

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरण इस प्रकार है…

1. विवेक राजभर पुत्र गुलाब राजभर उम्र 19 वर्ष
2. अरविन्द राजभर पुत्र कल्पनाथ राजभर उम्र 50 वर्ष
3. अभिलाष राजभर पुत्र स्व0 रामधारी राजभर उम्र 40 वर्ष निवासीगण अहिरौली खिजिरपुर थाना देवगांव आजमगढ़
4. रवि राजभर पुत्र फूलचन्द राजभर उम्र 20 वर्ष निवासी मुरादपुर थाना तरवाँ आजमगढ़
5. सुष्मिता पुत्री अभिलाष निवासी अहिरौली खिजिरपुर

.

यूपी- भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ की हुई बैठक, प्रदेश सचिव बोले- आए दिन पत्रकारों पर हो रहा हमला, सरकार बनाए ठोस कानून

0
Azamgarh Meeting National Journalist Federation of India

आजमगढ़. भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ की एक बैठक सौरभ उपाध्याय के बेलईसा चौराहा स्थित आवास पर हुई, बैठक की अध्यक्षता प्रदेश सचिव डॉ सदानंद मिश्रा व संचालन जिला प्रभारी सौरभ उपाध्याय ने किया।

Azamgarh Meeting National Journalist Federation of India

बैठक में पत्रकारों के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश सचिव डॉ सदानंद मिश्रा ने कहा कि आए दिन पत्रकारों के ऊपर हमला हो रहा है सरकार को ठोस कानून बनाकर पत्रकार हित में ठोस निर्णय लेना चाहिए पत्रकार एक समाज का आईना है , पत्रकार ही समाज में सच्ची बातों को पहुंचाने का कार्य करता है

बैठक को संबोधित करते हुए जिला प्रभारी सौरभ उपाध्याय ने कहा कि वर्तमान समय में पत्रकारों की हत्या व हमले की घोर निंदा करते हैं सरकार को पत्रकार सुरक्षा हित में ठोस कदम उठाना चाहिए पत्रकार निस्वार्थ भावना से समाज हित में कार्य करता है

आगे कहा कि पत्रकारों को भी वेतन मिलना चाहिए पत्रकार 24 घंटा बड़ी ईमानदारी के साथ अपनी जिम्मेदारी को निभाता है, पत्रकारों का दुर्घटना बीमा होना चाहिए और पत्रकार के परिवार को सरकार के द्वारा स्वास्थ और शिक्षा की विशेष व्यवस्था करनी चाहिए, पत्रकारों की हत्या को लेकर सरकार को सख्त होना चाहिए और दोषियों को फांसी की सजा होनी चाहिए, संगठन के विस्तार के कड़ी में जिला संगठन मंत्री पद की जिम्मेदारी डॉ बीके सरोज को सौंपी गई, प्रदेश सचिव द्वारा संगठन में अच्छे कार्य करने के लिए सौरभ उपाध्याय को सम्मानित भी किया गया

बैठक को संबोधित करने वालों में संरक्षक रामचंद्र राय, जिला अध्यक्ष और भाई पटेल, मधुर श्रीवास्तव, कृष्णमणि शुक्ला, श्याम नारायण मौर्य, प्रकाश अभिषेक पाठक, प्रदीप मौर्य, पंकज पाठक, रामजीत राजेश सहित दर्जन पत्रकार साथी मौजूद थे।

आजमगढ़ से अमन गुप्ता की रिपोर्ट।

.

आजमगढ़- बिजली विभाग की मनमानी के चलते लोगों की जान को खतरा, विभाग बेपरवाह !

0
Azamgarh electricity department people lives threatened

आजमगढ़. आजमगढ़ बिजली विभाग की मनमानी के चलते लोगों की जान को खतरा। लगभग 10 दिन पहले ट्रांसफार्मर में आग लगने से कई लोग झुलस गए थे। जिसमें से गंभीर हालत में अभी भी महिला का ग्लोबल हॉस्पिटल में चल रहा है इलाज। मुआवजा तो मिला नहीं बल्कि उसी स्थान पर बेपरवाही पूर्वक दुबारा ट्रांसफार्मर लगाने के खिलाफ गुस्साए लोगों ने किया हंगामा।Azamgarh electricity department people lives threatened

