बाराबंकी में फर्जी वैक्सीनेशन का मामला आया सामने, की गई कार्रवाही

0
218
.

बाराबंकी। यूपी के जिले बाराबंकी में सोमवार को गलत तरीके से वैक्सीनेशन के मामले में बड़ी कार्रवाई की गई। बताया जा रहा है कि सीएमओ ने आरोपी लैब अटेंडेट सूर्य प्रताप सिंह को सस्पेंड कर दिया है।जबकि सीएचसी अधीक्षक डॉक्टर विनय वर्मा के खिलाफ कार्रवाई के लिए शासन को पत्र लिखा है।

श्रावस्ती के सीएमओ डॉ. एपी भार्गव ने बताया कि लैब अधीक्षक डॉ. विनय शर्मा गांव में अपने रिश्तेदारों को वैक्सीनेशन कर रहा था। जांच में दोनों दोषी पाए गए हैं।
बता दें,
जैदपुर थाना क्षेत्र के गांव मानपुर डेहुआ में पूर्व ब्लॉक प्रमुख प्रत्याशी के घर का है। यहां पर शनिवार रात श्रावस्ती के डॉ. विनय शर्मा और लैब अटेंडेंट सूर्य प्रताप रुपए लेकर ग्रामीणों का वैक्सीनेशन कर रहे थे।जब मीडिया के कैमरे में वैक्सीनेशन करता हुआ स्वास्थ्यकर्मी कैद हो गया तो ग्रामीणों ने मीडियाकर्मियों पर हमला बोल दिया। ग्रामीणों ने मीडियाकर्मियों के साथ मारपीट और अभद्रता की। माइक और कैमरे भी तोड़कर लूटपाट की।

आक्रोशित हो गए थे ग्रामीण

वहीं कमरे में बंद करके केरोसीन डालकर जिंदा जलाने की भी कोशिश की। मीडियाकर्मियों ने किसी तरह से भागकर अपनी जान बचाई। सूचना पर मौके पर डीएम और एसएसपी ने जांच पड़ताल की थी। पुलिस ने 18 आरोपियों को नामजद करने के साथ ही करीब 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी केस दर्ज किया था। जबकि चार लोगों को गिरफ्तार किया था।

मौके पर कोवैक्सिन की खाली वॉयल मिली थी।

.