लखनऊ: अम्बेडकरवादी लोग ही समाज की दशा व दिशा बदलने की क्षमता रखते है : लक्ष्य

0
367
.

लखनऊ. लक्ष्य की लखनऊ टीम ने लक्ष्य कमांडर रेखा कुमारी के नेतृत्व में एक कैडर कैम्प का आयोजन लखनऊ के काकोरी के गांव सिकरोरी में किया जिसमें गांववासियों ने विशेषतौर से महिलाओं व युवाओं ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया और बच्चों ने महापुरुषों के योगदान पर गीत व नाटक के माध्यम से शानदार प्रस्तुति दी।

यहाँ यह बता दें कि लक्ष्य की महिला कमांडर गांव गांव जाकर बहुजन समाज को जागरूक करने में दिनरात जुटी है और सामाजिक क्षेत्र में उनका नेतृत्व उभर कर आ रहा है, जिसकी तस्वीर समाज में साफ दिखाई देने लगी है।

अम्बेडकरवाद समानता का पाठ पढ़ाता है जो जाति, धर्म व क्षेत्रवाद की बेड़ियों से परे है। शोषण, अत्याचार व ऊंचनीच के खिलाफ आवाज उठाने की ताकत देता है, अच्छे बुरे का भेद बतलाता है, महिलाओं को बराबरी का हक देता है और जो लोग इस विचारधारा से ओतप्रोत होते है और इनको लेकर ईमानदारी से कार्य करते है वही अम्बेडकरवादी कहलाते है उनकी कथनी करनी में कोई फर्क नहीं होता है। ऐसे अम्बेडकरवादी लोग ही समाज की दशा व दिशा बदलने की क्षमता रखते है और इसका बहुत बड़ा उदाहरण है मान्यवर कांशीराम जी, यह बात लक्ष्य की महिला कमांडरों ने अपने सम्बोधन में कही।

उन्होंने बहुजन समाज के लोगों से आवाह्न करते हुए कहा कि आओ मिलकर अम्बेडकरवाद को मजबूती प्रदान करें ताकि देश के सभी नागरिकों को संविधान में प्रदत अधिकार मिल सके अर्थात् सभी को विकास की किरणे मिल सके।

इस कैडर कैम्प में लक्ष्य कमांडर रेखा कुमारी, रेखा आर्या, संघमित्रा गौतम, रश्मि गौतम, चेतना राव, राजकुमारी कौशल, कंचन नैना, देवकी बौद्ध, सुनीता राज बौद्ध, सुजाता सिंह,पूनम बौद्ध, बन्दना,अनुष्का गौतम,मंजुला आनन्द व लक्ष्य युथ कमांडर इं. अखिलेश गौतम, ऐ के आनंद, रंजीत कुमार, इं. राहुल कुमार,कालीचरन गौतम, ऋषभ श्रीवास,विनय प्रेम, कुलदीप बौद्ध,अयोध्या प्रसाद, प्रदीप बौद्ध, इं.मोहन लाल, जी पी चौधरी, एस पी कौशल, शुद्धोधन कुमार, सुशील कुमार,एस आर गौतम, मोहित गौतम, धर्मराज गौतम, शैलेन्द्र आर्या, एम एल आर्या ने हिस्सा लिया।

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here