Chaitra Navratri 2021: कब से शुरू हो रही है नवरात्रि, यहां जानें कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

0
741
.

धर्म डेस्क. चैत्र नवरात्रि की शुरुआत 13 अप्रैल से हो रही है। इस पावन पर्व पर मां दुर्गा के नो स्वरूपों की विधिपूर्वक पूजन और कलश स्थापना की जाती है। हिंदू धर्म में नवरात्रि का विशेष महत्व है। जहां मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए सभी अपने घरों में कलश की स्थापना लेकर लोग व्रत भी रखते हैं। मां दुर्गा इस बार घोड़े पर सवार होकर आकर रही है.

नवरात्रि घटस्थापना विधि

  1. नवरात्रि की प्रतिपदा तिथि पर सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करें.

  2. घर की साफ-सफाई करके ईशान कोण में एक लकड़ी की चौकी बिछाएं

  3. एक मिट्टी का चौड़े मुंह वाला बर्तन लेकर उसमें मिट्टी रखें.

  4. मिट्टी के पात्र में थोड़ा सा पानी डालकर मिट्टी गिली करके उसमें जौं बो दें.

  5. एक मिट्टी का कलश या फिर पीतल के कलश में जल भरें और उसके ऊपरी भाग (गर्दन) में कलावा बांधें.

  6. कलश में एक बताशा, पूजा की सुपारी, लौंग का जोड़ा और एक सिक्का डालें.

  7. अब कलश के ऊपर आम या अशोक के पल्लव लगाएं.

  8. एक जटा वाला नारियल लेकर उसके ऊपर लाल कपड़ा लपेटकर मौली बांधकर कलश के ऊपर रख दें.

  9. सबसे पहले गणपति वंदन करें और कलश पर स्वास्तिक बनाएं.

  10. घटस्थापना पूरी होने के पश्चात मां दुर्गा का आह्वान करते हुए विधि-विधान से माता शैलपुत्री का पूजन करें.

कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

तिथि- 13 अप्रैल 2021, दिन- मंगलवार

शुभ मुहूर्त- सुबह 05 बजकर 28 मिनट से सुबह 10 बजकर 14 मिनट तक.

अवधि- 04 घंटे 15 मिनट

दूसरा शुभ मुहूर्त- सुबह 11 बजकर 56 मिनट से दोपहर 12 बजकर 47 मिनट तक.

चैत्र नवरात्रि की तिथियां (Chaitra Navratri 2021 Dates)

मां शैलपुत्री पूजा: पहला दिन, 13 अप्रैल 2021 को

मां ब्रह्मचारिणी पूजा: दूसरा दिन, 14 अप्रैल 2021 को

मां चंद्रघंटा पूजा: तीसरा दिन, 15 अप्रैल 2021 को

मां कूष्मांडा पूजा: चौथा दिन, 16 अप्रैल 2021 को

मां स्कंदमाता पूजा: पांचवां दिन, 17 अप्रैल 2021 को

मां कात्यायनी पूजा: छठा दिन, 18 अप्रैल 2021 को

मां कालरात्रि पूजा: सातवां दिन, 19 अप्रैल 2021 को

मां महागौरी पूजा: आठवां दिन, 20 अप्रैल 2021 को

मां सिद्धिदात्री पूजा: नौवां दिन, 21 अप्रैल 2021 को

व्रत पारण: दसवां दिन, 22 अप्रैल 2021 को

.