CM योगी ने की पुलिस आधुनिकीकरण की समीक्षा, कहा- दोगुनी की जाए पुलिस ट्रेनिंग स्कूलों की क्षमता

0
66
UP government transferred 6 SDMs, transfer of one canceled, see list here
.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस लाइन्स सम्बन्धी निर्माणों, पी0ए0सी0 बटालियन में आवासीय/अनावासीय भवनों के निर्माण तथा प्रदेश के विभिन्न जनपदों में थानों व पुलिस लाइन में बैरक, विवेचना कक्ष एवं हास्टल निर्माण आदि के सम्बन्ध में प्राथमिकताएं तय करते हुए निर्माण कार्यों को समयबद्ध एवं गुणवत्तापरक ढंग से पूरा किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि निर्माण कार्यों की प्रगति एवं गुणवत्ता के सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी फील्ड विजिट करें। पुलिस ट्रेनिंग स्कूलों में प्रशिक्षण क्षमता को दोगुना किए जाने की व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं।

सीएम योगी आदित्यनाथ सोमवार को अपने सरकारी आवास पर पुलिस विभाग से सम्बन्धित विभिन्न निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने पुलिस विभाग के आधुनिकीकरण, उपकरणों व वाहनों के क्रय आदि की भी समीक्षा की। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ऐसे जनपद जिनमें पुलिस लाइन्स नहीं हैं-कासगंज, अमरोहा, अमेठी, शामली, संभल, औरेया, चंदौली, हापुड़ में आवासीय/अनावासीय भवनों के निर्माण हेतु प्रस्तावों पर सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर तेजी से कार्यवाही की जाए।

सीएम ने कहा कि नवस्थापित पी0ए0सी0 बटालियन के तहत गोरखपुर, बदायूं व लखनऊ में महिला पी0ए0सी0 वाहिनी तथा जालौन, शामली व अयोध्या में पुरुष पी0ए0सी0 वाहिनी हेतु आवासीय/अनावासीय भवनों के निर्माण की प्रक्रिया में तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि महिला पी0ए0सी0 वाहिनी के निर्माण सम्बन्धी कार्यों के प्रस्तावों पर प्राथमिकता पर कार्यवाही की जाए।

सीएम ने कहा कि पुलिस कार्यों हेतु आधुनिक तकनीक और आधुनिकीकरण समय की आवश्यकता है। इसके दृष्टिगत पुलिस आधुनिकीकरण योजना के तहत रेडियो, तकनीकी सेवाएं, सुरक्षा, एस0टी0एफ0, फायर सर्विस एवं लाॅजिस्टिक्स के उपकरण, आम्र्स एम्युनिशन हेतु क्रय सम्बन्धी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि लखनऊ सेफ सिटी योजना के तहत इण्टीग्रेटेड कण्ट्रोल रूम, पिंक बूथ, पिंक टाॅयलेट, आशा ज्योति केन्द्र के भवन निर्माण कार्यों में भी तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा कोष के तहत यातायात नियंत्रण हेतु उपयोगी विभिन्न उपकरणों को क्रय किया जाए। यू0पी0 ‘112’ तथा फायर सर्विस, एस0डी0आर0एफ0, पी0ए0सी0 हेतु उपयोगी उपकरणों से सम्बन्धित क्रय कार्यों को भी समयबद्ध ढंग से सम्पादित किया जाए।

इस अवसर पर मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव वित्त एस0 राधा चैहान सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

.