कंगना रनौट का बड़ा फैसला- BMC के खिलाफ दायर केस बिना किसी शर्त के वापस लिया…

0
140
.

बॉलीवुड डेस्क. बॉलीवुड की पंगा गर्ल के नाम से मशहूर एक्ट्रेस कंगना रनौट अक्सर अपने बेबाक बयानों को लेकर सुर्खियों में रहती हैं। वहीं पिछले साल बीएमसी की कार्यवाही के बाद एक्ट्रेस और बीएमसी के बीच एक जंग छिड़ गई थी। लेकिन अब मामला शांत होता नजर आ रहा है। एक्ट्रेस कंगना रनोट ने BMC के खिलाफ दायर मुकदमे को बिना शर्त वापस ले लिया है। बीएमसी ने साल 2018 में एक्ट्रेस के खार स्थित घर (फ्लैट) के अंदर किए गए कथित अवैध निर्माण को लेकर नोटिस भेजा था। जिसके बाद एक्ट्रेस ने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाते हुए इस नोटिस को रद्द करने की अपील की थी। कंगना के लिए केस लड़ रहे वकील विरेंद्र सराफ ने आज अदालत में इस केस को वापस लेने की जानकारी दी है।

अदालत ने आज सुनवाई के दौरान स्पष्ट किया कि एक्ट्रेस अगले 4 हफ्ते के अंदर फ्लैट में हुए निर्माण के नियमितीकरण के लिए आवेदन कर सकती हैं और BMC को तोड़फोड़ की कार्रवाई से पहले इसपर कोई भी निर्णय लेना होगा। अगर बीएमसी का आदेश कंगना के खिलाफ होता है तो वे आवेदन खारिज होने के दो सप्ताह बाद तक अदालत का फिर से रुख कर सकती हैं। इसपर कंगना के वकील ने और दो अतरिक्त सप्ताह का समय मांगा, जिसको लेकर बीएमसी ने इसपर जताई थी।

बिना शर्त के वापस लिया केस

कंगना की ओर से पहले कहा गया था कि उन्होंने डेवेलपर द्वारा किए निर्माण में कोई बदलाव नहीं किया है। इसपर बीएमसी ने विरोध जताया था। बाद में जस्टिकस पृथ्वीराज चव्हाण ने कंगना के वकील ने पूछा कि ये मुकदमा वापसी किसी शर्त के साथ है या बिना शर्त के। इसपर कंगना के वकील ने कहा कि ये मुकदमा वे बिना किसी शर्त के वापस ले रहे हैं।

कंगना के एक ही इमारत में तीन फ्लैट

बीएमसी ने सितंबर 2020 में कंगना के घर में अवैध निर्माण करने की बात कहते हुए नोटिस जारी किया था। कंगना रनौत मुंबई के खार वेस्ट स्थित DB Breeze ( Orchid Breeze ) के 16 नंबर रोड के एक इमारत के 5वें मंजिल पर रहती है। इस मंजिल पर कंगना के कुल 3 फ्लैट है, जिनमें से एक फ्लैट 797 Sqft + दूसरा फ्लैट 711Sqft + तीसरा फ्लैट 459 Sqft का है। यह तीनों फ्लैट कंगना के नाम पर 8 मार्च 2013 में रजिस्टर्ड हुए हैं।

कंगना के फ्लैट लेने के 5 साल बाद 13 मार्च 2018 में बीएमसी को इन फ्लैट्स के अंदर किये गए अवैध निर्माण की शिकायत प्राप्त हुई थी। शिकायत के बाद 26 मार्च 2018 में बीएमसी की तरफ से कंगना के तीनों फ्लैट्स का मुआयना किया गया और उसी दिन कंगना को BMC Under 53/1 of MRTP act for unauthorized construction beyond plan के तहत नोटिस भेजा था। इस नोटिस को 27 मार्च 2018 को बीएमसी ने मंजूरी दी थी। इस नोटिस में बीएमसी ने कंगना रनौत को एक महीने में बीएमसी के अनधिकृत निर्माण हटाने के लिए या बीएमसी को इस पर जवाब देने के लिए कहा गया था।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here