बिजली विभाग के सहयोग में भारी संख्या में पहुंची पुलिस ने लोगों को खदेड़ कर उसी स्थान पर लगवाया ट्रांसफार्मर। पीड़ितों का आरोप लगातार थाने से लेकर उच्चाधिकारियों तक को प्रार्थना पत्र देने के बाद भी भीड़भाड़ वाले जगह पर लापरवाही पूर्वक लगाया जा रहा है।

ट्रांसफार्मर बड़ी घटना के अंदेशा के चलते लोग विरोध कर रहे हैं, मगर विभाग को कोई परवाह नहीं है। कवरेज करने गए प्रेस छायाकार के साथ भी सिधारी थाना क्षेत्र के दरोगा ने की बदतमीजी, पत्रकारों ने कि अधिकारियों से शिकायत सिधारी थाना क्षेत्र के मुख्य बाजार का मामला।

आजमगढ़ से अमन गुप्ता की रिपोर्ट।

.

रायबरेली- 19 साल की युवती का शव नहर में मिलने से मचा हड़कंप, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

0
Rae Bareli girl body found nahar fear murder after rape

रायबरेली. रायबरेली के बछरांवा में उस वक्त हड़कंप मच गया जब बछरावां थाना क्षेत्र के बाछूपुर कसरावां में 19 साल की युवती का शव नहर में पड़ा मिला। जिसके बाद ग्रामीणों के माध्यम से पुलिस को सूचना दी गई। युवती के शव को देखकर दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई जा रही है।

 

अभी तक शव की शिनाख्त नहीं हो सकी

बछरावां थाना क्षेत्र के बाछूपुर कसरावां माइनर में बीती रात 10 बजे के करीब ग्रामीणों ने लगभग 19 वर्षीय युवती का शव पड़ा देख हैरत में पड़ गए। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर शव के शिनाख्त में जुट गई है। लकिन अभी तक शव की शिनाख्त नहीं हो सकी। आशंका व्यक्त की जा रही है कि दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या कर शव को यहां पर फेंका गया है।

थानाध्यक्ष राकेश सिंह ने बताया कि बरामद युवती की उम्र लगभग 19 वर्ष के आसपास है। वह आसमानी कलर की लैगी तथा गुलाबी कुर्ती पहने है। दोनों हाथों में मेहंदी लगी है एवं कंगन पहने हैं। उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया दुराचार का मामला प्रतीत नहीं हो रहा है। हत्या हुई है या मौत की कोई और वजह है पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा। फिलहाल वह कहां की रहने वाली है और कौन है इसकी शिनाख्त कराए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

.

काजोल-अजय के 10 साल के बेटे ने बर्थडे पर ये काम कर जीत लिया सबका दिल, see photos

0
Kajol-Ajay Devgan yug birthday photos

मनोरंजन डेस्क. बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन (Ajay Devgan) और अभिनेत्री काजोल (Kajol) के बेटे युग का आज जन्मदिन है। युग आज 10 साल के पूरे हो गए हैं लेकिन इन्होंने एक काम कर अपने बर्थडे को बेहद खास बना दिया है। काजोल (Kajol)-अजय के बेटे युग ने अपने बर्थडे पर पौधे लगाकर जन्मदिन को यादगार बना दिया है। वहीं सोशल मीडिया पर यूजर्स युग की जमकर तारीफ कर रहे हैं।

अजय देवगन (Ajay Devgan) ने बेटे युग की फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है जिसमें वह पौधे लगा रहे हैं। युग की फोटोज शेयर करते हुए बॉलीवुड अभिनेता ने लिखा, ‘एक हरे-भरे कल की ओर काम। इससे ज्यादा नहीं मांग सकते। हैप्पी बर्थडे युग। अभी बहुत कुछ है आने को।’

एक्ट्रेस काजोल (Kajol) ने भी दी बधाई

अभिनेत्री काजोल (Kajol) ने बेटे युग का एक वीडियो शेयर किया और लिखा, ‘मुझे कुछ नहीं पता, मुझे सब पता है- युग देवगन। मेरे छोटे बुद्धा को 10वें जन्मदिन की शुभकामनाएं। मैं तुम्हें इतना मिस कर रही हूं कि बता भी नहीं सकती।’

बता दें कि काजोल (Kajol) इन दिनों बेटी न्यासा के साथ सिंगापुर (Singapore) में हैं। न्यासा सिंगापुर (Singapore) के युनाइटेड वर्ल्ड कॉलेज ऑफ साउथ ईस्ट एशिया में पढ़ाई कर रही हैं। काजोल (Kajol) और अजय देवगन (Ajay Devgan) नहीं चाहते हैं कि न्यासा की पढ़ाई पर कोई असर पड़े। इसके अलावा वे कोरोना महामारी के बीच न्यासा को पढ़ने के लिए सिंगापुर (Singapore) में अकेला नहीं छोड़ना चाहते हैं इसलिए अब काजोल (Kajol) ने फैसला किया है कि न्यासा के साथ वह सिंगापुर (Singapore) में रहेंगी।

.

