Ind vs Eng: ईशांत शर्मा सबसे खराब गेंदबाज, माइकल वॉन बोले- समी से क्यों नहीं कराई बॉलिंग? कोहली को देना होगा जवाब

0
47
.

स्पोर्ट्स डेस्क. भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज जारी है। टीम इंडिया 1-0 से बढ़त बनाए हुए है। तीसरा टेस्ट लीड्स में खेला जा रहा है। लीड्स टेस्ट की पहली पारी में भारत के महज 78 रनों पर सिमटने के बाद इंग्लैंड ने पहली पारी में 432 रनों का विशाल स्कोर बनाया. इंग्लैंड को 354 रनों की विशाल बढ़त मिली.

अब इस मैच (India vs England, 3rd Test) में भारत की वापसी करना बेहद मुश्किल हो गया है क्योंकि दूसरी पारी में हमेशा रन बनाना ज्यादा मुश्किल होता है, खैर क्रिकेट में कुछ भी नामुमकिन नहीं. वैसे इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर भारतीय टीम के खराब प्रदर्शन को देखकर उसपर निशाना साधने से बाज नहीं आ रहे हैं. इसी कड़ी में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की रणनीति और इशांत शर्मा (Ishant Sharma) पर जमकर निशाना साधा.

माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने कहा कि इशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने भारत की ओर से सबसे खराब गेंदबाजी की और हैरानी की बात ये है कि विराट कोहली (Virat Kohli) ने दोनों ही दिन सबसे पहले उन्हीं से गेंदबाजी की शुरुआत कराई. वॉन ने कहा, ‘आप दिन के शुरुआती हिस्से को देखिए. इशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने सभी भारतीय गेंदबाजों में सबसे खराब गेंदबाजी की. अगले दिन भी विराट कोहली (Virat Kohli) ने यही किया. आप दिन के पहले घंटे में अपने बेस्ट गेंदबाज से गेंदबाजी कराते हो जो कि जसप्रीत बुमराह हैं. मुझे नहीं पता कि किन कारणों की वजह से शमी को नई गेंद नहीं दी जाती. विराट कोहली (Virat Kohli) को इन सवालों का जवाब देना होगा.’

विकेट लेने में नाकाम रहे इशांत शर्मा (Ishant Sharma)

बता दें इशांत शर्मा (Ishant Sharma) लीड्स टेस्ट की पहली पारी में एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए. इशांत ने 22 ओवरों में 92 रन खर्च किये और उनका इकॉनमी रेट भी 4.20 रहा. जो कि टेस्ट के लिहाज से काफी ज्यादा है. इशांत शर्मा (Ishant Sharma) की लाइन लेंग्थ काफी खराब रही, यही वजह है कि वॉन उनपर सवाल खड़े कर रहे हैं. भारत के लिए पहली पारी में शमी ने सबसे ज्यादा 4 विकेट हासिल किये. जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) और रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) को 2-2 कामयाबियां मिली.

जो रूट के शतक के दम पर जीत की दहलीज पर इंग्लैंड

बता दें इंग्लैंड ने पहली पारी में 432 रन बनाए और उसके कप्तान जो रूट ने 121 रनों की बेहतरीन पारी खेली. रूट ने सीरीज में लगातार तीसरा शतक ठोका. रूट के अलावा डेविड मलान ने 70, हसीब हमीद ने 68 और रॉरी बर्न्स ने 61 रनों की पारी खेली. बता दें इंग्लैंड को भारत पर पांचवीं सबसे बड़ी बढ़त हासिल हुई है. साल 2011 में इंग्लैंड ने एजबेस्टन टेस्ट में भारत पर 486 रनों की बढ़त हासिल की थी और वो टेस्ट मेजबान टीम जीती थी.

.