IPL Auction 2022: आईपीएल की सबसे महंगी फ्रेंचाइजी बन लखनऊ की टीम ने रचा इतिहास

0
118
.

Sports Desk: आईपीएल 2022 के लिए दो नई टीमों का एलान हो चुका है। लखनऊ और अहमदाबाद आईपीएल 2022 की दो नई टीमें होंगी। 7 हजार 90 करोड़ में बिकने वाली लखनऊ आईपीएल इतिहास की सबसे महंगी फ्रेंचाइजी बन चुकी है।

संजीव गोयनका के आरपीएसजी ग्रुप ने एक बार फिर आईपीएल में निवेश किया है। सोमवार को दुबई में ऑक्शन के दौरान इस ग्रुप ने 7 हजार 90 करोड़ में लखनऊ की टीम खरीदी। इसके साथ ही लखनऊ आईपीएल इतिहास की सबसे महंगी फ्रेंचाइजी बन चुकी है। इससे पहले मुंबई आईपीएल इतिहास की सबसे महंगी फ्रेंचाइजी थी, जिसकी कीमत 839 करोड़ थी। इस टीम को खरीदने वाला आरपीएसजी ग्रुप इससे पहले भी आईपीएल में टीम खरीद चुका है। साल 2016 में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स की टीम इसी ग्रुप के पास थी। यह टीम दो साल तक आईपीएल में खेली थी और एक बार फाइनल में भी पहुंची थी।

यह टीम खरीदने के बाद संजीव गोयनका ने कहा “आईपीएल में वापसी करके बेहद खुश हैं। यह इंतजार काफी लंबा था। इस बोली के लिए हमने काफी प्लान किया था। मैं लीग में शामिल होने वाले सभी लोगों का धन्यवाद करना चाहूंगा। यह वापसी बेहद सुखद है।”

7 हजार 90 करोड़ में बिकने वाली लखनऊ की फ्रेंचाइजी की कीमत इस टूर्नामेंट में पहले से शामिल आठ फ्रेंचाइजी की शुरुआती कीमत से ज्यादा है। आईपीएल में पहले से ही आठ फ्रेंचाइजी शामिल हैं, जिनकी शुरुआती कीमत का कुल योग 5 हजार 425 करोड़ है। इस लिहाज से लखनऊ की कीमत बाकी टीमों के कुल योग से 1 हजार 665 करोड़ ज्यादा है। वहीं अहमदाबाद आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे महंगी टीम बनी है, जिसे सीवीसी कैपिटल्स ग्रुप ने 5 हजार 166 करोड़ में खरीदा है।

लखनऊ के सबसे महंगी टीम बनने पर लोगों ने जताई खुशी, लखनऊ फ्रेंचाइजी के आईपीएल की सबसे महंगी टीम बनने पर उत्तर प्रदेश के लोगों ने खुशी जताई है। यह पहला मौका है, जब देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के किसी शहर के नाम पर आईपीएल टीम बनाई गई है। लोगों का मानना है कि इससे उनके राज्य को बढ़ावा मिलेगा और ज्यादा संख्या में पर्यटक आएंगे। राज्य में पर्यटन बढ़ने से यहां का बुनियादी ढांचा बेहतर होगा और लोगों को ज्यादा रोजगार मिलेगा।

लखनऊ का भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम होगा होम ग्राउंड
इकाना स्टेडियम में पिछले कुछ समय में काफी मैच हुए हैं। इस स्टेडियम को भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है। इसमें करीब 50 हजार दर्शकों के बैठने की क्षमता है। बीसीसीआई ने जुलाई 2019 में इसे अफगानिस्तान क्रिकेट टीम का भारत में तीसरा होम ग्राउंड घोषित किया था। 2019 में अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच हुए सभी मैचों की मेजबानी इसी मैदान को मिली थी। इसके अलावा मार्च में भारतीय महिला टीम और दक्षिण अफ्रीकी महिला टीम के बीच हुए 5 वनडे और 3 टी-20 मैच भी इकाना स्टेडियम में ही कराए गए थे।

अंतरराष्ट्रीय इक्विटी निवेश फर्म सीवीसी कैपिटल की 5,600 करोड़ रुपये की बोली दूसरे नंबर पर रही। इसके आधार पर उन्हें अहमदाबाद की टीम दी गई। अहमदाबाद में दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है, इसलिए सब लोग यह अनुमान लगा रहे थे कि वह की टीम महंगी बिकेगी, लेकिन हुआ इसका उलट। एक बात और बीसीसीआइ ने दो नई टीमों के लिए छह शहरों अहमदाबाद, लखनऊ, इंदौर, धर्मशाला, कटक और रांची को रखा था, लेकिन एक को छोड़कर बाकी सभी ने सिर्फ दो टीमों लखनऊ और अहमदाबाद के लिए बोली लगाई।

मैनचेस्टर युनाइटेड का स्वामित्व रखने वाले ग्लेजर समूह और टोरेंट समूह की बोली भी शीर्ष दो बोली में शामिल नहीं रही। 22 कंपनियों ने 10 लाख रुपये का निविदा दस्तावेज खरीदा था, लेकिन नई टीमों का आधार मूल्य 2,000 करोड़ रुपये होने के कारण आठ समूह ही बोली लगाने के लिए क्वालीफाई कर सके।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने कहा है, “यह उत्तर प्रदेश के लिए गर्व की बात है। इससे उत्तर प्रदेश के क्रिकेटरों का भला होगा। इसके लिए राजीव शुक्ला और संजीव गोयनका को बधाई। लखनऊ में इतना बढ़िया स्टेडियम बनाने के लिए उदय सिन्हा को बधाई।”

400 करोड़ से 7,090 करोड़ तक का सफर

2008 में आइपीएल की सबसे महंगी टीम मुंबई इंडियंस थी, जिसे मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडिया लिमिटेड ने 111.9 मिलियन अमेरिकी डालर (तब के 504 करोड़ रुपये) में खरीदा था और सबसे सस्ती टीम 67 मिलियन डालर (तब के 302 करोड़ रुपये) के साथ राजस्थान रायल्स थी। 2021 में अब सबसे महंगी टीम उससे कई गुना महंगी बिकी है।

किसने-किसके लिए कितनी बोली लगाई

बोली लगाने वाले,  ग्रुप,  अहमदाबाद,  लखनऊ,  इंदौर

अदाणी स्पो‌र्ट्स लाइन, अदाणी समूह, 5100, 5100, –

अमृतलीला इंटरप्राइसेज, कोटक, 4513, 4512, –

अवश्य कार्पोरेशन, अल कार्गो, 4140, 4304, –

कापड़ी ग्लोबल, कापड़ी समूह, 4024, 4204, –

चैंपियनशिप क्रिकेट, लांसर कैपिटल-अवराम ग्लेजर, 4128.65, 4023.99, –

इरेला कंपनी, सीवीसी, 5625, 5166, –

टोरेंट स्पो‌र्ट्स, टोरेंट, 4653, 4356, –

आरपीएसजी वेंचर्स, आरपीएसजी ग्रुप, 7090, 7090, 4790

.