कोविड की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए पीकू/नीकू बेड की व्यवस्था की गयी- नवनीत सहगल

0
24
Navneet Sehgal
.

लखनऊ. अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ नवनीत सहगल ने बताया कि सीएम योगी आदित्यनाथ के 3टी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट अभियान के साथ-साथ अभिनव प्रयोग करते हुए आशिंक कोरोना कर्फ्यू तथा टीकाकरण से प्रदेश में दूसरी लहर के कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया गया है। इस अभिनव प्रयोग में कोरोना संक्रमण में निरन्तर कमी आ रही है। प्रदेश में सक्रिय मामले कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्ट करने की संख्या घटाई नहीं की जा रही है।

उन्होंने बताया कि 3टी के कारण ही 30 अप्रैल के एक्टिव मामले 3,10,783 घटकर आज 1036 तथा 30 अप्रैल के प्रतिदिन कोविड केस 38 हजार से घटकर आज 55 हो गये है। प्रदेश में कोविड टीकाकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। अब तक लगभग 04 करोड़ 15 लाख कोविड की डोज दी जा चुकी है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में 05 मई से लक्षण युक्त मरीजों को चिन्हित करने का अभियान चलाया गया। सर्विलांस के माध्यम से सरकारी मशीनरी द्वारा उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनसंख्या में से अब तक लगभग 17 करोड़ से अधिक लोगों से उनका हालचाल जाना गया है।

श्री सहगल ने बताया कि संभावित कोविड की तीसरी लहर के दृष्टिगत पर्याप्त संख्या में पीकू/नीकू बेड की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 541 ऑक्सीजन प्लाण्ट में स अब तक 191 प्लाण्ट क्रियाशील हो गये हैं तथा शेष शीघ्र ही क्रियाशील हो जायेंगे। उन्होंने बताया कि वरिष्ठ नागरिकों को त्वरित सहायता के लिए संचालित हेल्प लाइन नंम्बर ‘‘14567’’ सेवा को और को बेहतर किये जाने के निर्देश दिये गये हैं।

.