यूपी में विशेष सुरक्षा बल का गठन, अब गिरफ्तारी के लिए वारंट की जरूरत नही, दिये गये ये पॉवर

0

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था को देखते हुए प्रदेश की योगी सरकार ने विशेष सुरक्षा बल का गठन किया है। प्रदेश में विशेष सुरक्षा बल के बनाने की शासन ने अधिसूचना जारी कर दिया है । उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल को असीमित शक्तियां दी गई है। जो यूपी पुलिस के पास नहीं है।

उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल को बैगर वारंट गिरफ्तारी और तलाशी की शक्ति उत्तर प्रदेश सुरक्षा बल को दी गई है। सरकार की इच्छा के बिना विशेष सुरक्षा बल के अधिकारियों और कर्मचारियों के विरुद्ध न्यायालय में भी सुनवाई नहीं होगी। ये बताना यहां पर ज़रुरी है सरकारी भवनों, कार्यालयों और औद्योगिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा की जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल की होगी. निजी कंपनियां भी वेतन देकर इनकी सेवा ले सकते है।

विशेष सुरक्षा बलों को यह दिए गए पावर

उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल को असीमित शक्तियां मिल गई हैं। इसके तहत बल के किसी भी सदस्य के पास अगर यह विश्वास करने का कारण है कि धारा 10 में निर्दिष्ट कोई अपराध किया गया है या किया जा रहा है और यह कि अपराधी को निकल भागने का, या अपराध के साक्ष्य को छिपाने का अवसर दिए बिना तलाशी वारंट प्राप्त नहीं हो सकता तब वह उक्त अपराधी को निरुद्ध कर सकता है। इतना ही नहीं वह तत्काल उसकी संपत्ति व घर की तलाशी ले सकता है। यदि वह उचित समझे तो ऐसे किसी व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकता है।लेकिन शर्त यही है कि उसे यह विश्वाश हो कि उसके पास यह वजह हो कि उसने अपराध किया है।

अपर पुलिस महानिदेशक लेवल का अधिकारी इसका होगा चीफ़

अपर पुलिस महानिदेशक लेवल का अधिकारी उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल का चीफ होगा।और इसका मुख्यालय लखनऊ में होगा।बता दें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 जून को उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल के गठन को मंजूरी दे दी थी। कैबिनेट बाई सर्कुलेशन के जरिए यूपीएसएसएफ के गठन की मंजूरी के बाद अब गृह विभाग ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। प्रारंभ में उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल की पांच बटालियन गठित होंगी और इसके एडीजी अलग होंगे। उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल अलग अधिनियम के तहत काम करेगी।

.

उत्तर प्रदेश में विशेष सुरक्षा बल का किया गठन, दी गई ये विशेष शक्तियां

0
Special security force Uttar Pradesh special powers

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था को देखते हुए प्रदेश की योगी सरकार ने विशेष सुरक्षा बल का गठन किया है। प्रदेश में विशेष सुरक्षा बल के बनाने की शासन ने अधिसूचना जारी कर दिया है । उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल को असीमित शक्तियां दी गई है। जो यूपी पुलिस के पास नहीं है।

विशेष सुरक्षा बल के सदस्यों को प्रदेश सरकार ने बिना वारंट के गिरफ्तारी का अधिकार दिया है। इसके साथ ही किसी भी व्यक्ति की और उसके घर की तलाशी लेने की शक्ति दी है। वहीं सरकार ने इस बल के लोगों पर बिना सरकार की इजाजत लिए कोर्ट को भी कार्यवाही करने का आदेश नहीं दिया है। इस सुरक्षा बल की कमान एक एडीजी स्तर के अधिकारी को दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने 26 जून को दी थी सुरक्षा बल की मंजूरी

यूपी स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स (UP SSF) को प्रदेश में सरकारी इमारतों, दफ्तरों और ओघोगिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा इस सुरक्षा बल की सेवा कोई प्राईवेट कंपनी भी ले सकती है मगर उसे इसके लिए भुगतान करना होगा। बता दें इस सुरक्षा बल की मंजूरी मुख्यमंत्री ने 26 जून को दी थी।

