पहले IAS अधिकारी सुहास बने ओलंपिक में पदक विजेता

0
72
.

लखनऊ, भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी और उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एल यथिराज ने टोक्यो पैरालिंपिक में सिल्वर मेडल अपने नाम किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें बधाई दी है। ओलिंपिक खेलों में पदक जीतने वाले देश के पहले प्रशासनिक अधिकारी उत्तर प्रदेश कैडर के आइएएस अफसर सुहास एल वाइ (यतिराज) को देश के पीएम मोदी ने तो फोन पर वार्ता कर बधाई दी जबकि सीएम योगी आदित्यनाथ ने सुहाइ एलवाइ को टोक्यो पैरालिंपिक खेलों 2020 में रजत पदक जीतने पर ट्विट से बधाई दी।

उन्होंने बचपन के बैडमिंटन खेल के जुनून को प्रशासनिक सेवा के दौरान भी जारी रखा और आजमगढ़ में 2016 में बतौर जिलाधिकारी तैनात रहने के दौरान खेल को निखारा। वह आजमगढ़ में बैडमिंटन के एक टूर्नामेंट का उद्घाटन करने गए थे और उद्घाटन करने के बाद आयोजकों से बतौर खिलाड़ी प्रतिभाग करने का अनुरोध किया। उन्होंने प्रतियोगिता में दो-तीन नामचीन खिलाडिय़ों को हराया। इसके बाद से वह अपना खेल निखारने में लग गए और ओलिंपिंक में रजत पदक जीता।

पीएम मोदी ने फोन पर दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टोक्यो फोन करने सुहास एलआइ को बधाई दी तो उन्होंने कहा कि आपकी सीख काफी काम आ गई। उन्होंने प्रधानमंत्री से कहा कि आपने ही टोक्यो रवाना होने से पहले कहा था कि सामने कौन है यह मत देखना, बस बेस्ट करना। यही वाक्य आज मेरे लिए पैराओलिंपिक में जीत का मंत्र बना। उन्होंने कहा कि रजत पदक जीतने कर मुझे बेहद गर्व है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इससे पहले ट्विट भी किया था। उन्होंने लिखा कि सेवा और खेल का अद्भुत संगम। सुहास ने अपने असाधारण खेल प्रदर्शन की बदौलत हमारे पूरे देश की कल्पना पर कब्जा कर लिया है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी टोक्यो पैरालिंपिक में रजत पदक जीतने पर गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाइ को बधाई दी। उन्होंने अपने ट्विट में लिखा कि आपने टोक्यो पैरालिंपिक में बैडमिंटन स्पर्धा में सिल्वर जीतकर भारत की खेल प्रतिभा को वैश्विक पटल पर प्रतिष्ठित किया है। देश को हर्षाने वाली यह अविस्मरणीय उपलब्धि खिलाडिय़ों को प्रेरित करेगी। आपको अनन्त शुभकामनाएं।

रजत पदक जीतने के बाद सुहास एलवाई ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि मैंने टोक्यो में पैरालिंपिक खेलों में भारत के लिए सिल्वर मेडल जीता। अभी पीएम मोदी ने फोन कर मुझे बधाई और देशवासियों से मिल रहीं बधाइयों के बारे में जानकारी दी। आईएएस एसोसिएशन ने भी मेडल जीतने पर सुहास को बधाई दी। एसोसिएशन ने ट्वीट किया, आपने हमारा दिल जीत लिया। पूरे देश को आप पर गर्व है।

गौरतलब है कि टोक्यो पैरालिंपिक में गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एल यतिराज ने कमाल करते हुए इतिहास रचा है। सुहास एल यतिराज ने टोक्यो में सिल्वर मेडल अपने नाम किया है। इन खेलों में भारत का यह 18वां पदक है। बैडमिंटन खिलाड़ी सुहास एल यतिराज ने टोक्यो पैरालिंपिक में मेंस सिंगल्स एसएल-4 वर्ग में रजत पदक जीता। फाइनल में सुहास एल यतिराज का सामना फ्रांस के लुकास मजूर से हुआ। फाइनल मुकाबले में सुहास ने पहला सेट जीता। अगले दो राउंड में फ्रांस के खिलाड़ी ने बाजी मारी। पहला गेम 21-15 से जीतने वाले सुहास एल यतिराज को दूसरे गेम में 17-21 तथा तीसरे गेम में 15-21 से हार मिली।

.