नई दिल्ली :- हीरो, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम तैयार करेंगी ईवी चार्जिंग ढांचा

0
81
Hero Hindustan Petroleum
.

Hero Hindustan Petroleum नई दिल्ली :– देश में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) के लिये चार्जिंग का बुनियादी ढांचा स्थापित करने के लिये दुनिया की सबसे बड़ी दोपहिया कंपनी हीरो मोटोकॉर्प और पेट्रोलियम क्षेत्र की महारत्न कंपनी हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने साझेदारी की।

बुनियादी ढांचा स्थापित करेंगी

दोनों कंपनियों ने एक संयुक्त बयान में कहा कि इस पहल के तहत में दोपहिया दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) के लिये चार्जिंग का बुनियादी ढांचा स्थापित करेंगी। इस प्रकार जन-साधारण के यातायात को इलेक्ट्रिफाइड भविष्य की ओर बढऩे के लिये प्रोत्साहन मिलेगा। पहले चरण में, चार्जिंग स्टेशनों की स्थापना चुनिंदा शहरों में होगी और फिर दूसरे महत्वपूर्ण बाजारों में विस्तार किया जाएगा। इसका लक्ष्य देशभर में ईवी चार्जिंग स्टेशनों के नेटवर्क की सघनता को बढ़ाना है।

Hero Hindustan Petroleum स्मार्ट और तेज चार्जर्स टू व्हीलर ईवी के लिये उपलब्ध

बयान में कहा गया है कि चार्जिंग नेटवर्क के लिये बुनियादी ढांचे के विकास का नेतृत्व हीरो मोटोकॉर्प करेगी। हर चार्जिंग स्टेशन में डीसी और एसी चार्जर्स समेत कई स्मार्ट और तेज चार्जर्स टू व्हीलर ईवी के लिये उपलब्ध होंगे। चार्जिंग के लिये यूजर के पूरे अनुभव को हीरो मोटोकॉर्प मोबाइल-ऐप से नियंत्रित किया जाएगा और यह नगद-रहित लेन- देन पर आधारित होगा।

हीरो मोटोकॉर्प के चेयरमैन एवं सीईओ डॉ. पवन मुंजाल ने कहा,हम देश में ईवी का एक मजबूत परितंत्र निर्मित करने के लिये प्रतिबद्ध रहे हैं। हमारा मानना है कि ईवी को आसानी और तेजी से अपनाया जाना तभी संभव होगा, जब ग्राहकों की सहयोगी बुनियादी ढांचे तक आसान और सुविधाजनक पहुँच होगी, खासकर जैसे सार्वजनिक चार्जिंग और एचपीसीएल के साथ हमारा सहयोग इस जरूरत को लंबे समय तक पूरा करेगा।

चार्जिंग का एक मजबूत परितंत्र

एचपीसीएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक डॉ. पुष्प कुमार जोशी ने कहा यह भागीदारी देश में इलेक्ट्रिक चार्जिंग का बुनियादी ढांचा निर्मित करेगी और शुरू से लेकर अंत तक ईवी चार्जिंग समाधान देगी। यह काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि देश में बिकने वाले 60 प्रतिशत से ज्यादा ईवी दो-पहिया हैं और उनके लिये चार्जिंग का एक मजबूत परितंत्र इस समय की जरूरत है, ताकि ई2व्हीलर्स के मालिकों को रेंज की चिंता न रहे।

.