अपर पुलिस महानिदेशक लेवल का अधिकारी इसका होगा चीफ़

अपर पुलिस महानिदेशक लेवल का अधिकारी उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल का चीफ होगा।और इसका मुख्यालय लखनऊ में होगा।बता दें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 जून को उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल के गठन को मंजूरी दे दी थी। कैबिनेट बाई सर्कुलेशन के जरिए यूपीएसएसएफ के गठन की मंजूरी के बाद अब गृह विभाग ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। प्रारंभ में उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल की पांच बटालियन गठित होंगी और इसके एडीजी अलग होंगे। उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल अलग अधिनियम के तहत काम करेगी।

.

यूपी- सपा नेता एवं पूर्व मंत्री मनोज पांडेय सीतापुर के अटरिया से गिरफ्तार….

0
former minister Manoj Pandey arrested

सीतापुर. समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मंत्री मनोज पांडेय को पुलिस ने हिरासत में लिया है। सपा नेता स्वर्गीय कमलेश मिश्रा के घर शोक व्यक्त करने सीतापुर के महोली जा रहे थे। जिसकी भनक लगने पर पुलिस ने सपा नेता को सीतापुर के अटरिया से गिरफ्तार कर लिया है। मनोज पांडेय के साथ कई नेता भी गए थे।

former minister Manoj Pandey arrested

सीतापुर महोली की घटना में कमलेश मिश्र के परिवार से मिलने जाते समय विधायक मनोज पाण्डे रोके गए। पुलिस बल ने अटरिया हाइवे पर विधायक मनोज पाण्डेय को रोक लिया। आपको बता दें, कुछ दिन पहले सपा नेता अभिषेक मिश्रा भी इसी परिवार से मिलने जाते समय रोके गए थे।

आपको बता दें, इससे पहले शनिवार को आम आदमी पार्टी के नेताओं ने सीतापुर पहुंच कर स्वर्गीय कमलेश मिश्रा के परिजनों से मुलाकात की थी। परिजनों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया था।

स्वर्गीय कमलेश मिश्रा के पुत्र शुभ्रम मिश्र ने बताया था कि कल मेरे पिता जी रात्रि में 10 बजे के आस पास पूजा करने गए थे और वह मंदिर उन्हीं का बनाया हुआ था वो उसका जीणोद्धार भी करा रहे थे यहाँ पर कल रात अज्ञात हमलावरों द्वारा इनकी हत्या कर दी गयी।

.

क्वारंटाइन सेंटर में महिला से दुष्कर्म, आरोपी स्वास्थ्यकर्मी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
teenager thrown Yamuna River brother and brother-in-law mathura - News in Hindi

क्राइम डेस्क. कोरोना महामारी के खिलाफ पूरा देश लड़ रहा है। कोरोना की लड़ाई में अपनी जान जोखिम में डालकर डॉक्टर, नर्स और पुलिसकर्मी अपना फर्ज निभा रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र के ठाणे में एक स्वास्थ्य कर्मचारी ने बेहद घिनौना काम किया है।

जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र के ठाणे के एक कोविड-19 (Covid-19) क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) के सहायक को वहां एक युवती के साथ कथित दुष्कर्म (Rape) के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। यह घटना जून की बताई जा रही है। शनिवार उस वक्त सामने आई जब युवती ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

नवघर पुलिस थाने के निरीक्षक संपत पाटिल ने बताया कि घटना जून की है लेकिन शनिवार को यह उस वक्त सामने आई जब युवती ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। अधिकारी ने बताया कि महिला ने शिकायत में कहा है कि घटना उस वक्त की है जब वह मीरा रोड़ स्थित एक क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) में भर्ती 11 वर्षीय रिश्तेदार की देखभाल के लिए गई थी।

अधिकारी ने बताया कि आरोपी ने जून के पहले हफ्ते में महिला के कमरे में उससे तीन बार दुष्कर्म (Rape) किया। उन्होंने बताया कि महिला आरोपी के डर से उस वक्त पुलिस के पास नहीं गई, शनिवार को उसने आरोपी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद आरोपी को भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस के मुताबिक महिला क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) में अपनी 10 माह की बच्ची के साथ ही रह रही थी ताकि कोरोना वायरस संक्रमित उसके 11 साल के रिश्तेदार की देखभाल हो सके। पाटिल ने बताया कि आरोपी गर्म पानी देने के लिए उसके कमरे में जाता था और उस दौरान उसने महिला के साथ कथित रूप से अनुचित बर्ताव किया, जिसका महिला ने विरोध किया, इस पर आरोपी ने उसकी बच्ची की हत्या करने की धमकी दी।

.

