UP: कोरोना की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों का जायजा लेने पहुचे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी

0
97
.

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी तैयारियों को परखने के लिए जिलों में पहुंचे। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी जिलों में पहुंचे। सचिव व विशेष सचिव से लेकर संयुक्त निदेशक स्तर तक के अधिकारियों ने माक ड्रिल कर तैयारियों का आकलन किया।

बता दें, इसमें पीडियाट्रिक आइसीयू (पीकू), आक्सीजन की सुविधा युक्त बेड, आइसीयू बेड, आइसोलेशन बेड और आक्सीजन प्लांट के बारे में जानकारी ली गई। खबर है कि शनिवार को भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी निरीक्षण करेंगे।साथ ही कोरोना टीकाकरण अभियान की स्थिति का भी जायजा लेंगे।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयारियों को परखने के लिए सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) रविंदर हरदोई, स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव प्रांजल यादव रायबरेली, मन्नान अख्तर सीतापुर और राम नगीना मौर्य उन्नाव गए साथ ही संयुक्त निदेशक स्तर के अधिकारियों ने भी निरीक्षण किया।अधिकारियों ने बताया कि बच्चों को कोरोना से बचाने के विशेष इंतजाम किए गए हैं। मेडिकल कालेजों में 6,600 पीकू तैयार किए गए हैं। अब तक मेडिकल कालेजों व अस्पतालों में 344 आक्सीजन प्लांट तैयार किए गए हैं।

मेडिकल कालेजों व जिला अस्पतालों से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) तक पर इलाज की व्यवस्था की गई है। जिला अस्पतालों में आइसीयू व आक्सीजन की सुविधा वाले 40 बेड और सीएचसी पर आक्सीजन की सुविधा वाले 10 बेड व दो एचडीयू बेड की व्यवस्था की गई है। अब तक 6.9 करोड़ टीके लगाए जा चुके हैं। इसमें 1.08 करोड़ ने ही दूसरी डोज लगवाई है। ऐसे में टीके की दूसरी डोज लगवाने पर जोर दिया जा रहा है।

.