सीतापुर :- मूर्ति स्थापना के विवाद में पुलिस ने ग्रामीणों पर जमकर भांजी लाठियां

0
76
In controversy over installation
.

In controversy over installation सीतापुर :- थाना सदरपुर क्षेत्र के अकबापुर गांव में दुर्गा प्रतिमा स्थापना को लेकर हुए विवाद में पुलिस द्वारा ग्रामीणों को घरों से खींचकर जबरन पिटाई कर थाने ले जाने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया है। मिली जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के अकबापुर गांव के दक्षिणस्कूल के निकट देवस्थान पर ग्रामीणों द्वारा मां दुर्गा आदि की मूर्तियों की नवरात्रि के अवसर पर स्थापना तथा पूजा अर्चना की जा रही थी कि गुरुवार शाम को मूर्ति की स्थापना को लेकर गांव के ही अन्य बिरादरी के लोगों द्वारा विरोध किया गया।

मूर्ति को फेंकवा दिया नहर में

जिससे गांव में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर गुरुवार शाम से ही पुलिस बल तैनात कर दिया गया था और ग्रामीणों को समझाने का लगातार प्रयास किया जा रहा था। मगर शुक्रवार दोपहर मामला शांत न होते देख उपजिलाधिकारी महमूदाबाद मिथिलेश त्रिपाठी, क्षेत्राधिकारी रवि शंकर प्रसाद, एडिशनल एसपी एनपी सिंह समेत पांच थानों की पुलिस ने मोर्चा संभाला और ग्रामीणों की मदद से मूर्ति को उठवा कर शारदा सहायक नहर हुसैनपुर पुल से नहर में डलवा दिया गया और गांव के कई लोगों को जबरन उठा ले गये। जिससे जनता में आक्रोश फूट पड़ा तथा इसी बीच त्यागी महाराज भी आ गए और अनशन पर बैठ गये। त्यागी महाराज ने मामला शांत करवा कर उसी स्थान पर नीम का पेड़ लगवाने और मूर्ति स्थापना की बात करने लगे।

In controversy over installation 150 लोगों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा

मगर इसी बीच किसी ने पुलिस पर कई लोगों को मारने पीटने तथा प्रताड़ना देने जबरन ग्रामीणों को उठा ले जाने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। स्थिति को बिगड़ते देख पुलिस द्वारा ग्राम प्रधान प्रतिनिधि युवराज मौर्य समेत ग्रामीणों पर लाठी चार्ज कर दिया गया और जनता को खदेड़ते हुए गांव में घुसकर जबरन घरों से पकड़ कर पिटाई करने लगे। गांव में दहशत का माहौल है। पुलिस द्वारा करीब 150 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और गांव में पुलिस बल मौजूद था।

.