सीएम योगी से मिला सुदीक्षा भाटी का परिवार, 20 लाख की आर्थिक मदद के साथ प्रेरणा स्थल और लाइब्रेरी बनाने का ऐलान

0
Sudiksha Bhati family meets CM Yogi financial help 20 lakh

लखनऊ. बुलंदशहर में सड़क हादसे में अपनी जान गंवाने वाली छात्रा सुदीक्षा भाटी (Sudiksha Bhati) के परिजनों से सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने मुलाकात की है। सीएम योगी ने परिजनों को ढांढस बंधाया और हर संभव मदद का भरोसा दिया। इस दौरान दादरी के विधायक तेजपाल नागर और राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर भी मौजूद थे।

सुदीक्षा भाटी के परिवार को 20 लाख की आर्थिक मदद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने निर्देश दिए कि सुदीक्षा के नाम पर प्रेरणा स्थल और लाइब्रेरी बनाई जाएगी ताकि क्षेत्र के बच्चों को आगे बढ़ने और पढ़ने की प्रेरणा मिल सके। उन्होंने अधिकारियों को परिवार की आर्थिक मदद के भी निर्देश दिए। सुदीक्षा के परिवार को 15 लाख रुपए सरकार की ओर से और ₹5 लाख सांसद सुरेंद्र नागर की ओर से दिए जाएंगे।

सुदीक्षा भाटी बेहद मेधावी थी

परिजनों ने सीएम योगी को बताया कि सुदीक्षा बेहद मेधावी थी और अभावों के बीच भी पढ़ने के प्रति लगनशील थी। एक ही कमरे में पूरा परिवार रहता था फिर भी पढ़ाई करती रहती थी। सुदीक्षा की मां और पिता ने मुलाकात के बाद कहा कि मुख्यमंत्री जी ने उनकी बातों को सुना और सुदीक्षा के नाम पर जो कुछ करने के लिए सहमति जताई यह हमारे लिए संतोष का विषय है।

.

Vodafone-Idea ने लांच किया अब तक सबसे धांसू प्लान, सिर्फ 351 में दे रहा है 1000 GB डेटा

0
Vodafone-Idea launched 351 rupees plan 1000 GB data in just 351

टेक्नोलॉजी डेस्क. Vodafone-Idea ने खुद को हाल ही में नए ब्रांड के तौर पर पेश किया है। पहले कंपनी ने अपना लोगो चेंज किया तो वहीं अब अपने यूजर्स के लुभाने के लिए नए-नए धमाकेदार प्लांस लाचं कर रही है। कोरोना काल में घर से काम रहे लोगों के लिए Vodafone-Idea ने 351 रुपए का वर्क फ्रॉम प्लान लांच किया है।

वर्क फ्रॉम होम वाले कॉन्सेप्ट को ध्यान में रखते हुए टेलीकॉम कंपनियां भी इसको ध्यान में रखकर कई प्लान्स लेकर आ रही है। यूजर्स को बेहतर सुविधा मुहैया करने के लिए टेलिकॉम कंपनी Vodafone Idea यानि Vi भी एक नया प्लान बाजार में लकेर आई है।

Vodafone-Idea ने किया 351 रुपए का वर्क फ्रॉम प्लान लांच

VodafoneIdea के नए प्लान की कीमत 351 रुपये है, कंपनी की वेबसाइट पर इस प्लान से जुड़े जानकारी देखी जा सकती है। कंपनी ने ये प्लान खासतौर पर उन लोगों के लिए लॉन्च किया है जो घर से काम करते हैं। इस प्लान में यूजर को 1000 GB हाई-स्पीड डेटा मिलता है। इस प्लान की वैलिडिटी 56 दिनों की हैं। इसके साथ कंपनी 251न रुपये का वर्क फ्रॉम भी उपलब्ध करा रही है। इस प्लान में कंपनी 28 दिनों की वैधता के साथ 50 जीबी डेटा मिलेगा।

Vodafone-Idea का ये प्लान कुछ सीमित जगहों के लिए उपलब्ध होगा। दिल्ली, आंध्र प्रदेश, गुजरात, केरल और मध्य प्रदेश सर्किल के लोग ही इसका लाभ उठा पाएंगे. ये प्लान घर से काम कर रहे लोगों के लिए काफी बेहतरीन है।

.

