IND vs ENG: तीसरे टेस्ट के लिए टीम इंडिया में बड़े बदलाव के संकेत, इन दिग्गजों की होगी वापसी

0
125
.

स्पोर्ट्स डेस्क. भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच टेस्ट सीरीज जारी है। दूसरा टेस्ट जीतने के बाद इंडिया ने 4 मैचों की सीरीज को एक-एक से बराबर कर ली है। अब नजरें अहमदाबाद में होने वाले डे-नाइट टेस्ट (Day Night Test) पर है. यह भारत में होने वाला दूसरा पिंक बॉल टेस्ट होगा. इस मैच के लिए टीम इंडिया के प्लेइंग-11 में कुछ बदलाव हो सकते हैं. तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) इस टेस्ट के लिए प्लेइंग-11 में जगह बना सकते हैं. उन्हें दूसरे टेस्ट में आराम दिया गया था. कोरोना के बीच, जब से इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हुई है बुमराह लगातार खेल रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया दौरे की शुरुआत से अब तक वे 180 ओवर से ज्यादा डाल चुके हैं. उनके वर्कलोड को देखते हुए ही टीम मैनेजमेंट ने इंग्लैंड के खिलाफ पहला टेस्ट हारने के बाद भी उन्हें दूसरे में आराम दिया था.

बुमराह तीसरे टेस्ट में प्लेइंग-11 का हिस्सा हो सकते हैं

उनके खेलने की एक वजह यह भी है कि तीसरा टेस्ट पिंक बॉल से खेला जाना है. जो फ्लड लाइट में तेज गेंदबाजों को मदद करती है. ऐसे में तेज गेंदबाजी को मजबूत करने के लिए बुमराह को मौका दिया जा सकता है. अगर ऐसा होता है तो अक्षर पटेल या कुलदीप यादव में किसी एक को टीम से बाहर बैठना होगा. अक्षर के दूसरे स्पिनर के रूप में खेलने की संभावना इसलिए भी ज्यादा है. क्योंकि उन्होंने दूसरे टेस्ट में पांच विकेट लिए. ऐसे में कुलदीप यादव को एक बार फिर टीम से बाहर बैठना पड़ सकता है. इस सूरत में टीम तीन तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा और मोहम्मद सिराज के साथ उतर सकती है. वहीं, स्पिन गेंदबाजी की जिम्मेदार रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल के कंधों पर है.

तीसरे टेस्ट में शमी की भी हो सकती है वापसी

इसके अलावा तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की भी इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट से टीम में वापसी हो सकती है. शमी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में हुए पहले टेस्ट में चोटिल हो गए थे. उनके दाएं हाथ में फ्रैक्चर हो गया था. इसके बाद शमी बीच दौरे से ही भारत लौट आए थे. इसी चोट के कारण उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट के लिए टीम में नहीं चुना गया था. अगर वे पूरी तरह फिट होते हैं, तो वे भी तीसरे टेस्ट की प्लेइंग-11 में शामिल होने के मजबूत दावेदार होंगे. अगर शमी को मौका दिया जाता है. तो उस सूरत में मोहम्मद सिराज को बाहर बैठना पड़ सकता है. उनके खेलने की उम्मीद इसलिए भी ज्यादा है, क्योंकि टीम मैनेजमेंट ने शमी को 20 फरवरी से शुरू हो रही घरेलू विजय हजारे ट्रॉफी में हिस्सा नहीं लेने के लिए कहा है. हालांकि, इसकी तस्वीर तीसरे और चौथे टेस्ट के लिए टीम के ऐलान के बाद ही साफ होगी. फिलहाल, सेलेक्टर्स ने सीरीज के आखिरी दो टेस्ट के लिए टीम का ऐलान नहीं किया है. जल्द ही बाकी बचे दो टेस्ट और इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए टीम का ऐलान हो सकता है.

इसके अलावा टीम की बल्लेबाजी लाइन-अप में भी कुछ बदलाव हो सकते हैं. भारतीय ओपनर शुभमन गिल( Shubhman Gill) इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन फील्डिंग करते समय उनके बाएं हाथ पर चोट लग गई थी. इसी वजह से वे चौथे दिन मैदान पर फील्डिंग के लिए नहीं उतरे थे. 21 साल के इस बल्लेबाज का एहतियात के तौर पर स्कैन कराया गया था. अभी तय यह पता नहीं चल पाया है कि उनकी चोट कितनी गंभीर है. अगर गिल तीसरे टेस्ट तक फिट नहीं होते हैं, तो उनकी जगह मयंक अग्रवाल को रोहित शर्मा के साथ पारी शुरू करने का मौका दिया जा सकता है. मंयक ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर तीन टेस्ट खेले थे. लेकिन वे एक बार भी पचास रन का आंकड़ा नहीं पार कर पाए थे. खराब फॉर्म की वजह से ही उन्हें टीम से बाहर किया गया था. ऐसे में अगर शुभमन गिल नहीं खेलते हैं तो वे बतौर ओपनर टीम में शामिल हो सकते हैं. गिल ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में 29 और 50 रन की पारी खेली थी.

पंड्या को भी मौका मिल सकता है

तीसरा टेस्ट डे-नाइट होने की वजह से हार्दिक पांड्या को भी बतौर ऑलराउंडर टीम में शामिल किया जा सकता है. उन्होंने दूसरा टेस्ट खत्म होने के बाद पिंक बॉल से नेट्स पर बल्लेबाजी की प्रैक्टिस भी की थी. हालांकि, वे गेंदबाजी करते नहीं दिखे थे. 2018 के बाद से ही पंड्या ने भारत के लिए कोई टेस्ट नहीं खेला है. वे पीठ की चोट के बाद से ही लंबे फॉर्मेट से दूर हैं. ऐसे में अगर वे पूरी तरह फिट होंगे, तो प्लेइंग-11 में नजर आ सकते हैं. पंड्या के खेलने की सूरत में या टीम मैनेजमेंट एक तेज गेंदबाज कम खिला सकती है. हालांकि, यह फैसला मोटेरा की नई पिच देखने के बाद ही लिया जाएगा.

भारत और इंग्लैंड के बीच गुलाबी गेंद से टेस्ट दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा पर 24 फरवरी से खेला जाएगा. बता दें कि भारत में इससे पहले बांग्लादेश के खिलाफ 2019 में कोलकाता में गुलाबी गेंद से टेस्ट खेला गया था, जिसमें टीम इंडिया ने जीत हासिल की थी.

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here