यूपी सरकार के प्रभावी प्रयासों से कोरोना संक्रमण नियंत्रण में- CM योगी आदित्यनाथ

0
67
CM Yogi Adityanath
.

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार के प्रभावी प्रयासों से प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने विभिन्न राज्यों में तेजी से बढ़ रहे कोविड के मामलों के दृष्टिगत कोरोना के प्रति अतिरिक्त सतर्कता बरतने पर बल दिया।

सीएम योगी आदित्यनाथ आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लगातार कोशिशों से संक्रमण दर न्यूनतम स्तर पर है। कोरोना के सम्बन्ध में थोड़ी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है। उन्होंने बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन तथा हवाई अड्डों पर पूरी सक्रियता के साथ टेस्टिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निगरानी समितियां एक्टिव मोड में रहें। उन्होंने कहा कि रात्रिकालीन कर्फ्यू को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए पुलिस द्वारा निरन्तर पेट्रोलिंग की जाए।

बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 19 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 22 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 342 है। जनपद अलीगढ़, बांदा, बिजनौर, एटा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, गोण्डा, हमीरपुर, हरदोई, कानपुर देहात, महोबा, मऊ, रामपुर, संतकबीरनगर, शाहजहांपुर तथा उन्नाव में वर्तमान में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 2,16,629 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 07 करोड़ 12 लाख 89 हजार 637 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार लक्षित आयु वर्ग के सभी नागरिकों को कोरोना टीकाकरण का सुरक्षा कवच निःशुल्क उपलब्ध करा रही है। प्रदेश में टीकाकरण कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने कोविड वैक्सीनेशन कार्य को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए। बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश में अब तक 06 करोड़ 60 लाख 82 हजार से अधिक वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी हैं।

मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि अब तक 342 ऑक्सीजन प्लाण्ट क्रियाशील हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन प्लाण्ट के कुशल संचालन के लिए प्लाण्ट ऑपरेटर्स के प्रशिक्षण को शीघ्र पूरा कराया जाए। उन्होंने कहा कि बिजली बिल में ओवरबिलिंग की शिकायतांें का तत्काल निस्तारण कराया जाए। उन्हांेने कहा कि बकाये की वजह से किसी भी किसान का बिजली कनेक्शन न काटा जाए। इनकी समस्याओं के निस्तारण के लिए एक मुश्त समाधान (ओ0टी0एस0) योजना लायी जाए।

मुख्यमंत्री ने अवैध शराब के खिलाफ प्रदेशव्यापी अभियान को तेज किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अवैध शराब की बिक्री में संलिप्त पाए जाने वाले लोगों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए। हर हाल में यह सुनिश्चित किया जाए कि अवैध शराब की बिक्री न होने पाए। उन्होंने कहा कि जनपद आगरा में अवैध और जहरीली शराब के सेवन से हुई घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इस प्रकरण में सम्बन्धित स्थानीय अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाएगी।

.