IPL 2021: नीलामी के दौरान पंजाब किंग्स ने कर दी बहुत बड़ी चूक, हर मैच में खलेगी इस खिलाड़ी की कमी…

0
104
.

स्पोर्ट्स डेस्क. IPL के 14वें सीजन का काउंटडाउन शुरू हो गया है। IPL 2021 से जुड़ी तैयारियों को देखते हुए कयास लगाये जा रहे हैं, कि अप्रैल में IPL का आगाज हो जाएगा। IPL 2021 के ऑक्शन में 57 खिलाड़ियों की नीलामी हुई है। IPL 2021 में टाइटल स्पॉन्सर वीवो होगा. नीलाम के दौरान सभी टीम मैनेजमेंट ने अपनी अपनी रणनीति के हिसाब से खिलाड़ियों पर दांव लगाया है. इस नीलामी में सबसे ज्यादा नजरें पंजाब किंग्स (Punjab Kings) पर थीं, क्योंकि इनके पर्स में करीब 53 करोड रुपए थे, ऐसे में सभी देखना चाह रहे थे कि वह किन खिलाड़ियों पर दांव लगाएंगे. उन्होंने अपनी जरूरत के हिसाब से खिलाडी खरीदे भी. लेकिन इसके बावजूद देखा जाए तो खरीददारी करते वक्त पंजाब की टीम ने बहुत बड़ी चूक कर दी है।

नीलामी के दौरान पंजाब टीम ने बल्लेबाज और गेंदबाजी पर तो ध्यान दिया, लेकिन टीम के पास एक भी ऐसा ऑलराउंडर (All Rounder) नहीं है जो अपनी बल्लेबाजी या गेंदबाजी के दम पर मैच को पलटने की क्षमता रखता हो. इस बार हर टीम ने एक ऑलराउंडर (All Rounder) को शामिल करने पर जोर दिया. यही कारण रहा कि अफ्रीकी खिलाड़ी क्रिस मोरिस (Chris Morris) की बोली 16 करोड से ऊपर चली गई. ग्लेन मैक्सवेल भी पहले से अधिक दाम में बिके.

टीम ने ऑलराउंडर (All Rounder) पर नहीं लगाया दांव

आईपीएल ऑक्शन से पहले पंजाब टीम के कप्तान केएल राहुल ने कहा था कि उन्हें टीम में एक मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज की जरूरत है जो टीम को मैच जिता सके. और एक तेज गेंदबाज की. ऐसे में टीम मैनेजमेंट ने इंग्लैंड के खिलाड़ी डेविड मालान और तमिलनाडु के बल्लेबाज शाहरुख खान को खरीदकर इस कमी को पूरा करने की कोशिश की. लेकिन उन्हेांने अपना ध्यान ऑलराउंडर (All Rounder) खिलाड़ी की ओर नहीं लगाया.

पंजाब टीम के पास देखा जाए तो कोई भी बडा ऑलराउंडर (All Rounder) मौजूद नहीं है. सभी टीमों के पास बडे बडे ऑलराउंडर (All Rounder) मौजूद हैं, लेकिन पंजाब की टीम का हाथ इस मामले में तंग है. दीपक हुड्डा ने पिछले सीजन में कुछ मैचों में बल्लेबाजी में हाथ दिखाए थे, लेकिन उनका अभी पूरी तरह से ऑलराउंडर (All Rounder) की भूमिका में आने का सफर लंबा होगा.

तेज गेंदबाज के लिए खर्च दिए 14 करोड

पंजाब की टीम को एक तेज गेंदबाज चाहिए था और उसने उसे खरीदा भी, लेकिन ये तेज गेंदबाज उसने काफी पैसे खर्च कर खरीदा. ये हैं झाय रिचर्डसन. इस तेज गेंदबाज को टीम ने 14 करोड रुपए में खरीदा. जबकि 1 करोड से कुछ ज्यादा की रकम में वह उमेश यादव (Umesh Yadav) जैसे गेंदबाज को खरीद सकती थी, जो मोहम्मद शमी (Mohammad shami) के साथ मिलकर और मारक बनते. साथ ही टीम में एक विदेशी खिलाड़ी की जगह बना सकते थे.

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here