बेंगलुरु :- युवा खिलाडिय़ों की मेहनत वरिष्ठों को प्रेरित करती है : सुशीला

0
22
Hard work of young players
.

Hard work of young players बेंगलुरु :- भारतीय महिला हॉकी टीम की अनुभवी सदस्य सुशीला चानू ने दिसंबर में होने वाले नेशन्स कप की तैयारियों के बीच युवा खिलाडिय़ों की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी मेहनत से वरिष्ठ खिलाडिय़ों को भी प्रेरणा मिलती है।

नये खिलाडिय़ों की प्रशंसा की

सुशीला ने कोर ग्रुप में शामिल हुए नये खिलाडिय़ों की प्रशंसा करते हुए कहा, युवाओं का एक समूह है जो हर दिन प्रशिक्षण में अपना 100 प्रतिशत दे रहा है। यह देखकर अच्छा लगता है कि वे हमें भी अच्छा करने के लिए प्रेरित करते
हैं।

उन्होंने कहा,  निश्चित रूप से, वरिष्ठ खिलाड़ी के रूप में हम टीम में अपनी जगह को लेकर लापरवाह नहीं हो सकते। हमें भी यह दिखाने की जरूरत है कि हम बड़े टूर्नामेंट खेलने की तैयारी में हैं। मेरे अनुसार यह आंतरिक प्रतिस्पर्धा टीम के लिये अच्छी है और हम सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

Hard work of young players नेशन्स कप के लिए कर रही है तैयारी

भारतीय महिलायें बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेल 2022 में शानदार प्रदर्शन के बाद स्पेन के वैलेंसिया में होने वाले नेशन्स कप के लिये बेंगलुरु के राष्ट्रीय खेल प्राधिकरण (साई) में तैयारी कर रही है। भारत को पूल बी में कनाडा, जापान और दक्षिण अफ्रीका के साथ रखा गया है जबकि इटली, आयरलैंड, कोरिया और स्पेन पूल ए में हैं। सुशीला ने अपने अगले अभियान की तैयारियों के बारे में कहा,  हमारे पास एफआईएच विश्व कप और राष्ट्रमंडल खेल 2022 सहित पिछली दोनों प्रतियोगिताओं में अपने प्रदर्शन पर आत्मनिरीक्षण करने के लिए साई में बहुत समय है। हम अब एक नये दृष्टिकोण के साथ प्रशिक्षण ले रहे हैं और उन क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं जिनमें हम इन दो आयोजनों के दौरान चूक गये।
लगातार दो ओलंपिक खेलों में टीम का हिस्सा रही सुशीला ने कहा कि फिटनेस टीम के लिए महत्वपूर्ण पहलुओं में
से एक है।

फिटनेस हमारे प्रदर्शन की कुंजी

उन्होंने कहा,फिटनेस और गति पर काम करना हमारे लिए प्राथमिकता रही है और यह इस शिविर में भी हमारा मुख्य फोकस बना हुआ है। अच्छी गति और इष्टतम फिटनेस स्तर के साथ खेलना ओलंपिक खेलों के दौरान भी हमारे लिये सकारात्मक रहा था जिससे हमें अच्छे परिणाम प्राप्त करने में मदद मिली। नेशन्स कप में भी फिटनेस हमारे प्रदर्शन की कुंजी बनी रहेगी, जहां हमें कम समय में ज्यादा मैच खेलने होंगे।

.