चुनावी रंजिश में घर पर तोड़फोड़, स्कूल बस व स्कार्पियो को किया क्षतिग्रस्त

0
178
.

नवादा: नवादा जिले के नारदीगंज थाना क्षेत्र के परमा गांव में शुक्रवार रात परमा पंचायत की विजयी मुखिया दर्शनिया देवी के समर्थक रामचंद्र प्रसाद के घर पर हमला किया गया। इस दौरान घर पर जमकर पत्थरबाजी भी की गई। साथ ही घर के पास लगी स्कूल बस में आगजनी की गई और स्कार्पियो वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया। घर में संचालित पीएनबी के ग्राहक सेवा केंद्र में भी तोड़फोड़ और लूटपाट की गई। वहीं, जानकारी मिलते ही रात में सदर एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद, नारदीगंज थाना की पुलिस वहां पहुंची और मौके से दर्जन भर लोगों को हिरासत में लिया गया। आरोप विरोधी खेमे के प्रमोद यादव पर है। वैसे दोनों लोगों के बीच कई वर्षों से पुराना विवाद भी चला आ रहा है।

दरअसल, रामचंद्र और उनके परिवार के सभी सदस्य मतगणना को लेकर शुक्रवार को नवादा पहुंचे हुए थे। देर शाम परिणाम की घोषणा होने के बाद विरोधी खेमे ने उनके घर पर हमला कर दिया। इस दौरान घर पर पत्थरबाजी भी की गई। जिसमें घर में लगे सभी शीशे टूट गए। रामचंद्र के भतीजा ज्वाला प्रसाद उर्फ पिंटू सर नवादा में निजी स्कूल का संचालन करते हैं। उनके स्कूल बस और मैजिक वाहन को आग के हवाले कर दिया गया। स्कॉर्पियो को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। ग्राहक सेवा केंद्र में भी तोड़फोड़ की गई।

पीड़ित परिवार का कहना है कि ग्राहक सेवा केंद्र में 12 लाख रुपये की लूट हुई है। घटना के बाबत बताया कि मतदान के दौरान रामचंद्र ने वोगस वोटिंग का विरोध किया था। लिहाजा मतदान के दिन भी उनके साथ मारपीट की गई। शुक्रवार को परिणाम आने के बाद विरोधी खेमे के लोग उग्र हो गए और हमला कर दिया।

रामचंद्र की पत्नी आरती देवी ने बताया कि दो दर्जन से अधिक की संख्या में हमलावर पहुंचे थे। वे सभी उनके बेटे पिंटू को खोज रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि किसी तरह वह खुद को घर में बंद कर ली। जिससे जान बच गई। वे लोग आग में झोंकने की बात कह रहे थे। घटना की जानकारी मिलते ही एसडीपीओ उपेंद्र प्रसाद सहित नारदीगंज, नवादा नगर व मुफस्सिल थाना समेत भारी संख्या में पुलिस बल वहां पहुंच गई और स्थिति पर काबू किया। इस दौरान दर्जन भर लोगों को हिरासत में लिया गया। फिलहाल पुलिस गांव में कैंप कर रही है। गांव में तनाव व्याप्त है।

.