बड़ी खबर- लालू यादव के करीबी और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का निधन, एम्स में चल रहा था इलाज

0
Raghuvansh Prasad Singh died treatment underway at AIIMS

Raghuvansh Prasad Singh died treatment underway at AIIMS:- नई दिल्ली. बिहार से एक बड़ी खबर आ रही है। लालू यादव के करीबी और आरजेडी के दिग्गज नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का एम्स में निधन हो गया है। वह पिछले कई दिनों से एम्स में भर्ती थे।

Raghuvansh Prasad Singh died treatment underway at AIIMS

जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार देर रात पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह की अचानक ही उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई, जिसके बाद उन्हें वेटिंलेटर सपोर्ट पर रखा गया। डॉक्टर लगातार उनकी सेहत की निगरानी कर रहे थे लेकिन तबीयत लगातार बिगड़ रही थी। इस बीच रविवार को उनका निधन हो गया।

यूपी- योगी सरकार ने 6 IAS अफसरों के किए तबादले, देखें लिस्ट

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह की पहचान बिहार के कद्दावर नेता के तौर पर होती थी। हाल ही अचानक तबीयत बिगड़ने की वजह से दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था।

Vodafone-Idea ने लांच किया अब तक सबसे धांसू प्लान, सिर्फ 351 में दे रहा है 1000 GB डेटा

.

यूपी- योगी सरकार ने 6 IAS अफसरों के किए तबादले, देखें लिस्ट

0
UP Yogi government transfers 6 IAS officers list

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया है। शनिवार देर रात योगी सरकार ने 6 आईएएस अफसरों के तबादले किए हैं। वहीं जिला मऊ चार्ज लेने जा रहे राजेश पाण्डेय शंटिंग में डाले गये हैं।

योगी सरकार ने 6 IAS अफसरों के किए तबादले

अमित कुमार सिंह को जिलाधिकारी कौशांबी बनाया गया है. वे विशेष सचिव सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम के पद पर तैनात थे. उधर मनीष वर्मा जिलाधिकारी कौशांबी से विशेष सचिव बेसिक शिक्षा बनाए गए हैं. आनंद कुमार सिंह विशेष सचिव बेसिक शिक्षा से जिलाधिकारी बांदा के पद पर तैनात किए गए हैं.

अमित सिंह बंसल जिलाधिकारी बांदा से जिलाधिकारी मऊ बनाए गए हैं. शुक्रवार को मऊ के डीएम बनाए गए राजेश पांडे का तबादला निरस्त कर उन्हें वेटिंग में डाल दिया गया है. नेहा शर्मा विशेष सचिव पिछड़ा वर्ग से एसीईओ नोएडा के पद पर तैनात की गई हैं.

इससे पहले 13 आईपीएस अफसरों के हुए थे तबादले

इससे पहले 11 सितंबर को सरकार ने 8 जिलों के कप्तान सहित 13 आईपीएस अधिकारियों के ट्रांसफर किए थे. इनमें हरदोई, कानपुर देहात, रायबरेली, हमीरपुर, उन्नाव, सिद्धार्थनगर, लखीमपुर खीरी, कुशीनगर समेत आठ जिलों के पुलिस कप्तान भी शामिल थे.

योगी सरकार ने पिछले तीन दिनों में जिस तरह से ताबड़तोड़ ट्रांसफर किये हैं इससे एक बात तो साफ़ है कि अभी कई आईएएस अफसरों पर कार्रवाई हो सकती है. सरकार लगातार जिलाधिकारियों के कामों की समीक्षा कर रही है. नाकाम रहे अफसरों का तबादला किया जाएगा.

.

लखनऊ- प्रधानमंत्री पर अभद्र टिप्पणी करने वाले सिंचाई विभाग के जेई निलंबित !

0
JE Irrigation Department suspended remarks Prime Minister Lucknow

लखनऊ. केन्द्र सरकार व राज्य सरकार के नीतियों की आलोचना करना सिंचाई विभाग के जेई को महंगा पड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने वाले सिंचाई विभाग के जेई को निलंबित कर दिया गया है।

सिंचाई विभाग जेई प्रवीण कुमार निलंबित

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने वाले सिंचाई विभाग जेई प्रवीण कुमार को निलंबित कर दिया गया है।

.
English Hindi